भारत रत्न क्या होता है

Bharat Ratna Explained in Hindi

देश के आज़ादी आन्दोलन से लेकर देश की समृद्धि और ख्याति बढ़ाने वाले नागरिको को भारत सरकार समय समय उन्हें उनके विषय से संबधित पुरस्कार देकर सम्मानित करती रहती है, इसमें से ही एक है भारत रत्न | यह भारत सरकार द्वारा दिए जाने वाला देश का बढ़ा सम्मान है जोकि उन लोगो को दिया जाता है जिनसे भारत देश का मान, सम्मान उनके अपने क्षेत्र में उत्‍कृ‍ष्‍ट कार्य के कारण बढ़ा है | आज है भारत रत्न के विषय में ही आपको समस्त प्रकार की जानकारी प्रदान करेंगे और साथ ही आपकी सारी शंका का हल इसी लेख से हो जाएगा | आज जानेगे भारत रत्न (Bharat Ratna) क्या होता है, ये किसे दिया जाता है और क्यूँ दिया जाता है और साथ ही इसका स्थापना कैसे और कब हुई थी |

डॉ भीमराव अम्बेडकर का जीवन परिचय

क्या है भारत रत्न | What is Bharat Ratna

भारत रत्न, भारत सरकार के द्वारा दिया जाने वाला सर्वौच नागरिक सम्मान है जोकि किसी भी नागरिक को कला, साहित्‍य और विज्ञान के क्षेत्र में उत्‍कृ‍ष्‍ट कार्य करने वाले को दिया जाता है | भारत रत्न हर साल दिया जाए यह कतई जरूरी नहीं है | सम्मान के रूप में 35 मिलिमीटर व्‍यास वाला गोलाकार स्‍वर्ण पदक, जिस पर सूर्य और ऊपर हिन्‍दी भाषा में ”भारत रत्‍न” तथा नीचे एक फूलों का गुलदस्‍ता मुद्रित होता है, उस व्यक्ति को दिया जाता है | इसे सफ़ेद फीते में डालकर पहनाया जाता है, हालाकि इसमें यह प्रचलन अब बदल चूका है |

भारत रत्न प्राप्त करते हुए सचिन तेंदुलकर

भगत सिंह का जीवन परिचय

भारत रत्न कब से शुरू हुआ?

भारत रत्‍न पुरस्‍कार की यह भव्य परम्‍परा 1954 से अस्तित्व में आई थी तथा भारत देश का पहला भारत रत्न पुरस्‍कार प्रसिद्ध वैज्ञानिक चंद्र शेखर वेंकटरमन को दिया गया था | भारत रत्न का कोई लिखित प्रावधान नहीं और इसकी कोई समय सीमा भी नहीं है | इसके साथ भी भारत रत्न किसी भी भारतीय के अलावा गैर – भारतीय को दिया जा सकता है | मदर टेरेसा, नेल्सन मंडेला ऐसे गैर भारतीय है जिन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया जा चूका है | भारत रत्न किसी भी उत्‍कृ‍ष्‍ट व्यक्ति को मरनोपरांत भी दिया गया जा सकता है जिसका प्रावधान 1955 में कर दिया गया था |

वीर सावरकर का जीवन परिचय

भारत रत्न किसे दिया जाता है?

भारत का यह उच्चतम सम्मान साहित्य, विज्ञान के क्षेत्र में तथा किसी राजनीतिज्ञ, विचारक, वैज्ञानिक, उद्योगपति, लेखक और समाजसेवी के क्षेत्र में उत्‍कृ‍ष्‍ट कार्य के लिए दिया जाता है | भारत के प्रधानमन्त्री की सिफारिश पर भारत के राष्ट्रपति के द्वारा यह सम्मान चयनित व्यक्ति को राष्टपति भवन में दिया जाता है | सम्मान में भाग लेने वाले व्यक्ति को सरकार द्वारा सरकार वॉरंट ऑफ प्रिसिडेंस में स्थान दिया जाता है |

आपको बता दे कि भारत रत्न से सम्मानित व्यक्ति को प्रोटोकॉल में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, पूर्व राष्ट्रपति, मुख्य न्यायाधीश, लोकसभा अध्यक्ष, कैबिनेट मंत्री, मुख्यमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री और संसद के दोनों सदनों में विपक्ष के नेता के बाद स्थान दिया जाता है और साथ ही उन्हें सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की सुविधाए प्रदान की जाती है |

ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेताओं की सूची

भारत रत्न विजेता की सूची 1947 से वर्तमान तक

वर्षनामजीवन काल
1954डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन(05 सितंबर, 1888-17 अप्रैल, 1975)
1954चक्रवर्ती राजगोपालाचारी(10 दिसंबर, 1878-25 दिसंबर, 1972)
1954डॉ. चन्‍द्रशेखर वेंकटरमण(07 नवंबर, 1888-21 नवंबर, 1970)
1955डॉ. भगवान दास(12 जनवरी, 1869 -18 सितंबर, 1958)
1955सर डॉ॰ मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या(15 सितंबर, 1860-12 अप्रैल, 1962)
1955पंडित जवाहर लाल नेहरु(14 नवंबर, 1889-27 मई, 1964)
1957गोविंद वल्लभ पंत(10 सितंबर, 1887-07 मार्च, 1961)
1958डॉ॰ धोंडो केशव कर्वे(18 अप्रैल, 1858-09 नवंबर, 1962)
1961डॉ॰ बिधन चंद्र रॉय(01 जुलाई, 1882-01 जुलाई, 1962)
1961पुरूषोत्तम दास टंडन(01 अगस्त, 1882-01 जुलाई, 1962)
1962डॉ॰ राजेंद्र प्रसाद(03 दिसंबर, 1884-28 फरवरी, 1963)
1963डॉ॰ जाकिर हुसैन(08 फरवरी, 1897-03 मई, 1969)
1963डॉ॰ पांडुरंग वामन काणे(07 मई 1880-08 मई 1972)
1966लाल बहादुर शास्त्री(02 अक्टूबर, 1904-11 जनवरी, 1966), मृत्यु के बाद
1971इंदिरा गाँधी(19 नवंबर, 1917-31 अक्टूबर, 1984)
1975वराहगिरी वेंकट गिरी(10 अगस्त, 1894-23 जून, 1980)
1976के. कामराज(15 जुलाई, 1903-1975), मरणोपरांत
1980मदर टेरेसा(27 अगस्त, 1910-05 सितंबर, 1997)
1983आचार्य विनोबा भावे(11 सितंबर, 1895-15 नवंबर, 1982), मरणोपरांत
1987खान अब्दुल गफ्फार खान(06 फरवरी 1890 -20 जनवरी, 1988), पहले गैर-भारतीय
1988एम जी आर(17 जनवरी, 1917-24 दिसम्बर, 1987), मृत्यु के बाद
1990डॉ॰ भीमराव आंबेडकर(14 अप्रैल, 1891-06 दिसम्बर, 1956), मृत्यु के बाद
1990नेल्सन मंडेला(18 जुलाई, 1918-05 दिसम्बर, 2013), दूसरे गैर-भारतीय
1991राजीव गांधी(20 अगस्त, 1944-21 मई, 1991), मृत्यु के बाद
1991सरदार वल्लभ भाई पटेल(31 अक्टूबर, 1875-15 दिसम्बर, 1950), मृत्यु के बाद
1991मोरारजी देसाई(29 फ़रवरी, 1896-10 अप्रैल, 1995)
1992मौलाना अबुल कलाम आज़ाद(11 नवंबर, 1888-22 फरवरी, 1958), मरणोपरांत
1992जे. आर. डी. टाटा(29 जुलाई, 1904-29 नवंबर, 1993)
1992सत्यजीत राय(02 मई, 1921-23 अप्रैल, 1992)
1997ऐ. पी. जे. अब्दुल कलाम(15 अक्टूबर, 1931-27 जुलाई, 2015)
1997गुलजारी लाल नंदा(04 जुलाई, 1898-15 जनवरी, 1998)
1997अरुणा आसफ अली(16 जुलाई, 1909 -29 जुलाई, 1996), मरणोपरांत
1998एम. एस. सुब्बुलक्ष्मी(16 सितंबर, 1916-11 दिसम्बर, 2004)
1998सी. सुब्रामनीयम(30 जनवरी, 1910-07 नवंबर, 2000)
1998जयप्रकाश नारायण(11 अक्टूबर, 1902-08 अक्टूबर, 1979), मृत्यु के बाद
1999पंडित रवि शंकर(07 अप्रैल, 1920-12 दिसम्बर, 2012)
1999अमर्त्य सेन(03 नवंबर 1933-अब तक)
1999गोपीनाथ बोरदोलोई(1890-1950), मरणोपरान्त
2001लता मंगेशकर(28 सितंबर, 1929)
2001उस्ताद बिस्मिल्ला ख़ां(21 मार्च, 1916-21 अगस्त, 2006)
2008पंडित भीमसेन जोशी(04 फरवरी, 1922 -05 जनवरी, 2011)
2014सी॰ एन॰ आर॰ राव(30 जून, 1934-अब तक), 16 नवंबर, 2014 घोषित
2014सचिन तेंदुलकर(24 अप्रैल, 1973-अभी तक), 16 नवंबर 2014 घोषित
2015अटल बिहारी वाजपेयी(25 दिसंबर, 1924-16 अगस्त  2018), 25 दिसंबर, 2015 को घोषित
2015मदन मोहन मालवीय(25 दिसंबर, 1861- 12 नवंबर, 1946, मृत्यु के बाद), 25 दिसंबर 2015 को घोषित किया गया

भारत का नक्शा डाउनलोड करें

उम्मीद है आपको भारत रत्न के बारे में सही प्रकार से जानकारी प्राप्त हुई होगी | अगर हमारा लेख अच्छा लगे तो आगे शेयर जरूर करे और साथ ही अपने हित मित्रो के साथ व्हात्सप्प पर भी फॉरवर्ड करे | अपना सुझाव कमेंट बॉक्स या कांटेक्ट फॉर्म पर भेजे |

स्वतंत्रता सेनानी किसे कहते है

Leave a Comment