बोनाफाइड सर्टिफिकेट क्या है

किसी भी व्यक्ति के निवास को प्रमाणित करनें के लिए मूल निवास प्रमाण पत्र (Domicile) एक अहम् दस्तावेज होता है | मूल निवास प्रमाण पत्र को अंग्रेजी में बोनाफाइड सर्टिफिकेट (bonafide certificate) कहते है | हमारे देश में प्रत्येक राज्य सरकार अपनें राज्य में विभिन्न प्रकार की योजनायें लांच करती है, जिनमें हमें मूल निवास प्रमाण पत्र संलग्न करना अनिवार्य होता है |

इसके अतिरिक्त इस प्रमाण पत्र की आवश्यकता व्यक्ति को उसके जीवन में अनेक चरणों में होती है | किसी भी व्यक्ति के मूल निवासी होने का यह प्रमाण पत्र उनके गृह राज्य से बनता है, अर्थात जिस जनपद के आप निवासी हैं परन्तु वर्तमान में यह ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त कर सकते है |

बोनाफाइड सर्टिफिकेट एक ऐसा दस्तावेज है, जिसके बिना आप किसी सरकारी योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते | यदि आप भी अपना बोनाफाइड सर्टिफिकेट बनवाना चाहते है, तो आईये जानते है कि बोनाफाइड सर्टिफिकेट क्या है (what is bonafide certificate) और इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

पवित्र पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

बोनाफाइड सर्टिफिकेट का क्या मतलब होता है ? (Meaning of Bonafide Certificate)

किसी भी व्यक्ति का बोनाफाइड सर्टिफिकेट अर्थात निवास प्रमाण पत्र, राज्य सरकार द्वारा उसके एक प्राधिकरण के माध्यम से जारी किया जाता है | यह एक ऐसा दस्तावेज है, जिसमे उस व्यक्ति के निवास स्थान को वैधानिक रूप से प्रमाणित किया जाता है, कि व्यक्ति अमुक स्थान का निवासी है | यह प्रत्येक राज्य में भिन्न-भिन्न हो सकते है |

बोनाफाइड सर्टिफिकेट कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में जिला मजिस्ट्रेट / उप जिला मजिस्ट्रेट / कलेक्टर / राजस्व क्षेत्र अधिकारी द्वारा जारी किया जाता है  | वर्तमान में लगभग सभी राज्यों में बोनाफाइड सर्टिफिकेट बनाने की प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम से जारी हो चुकी है |

इंटीरियर डिजाइन क्या होता है

बोनाफाइड सर्टिफिकेट की आवश्यकता (Why do we need of Bonafide Certificate?)

  • किसी भी व्यक्ति के मूल निवास को प्रमाणित करने हेतु बोनाफाइड सर्टिफिकेट होना आवश्यक है।
  • शिक्षण संस्थान अर्थात स्कूल व कॉलेज में प्रवेश लेते समय बोनाफाइड सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है।
  • छात्रों को विद्यालय व विश्वविद्यालय से छात्रवृति प्राप्त करने हेतु बोनाफाइड सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है।
  • प्राइवेट व सरकारी नौकरी में आवेदन करते समय बोनाफाइड सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है।
  • विभिन्न प्रकार की सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करने हेतु बोनाफाइड सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है।

सरकारी रिजल्ट क्या है

बोनाफाइड सर्टिफिकेट बनवानें हेतु पात्रता (Bonafide Certificate Eligibility)

  • बोनाफाइड सर्टिफिकेट बनवानें के लिए आवेदक को कम से कम 3 वर्ष के लिए उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • नाबालिग बच्चों के लिए बोनाफाइड सर्टिफिकेट उनके माता-पिता के प्रमाण पत्र के आधार पर जारी किया जायेगा।
  • यदि किसी अन्य राज्य की महिला उत्तर प्रदेश के किसी व्यक्ति से विवाह करतीं हैं, तो वह इस प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकती है।
  • महिला आवेदक जो राज्य के निवासी नहीं हैं, उसकी शादी ऐसे व्यक्ति से होनी चाहिए जो उत्तर प्रदेश का मूल निवासी हो या जिसके पास उत्तर प्रदेश का बोनाफाइड प्रमाणपत्र हो |

प्राइमरी स्कूल के टीचर कैसे बने

बोनाफाइड सर्टिफिकेट बनवानें हेतु आवश्यक दस्तावेज (Bonafide Certificate Documents)

बोनाफाइड सर्टिफिकेट बनवानें हेतु आवेदन करते समय अनेक प्रकार के दस्तावेजों की आवश्यकता होती है, जो इस प्रकार है-

सीटेट (CTET) परीक्षा की तैयारी कैसे करे

बोनाफाइड सर्टिफिकेट ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया (Bonafide Certificate Online Application Process)

बोनाफाइड सर्टिफिकेट बनवानें की प्रक्रिया सभी राज्यों में अलग-अलग होती है | इसके लिए आपको अपनें राज्य की अधिकारिक वेबसाइट से आवेदन करना होता है | यहाँ आपको हम उत्तर प्रदेश में मूल निवास प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन के बारें में जानकारी दे रहे है, जो इस प्रकार है-

  • सबसे पहले आपको e-Sathi की साइट http://164.100.181.16/citizenservices/login/login.aspx को ओपन करे।
  • यदि आप इस वेबसाइट पर पहली बार विजिट कर रहे हैं, तो सबसे पहले आपको यहां पर अपना एक यूजर अकाउंट बनाना होगा, इसके लिए आप नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण पर क्लिक करे।
  • अब आपके सामनें एक नया पेज ओपन होगा, जिसमें सभी जानकारी भरनें के बाद सुरक्षित करे पर क्लिक करे |
  • अपना अकाउंट बनाने हेतु के पश्चात आपको अपने अकाउंट में लॉग इन करना होगा।
  • लॉगिन करने पर आपको आवेदन करें विकल्प के बाद समस्त सेवाएं विकल्प पर क्लीक करें। अब आपको यहाँ निवास प्रमाणपत्र सेलेक्ट करना होगा।
  • अब आपके सामनें एक फार्म ओपन होगा, आवेदन पत्र में आपसे कुछ आवश्यक जानकारी भरनी होंगी, जिन्हें आपको बड़ी सावधानी पूर्वक सही-सही भरना होगा |

टीचर (TEACHER) कैसे बने

बोनाफाइड सर्टिफिकेट ऑनलाइन एप्लीकेशन फार्म यहाँ क्लिक करे

  • सभी जरूरी जानकारी भरने के पश्चात आपको जरूरी दस्तावेजों और स्वप्रमाणित घोषणा पत्र की स्कैन कॉपी अपलोड करनी होगी। और सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सबमिट बटन पर क्लिक करने के पश्चात आपको विभाग की निर्धारित फीस का भुगतान करना होगा।
  • इसके लिए आप अपने डेबिट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। फीस का भुगतान करने के पश्चात आपका सफलतापूर्वक आवेदन पत्र सम्मिलित हो जाएगा। और संबंधित विभाग द्वारा एक सप्ताह के अंदर जारी कर दिया जाएगा।  

Bonafide Certificate Format (Download Sample)

बोनाफाइड सर्टिफिकेट का एप्लीकेशन फॉर्मेट निम्न प्रकार से लिया जा सकता है| हमने बोनाफाइड के लिए आवेदन का प्रारूप कैसा होना चाहिए (how to write application for bonafide certificate from school), इसके बारे में जानकारी प्रदान की है| ज्यादातर केस में किसी अन्य जिले में कॉलेज में स्कालरशिप प्रक्रिया के दौरान बोनाफाइड सर्टिफिकेट की जरुरत होती है | अधिक जानकारी के लिए आप अपना सवाल कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमसे पूछ सकते है|


बीएड की तैयारी कैसे करे?

यहाँ आपको बोनाफाइड सर्टिफिकेट (Bonafide Certificate) क्या है  इसके विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है |  यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट के माध्यम से अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही उत्तर दिया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

शिक्षामित्र क्या है

Leave a Comment