काढ़ा के फायदे और साइडइफेक्ट्स क्या है

कोरोना महामारी नें हम सभी को यह अहसास दिला दिया है, कि हमें अपनें प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune System) को मजबूत बनाये रखना कितना आवश्यक होता है | वर्तमान समय में हालात बेकाबू हो चुके है, ऐसे में लोग अपनें को इस खतरनाक संक्रमण से बचनें के लिए कई उपाय कर रहे है | इस समय लोग अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक काढ़ा का सेवन सबसे अधिक कर रहे है |

यहाँ तक कि स्वास्थ्य विशेषज्ञ भी इम्यूनिटी मजबूत करने के लिए काढ़ा लेने की सलाह दे रहे है, परन्तु काढ़ा सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकता है | काढ़ा के फायदे और साइडइफेक्ट्स क्या है,काढ़ा सेवन का सही तरीके के बारें में यहाँ पूरी जानकारी दे रहे है |

कोरोना वायरस (Coronavirus) क्या है

काढ़ा के फायदे और साइडइफेक्ट्स (Benefits & Side Effects of Kadha)

कोरोना का बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगो नें अपनें प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनानें के लिए अनेक प्रकार के उपाय कर रहे है | इसमें से कई तरह के घरेलु और आयुर्वेदिक उपचार शामिल है | आजकल लोग घरों में सबसे अधिक काढ़ा का सेवन कर रहे है | हालाँकि काढ़ा हमारे इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाता है, परन्तु कुछ लोगो नें इसे दिन में 3 से 5 बार तक लेना शुरू कर दिया है, जो हमारे लिए हानिकारक साबित हो सकता है | काढ़ा के सेवन से मिलनें वाले अधिकतम लाभों को प्राप्त करने के लिए इसके सेवन के सही तरीके के बारे में जानना आवश्यक है |  

Corona Kavach App डाउनलोड कैसे करे

काढ़ा सेवन का सही तरीका (The Right Way To Consume Kadha)

अपनें शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए काढ़ा का सेवन करते समय कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना अत्यंत आवश्यक है, जो इस प्रकार है- 

1.काढ़ा बनाते समय अधिक उबाले नहीं

कुछ लोग यह समझते है, कि काढ़ा में अधिक मसाले मिलाने और अधिक उबालने से इससे अधिक फायदा मिलेगा, परन्तु ऐसा नहीं है क्योंकि काढ़े को अधिक उबालने से यह कड़वा हो जाएगा और लाभाकरी चीजों का प्रभाव कम हो जायेगा |

CoWIN Covid-19 Vaccine Registration Online

2. प्रतिदिन सिर्फ एक कप काढ़ा ले

यदि आप सोंचते है कि एक दिन में 3 से 5 बार काढ़ा पीने से आपका इम्यून सिस्टम काफी मजबूत हो जायेगा, तो ऐसा बिल्कुल भी नही है | काढ़े का अधिक सेवन आपके अन्दर नई समस्याएँ उत्पन्न हो सकती है, इसलिए आप दिन में सिर्फ एक कप काढ़ा ही ले |

3. कुछ ठन्डे मसालों का उपयोग करे

दरअसल काढ़ा में पड़ने वाले सभी मसालों की तासीर गर्म होती है, इसलिए इस बात का ध्यान रखे कि कुछ ठन्डे मसालों को भी मिलाना अत्यंत आवश्यक है | इससे आपको पेट से सम्बंधित समस्याएँ नहीं होंगी | इसके लिए आप इलायची और गुलाब की पंखुड़ियों को मिला सकते है, क्योंकि इनकी तासीर ठंडी होती है |

ड्राई रन क्या होता है

4.अधिक गर्म भोजन न करे

काढ़ा पीने से हमारे शरीर में गर्मी उत्पन्न होती है, जिससे स्किन में सूखापन और चेहरे पर मुहासे भी निकल सकते है, इसलिए इससे बचनें के लिए हमें सदेव ठंडा भोजन लेना चाहिए |

5.नियमित रूप से काढ़ा का सेवन न करे

यदि काढ़ा पीने से आपको किसी प्रकार की समस्या हो रही है, तो इसे नियमित रूप से न लेकर सप्ताह में 2 बार ही ले अथवा कुछ दिनों के लिए इसका इस्तेमाल बिल्कुल ही बंद कर दें |

रेमडेसिवीर (Remdesivir) क्या है

काढ़ा के साइडइफेक्ट्स होने पर दिखनें वाले लक्षण (Symptoms Seen When There Are Side Effects Of Kadha)

काढ़ा के साइडइफेक्ट्स होने पर दिखनें वाले लक्षण इस प्रकार है- 

  • पेट में जलन होना
  • पेशाब करते समय जलन होना
  • पेचिश और अपच जैसी समस्या होना
  • नाक से खून बहना
  • मुंह में छाले पड़ना
  • अचानक चक्कर आना
  • आंखों के सामनें अंधेरा होना
  • त्वचा पर दानों का निकलना
  • तेजी से वजन में कमी होना
  • गैस, अपच और कब्ज की समस्या

बीसीजी (BCG) का टीका क्या होता है

काढ़ा के साइडइफेक्ट्स से बचनें के उपाय (Tips To Avoid The Side Effects Of Kadha)

यदि आप काढ़े से होनें वाले साइडइफेक्ट से बचना चाहते है, तो काढ़े को बनाते समय कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना अत्यंत आवश्यक है | सबसे पहले आप काढ़ा बनाते समय इसमें मिलायी जानें वाली चीजों की मात्रा पर विशेष ध्यान रखे और उचित मात्र में ही जड़ी-बूटियों का उपयोग करे | यदि काढ़े के सेवन से आपको किसी तरह की कोई समस्या हो रही है, तो काढ़े में पानी की मात्रा बढ़ाने के साथ ही काली मिर्च और सोंठ आदि की मात्र कम कर दे | 

दरअसल काढ़े के साइडइफेक्ट के पीछे कोई खास करना नही है, बल्कि काढ़े को जिन आयुर्वेदिक चीजों से मिलाकर बनाया जाता है, उनकी वजह से कुछ नुकसान हो सकते है | इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि सभी का शरीर एक जैसा नहीं होता है | मुख्य रूप से काढ़ा तैयार करनें में काली मिर्च, सोंठ, पीपली, दालचीनी, हल्दी, गिलोय, अश्वगंधा जैसी आयुर्वेदिक चीजों का उपयोग किया जाता है और इस सभी की तासीर काफी गर्म होती है | जिससे हमारे शरीर में एलर्जिक रिएक्शन हो सकता है |

महामारी अधिनियम (एपिडेमिक एक्टक्या है

यहाँ आपको काढ़ा के फायदे और नुकसान से सम्बन्धित जानकारी प्रदान कराई गई है | यदि आप इससे रिलेटेड अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप  www.hindiraj.com पर विजिट करे | इसके साथ अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से दे सकते है | हमे आपके सुझावों का इन्तजार है | आपकी प्रतिक्रिया का शीघ्र उत्तर दिया जायेगा |

सांइटिज़ेर क्या होता है

Leave a Comment