बीपीएड (BPEd) क्या है ?



सभी विद्यार्थी इसी प्रयत्न में रहते हैं है कि वह अच्छी पढ़ाई लिखाई करें और अपने करियर को अच्छे से स्थापित करें। इसलिए 12वीं क्लास पास करने के बाद विद्यार्थी भविष्य की सोच रखते हुए बेहतरीन कोर्स में एडमिशन लेने का प्रयास करते हैं। 



इस प्रकार से अगर आपने भी 12वीं क्लास पास कर ली है और आप किसी ऐसे कोर्स की तलाश में है जिसमें आपका करियर उज्ज्वल रहे और आपको देश और विदेश में नौकरी करने का मौका मिले तो आप बीपीएड कोर्स के बारे में सोच सकते हैं।

बीपीएड कोर्स करने के पश्चात आप खेल और फिजिकल फिटनेस की फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं, वहीं आप गवर्नमेंट नौकरी और प्राइवेट नौकरी हेतु आवेदन कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि बीपीएड क्या है ? BPEd फुल फॉर्म, कोर्स की जानकारी – फीस, योग्यता व टॉप कॉलेज कौन से हैं। 

बीएड (B.Ed) कोर्स क्या है ?




बीपीएड क्या है ? BPD Course in Hindi

Table of Contents

Bped kaise kare: बीपीएड एक प्रकार का बैचलर कोर्स है जिसकी अवधि 3 साल से लेकर के 4 साल तक की होती है। इसे ग्रेजुएशन कोर्स कह सकते हैं। 12वीं क्लास को पास करने के बाद विद्यार्थी बीपीएड कोर्स कर सकते हैं या फिर जिन लोगों ने किसी अन्य कोर्स को करके ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की है वह भी बीपीएड के कोर्स को कर सकते हैं।

बीपीएड के कोर्स में तकरीबन 6 सेमेस्टर से लेकर के 8 सेमेस्टर मौजूद होते हैं, जिसके अंतर्गत फिजिकल सब्जेक्ट से संबंधित सब्जेक्ट की स्टडी करवाई जाती है। इस कोर्स को पूरा करने के पश्चात विद्यार्थी स्पोर्ट्स और फिजिकल टीचर बनने की दिशा में आगे बढ़ सकते हैं। इसके अलावा विभिन्न गवर्नमेंट और प्राइवेट इलाके की नौकरियों में भी आवेदन कर सकते हैं।

इस प्रकार से जो विद्यार्थी फिटनेस और खेल कूद में रुचि रखते हैं उनके लिए बीपीएड कोर्स बेस्ट कोर्स साबित हो सकता है, क्योंकि यह कोर्स आपको स्पोर्ट्स कोच, स्पोर्ट्स जनरलिस्ट अथवा जिम ट्रेनर जैसी पोस्ट दिला सकता है।

यहीं नहीं आप किसी भी गवर्नमेंट अथवा प्राइवेट स्कूल में भौतिक शिक्षा के टीचर के तौर पर भी काम कर सकते हैं और अच्छी सैलरी प्राप्त कर सकते हैं।

बीपीएड का फुल फॉर्म | FUll form of BPD in Hindi

बीपीएड का फुल फॉर्म “Bachelor Of Physical Education” होता है। जबकि हिंदी भाषा में बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन को शारीरिक शिक्षा में स्नातक कहा जाता है। इस कोर्स की अवधि 3 साल से लेकर 4 साल तक होती है। 

बीपीएड कोर्स में एडमिशन हेतु योग्यता

बीपीएड कोर्स में एडमिशन के लिए आवश्यक योग्यताएं इस प्रकार है।

  • भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त स्कूल से किसी भी संकाय से जिन विद्यार्थियों ने 12वीं क्लास को कम से कम 50% अंकों के साथ पास किया है वह कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।
  • किसी विदेशी यूनिवर्सिटी में इस कोर्स को करने के लिए आवश्यक टेस्ट देना आवश्यक है, जैसे IELTS, TOEFL आदि।
  • आवेदक विद्यार्थी की कम से कम उम्र 17 साल अथवा उससे अधिक होनी चाहिए।

बीपीएड कोर्स हेतु एंट्रेंस एग्जाम

बीपीएड कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको कुछ एंट्रेंस एग्जाम में भी शामिल होना पड़ सकता है। एंट्रेंस एग्जाम को पास करने के बाद ही आपको एडमिशन मिलेगा। प्रमुख बीपीएड एंट्रेंस एग्जाम की लिस्ट नीचे बताए अनुसार है।

  • BHU PET       
  • ITM NEST      
  • LPU NEST     
  • Dibrugarh University Entrance Exam           

बीपीएड कोर्स हेतु टॉप विदेशी यूनिवर्सिटी 

अगर कोई भारतीय विद्यार्थी किसी विदेशी कॉलेज में बीपीएड का कोर्स करना चाहता है तो उसे यह पता होना आवश्यक है कि विदेश की ऐसी कौन सी यूनिवर्सिटी है जो बीपीएड कोर्स करने के लिए बेहतर है। नीचे उन्हीं में से कुछ प्रमुख बेस्ट बीपीएड फॉरेन यूनिवर्सिटी की लिस्ट दी गई है।

  • सीक्रॉस यूनिवर्सिटी |
  • यूनिवर्सिटी आफ बर्मिंघम |
  • ओकलाहोमा स्टेट यूनिवर्सिटी |
  • यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी |
  • यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड |
  • राइस यूनिवर्सिटी |

बीपीएड कोर्स हेतु टॉप भारतीय विश्वविधालय | Best Colleges for BPD course in India

भारत में भी ऐसी बहुत सारी यूनिवर्सिटी है जो बीपीएड कोर्स करने के लिए बेस्ट यूनिवर्सिटी की लिस्ट में शामिल है। नीचे कुछ प्रमुख ऐसी ही यूनिवर्सिटी के नाम दिए गए हैं।

  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी, जालंधर |
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, बनारस |
  • चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी, मेरठ |
  • एमिटी यूनिवर्सिटी, नोएडा |
  • यूनिवर्सिटी ऑफ़ लखनऊ, लखनऊ |
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, अलीगढ़ |
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ |
  • इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स साइंस |
  • एमिटी स्कूल ऑफ एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स साइंस |

बीपीएड के बाद कोर्स

बीपीएड कोर्स करने के बाद आप ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त कर लेते हैं। इसके बाद अगर आपको आगे की पढ़ाई करनी है तो मास्टर डिग्री के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। नीचे उन प्रमुख मास्टर डिग्री कोर्स की जानकारी आपको दी गई है जो आपके लिए करना फायदेमंद साबित हो सकता है।

M.P.Ed

यह कोर्स 2 साल का होता है और इसे पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री प्रोग्राम कहा जाता है। सामान्य तौर पर इस कोर्स की फीस हर साल ₹10000 से लेकर के ₹200000 तक हो सकती है। आपको इसमें एडमिशन पाने के लिए एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे अंकों के साथ पास करना होगा क्योंकि एग्जाम में प्राप्त अंकों के आधार पर ही विभिन्न कॉलेज और यूनिवर्सिटी आपको एडमिशन देती है।

M.Phil (Physical Education)

इस कोर्स का पूरा नाम मास्टर ऑफ फिलॉसफी इन फिजिकल एजुकेशनल डिसिप्लिन होता है जो कि 1 साल से लेकर के 2 साल का कोर्स होता है। इस कोर्स को करने के लिए व्यक्ति के पास किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड/यूनिवर्सिटी से फिजिकल एजुकेशन में मास्टर की डिग्री होनी आवश्यक है।

बीपीएड कोर्स हेतु सर्वश्रेष्ठ किताबें | Best Books For BPD course 

बीपीएड कोर्स करने के लिए आप नीचे दी गई किताबों की खरीदारी कर सकते हैं और इनकी स्टडी कर सकते हैं।

  • स्पोर्ट्स मैनेजमेंट |
  • बीपीएड गाइड सेमेस्टर 1
  • योग एजुकेशन |
  • हेल्थ एंड फिजिकल एजुकेशन |

पीजीडीसीए कोर्स क्या है ?

बीपीएड के बाद नौकरी

जब किसी विद्यार्थी के द्वारा सफलतापूर्वक बीपीएड के कोर्स को पूरा कर लिया जाता है तो उसके पश्चात नौकरी प्राप्त करने के लिए कई सारे ऑप्शन मौजूद होते हैं। उसे अलग-अलग पदों पर नौकरी प्राप्त हो सकती है। हालांकि एक बात यह भी है कि जिस पद पर भी उसे नौकरी प्राप्त होती है उसके लिए उन्हें अच्छी तनख्वाह भी हासिल होती है।

बीपीएड कोर्स करने के पश्चात विद्यार्थी ट्रेंनिंग अकैडमी, फिटनेस सेंटर, जिम, यूनिवर्सिटी और रिसर्च सेंटर में भी नौकरी पाने का प्रयास कर सकते हैं। तथा कुछ वर्षों का अनुभव हासिल करने के पश्चात विद्यार्थी ब्रॉडकास्टिंग, स्पोर्ट्स टीम, जर्नलिज्म, रिहैबिलिटेशन और स्पोर्ट्स फिजियोलॉजी में भी नौकरी पाने का प्रयास कर सकते हैं।

  • ट्रेंनिंग अकैडमी |
  • फिटनेस सेंटर |
  • जिम |
  • यूनिवर्सिटी |
  • रिसर्च सेंटर |
  • ब्रॉडकास्टिंग |
  • स्पोर्ट्स टीम |
  • जर्नलिज्म |
  • रिहैबिलिटेशन |
  • स्पोर्ट्स फिजियोलॉजी |

बीपीएड के बाद पद और सैलरी

फिटनेस से संबंधित कोर्स होने की वजह से बीपीएड के बाद विद्यार्थियों को विभिन्न पदों पर नौकरी प्राप्त होती है साथ ही उनकी तनख्वाह भी बेहतरीन होती है। हालांकि भारत की तुलना में विदेशों में बीपीएड कोर्स करने के बाद आपको अधिक तनख्वाह मिल सकती है।

और भारत में आपको सामान्य तनख्वाह मिल सकती है। हालांकि भारतीय रुपए के हिसाब से यह तनख्वाह भी अच्छी ही होती है। नीचे उन प्रमुख पद की जानकारी दी गई है जो bp.ed के बाद आपको प्राप्त हो सकती हैं साथ ही उनकी सैलरी के बारे में भी बताया गया है।

ग्रुप एक्सरसाइज इंस्ट्रक्टर |3,90,012
एथलेटिक ट्रेनर |6,00,000
पर्सनल ट्रेनर |2,44,020
फिजिकल एजुकेशन टीचर |3,93,522
स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट | 2,91,552
योगा ट्रेनर |3,65,340
स्पोर्ट्स न्यूट्रीशनिस्ट | 5,40,000
रिहैबिलिटेशन स्पेशलिस्ट |    22,13,531
स्ट्रैंथ एंड कंडीशनिंग कोच | 4,18,768
एक्सरसाइज फिजिको लॉजिस्ट |15,00,000

बीपीएड कोर्स की फीस

बीपीएड कोर्स के लिए आप को कितनी फीस भरनी पड़ सकती है यह डिपेंड करता है कि आपने कौन से कॉलेज में इस कोर्स को करने के लिए एडमिशन लिया है। इस बात से आप भली-भांति परिचित हैं कि प्राइवेट कॉलेज और गवर्नमेंट कॉलेज की फीस में काफी भिन्नता होती है। 

इसलिए आप भी यह अच्छी तरह से समझते हैं कि अगर आप बीपीएड कोर्स गवर्नमेंट कॉलेज से करते हैं तो आप को कम फीस भरनी पड़ सकती है और अगर आप बीपीएड कोर्स प्राइवेट कॉलेज से करते हैं।

तो आपको अधिक फीस भरनी पड़ सकती है, क्योंकि गवर्नमेंट कॉलेज गवर्नमेंट के द्वारा संचालित होता है और प्राइवेट कॉलेज इंडिविजुअल लोगों के द्वारा संचालित होता है।

फिर भी सामान्य तौर पर आपको गवर्नमेंट कॉलेज से इस कोर्स को करने पर सालाना तौर पर ₹50000 से लेकर के ₹100000 तक की फीस भरनी पड़ सकती है और प्राइवेट कॉलेज में यही फीस सालाना तौर पर ₹40000 से लेकर के 250000 के आसपास में हो सकती है।

बीपीएड कोर्स का पूरा पाठ्यक्रम

बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन के 3 साल से लेकर के 4 साल के कोर्स के सिलेबस में थ्योरी सब्जेक्ट से लेकर के एक्टिविटी सब्जेक्ट भी शामिल होते हैं जो कि निम्न अनुसार है।

  • मेथड्स ऑफ़ फिजिकल एजुकेशन |
  • हिस्ट्री एंड फाउंडेशन ऑफ़ फिजिकल एजुकेशन |
  • स्पोर्ट्स साइकोलॉजी |
  • बेसिक एनाटोमी एंड फिजियोलॉजी |
  • हेल्थ एजुकेशन एंड योग |
  • गेम्स-बेस्ड एजुकेशन |
  • एरोबिक्स |
  • स्पोर्ट्स जर्नलिज्म |
  • कम्युनिकेशन स्किल्स |
  • कंप्यूटर ट्रेनिंग |
  • स्पोर्ट्स मैनेजमेंट |
  • स्पोर्ट्स एंड न्युट्रिशन |

बीपीएड कोर्स प्रथम वर्ष का पाठ्यक्रम

  • English and Communication Skills – 1          
  • History and Culture.    
  • History of Physical Education.           
  • Educational psychology.
  • Applied Anatomy and Physiology.      
  • Weight training, Weight lifting, and best physique.
  • Swimming.
  • Judo.

बीपीएड कोर्स दुसरे वर्ष का पाठ्यक्रम

  • English and Communication Skills – 2          
  • Foundation of Physical Education.     
  • Educational Methodology.      
  • Sports Psychology.     
  • Recreation Camping, Play and leadership training.   
  • Teaching Methodology in Physical Education.          
  • Physiology of Exercise.          
  • Teaching Practice.      

बीपीएड अंतिम वर्ष का सिलेबस

  • English Communication Skills – 3     
  • Kinesiology and Bio mechanics.          
  • Sports Management.  
  • Measurement and Evaluation.
  • Health Education.      
  • Applied Computer Education and Statics in Physical Education.

बीसीए (BCA) कोर्स क्या है

बीपीएड के बाद क्या करें ?

बीपीएड कोर्स पूरा करने के पश्चात यह आप पर डिपेंड करता है कि आगे आप क्या करना चाहते हैं। अगर आप आगे भी पढ़ाई करना चाहते हैं तो आप हायर स्टडी कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप नौकरी ज्वाइन करना चाहते हैं तो आप नौकरी प्राप्त करने का प्रयास कर सकते हैं।

बता दें कि ग्रेजुएशन डिग्री होने के नाते आप फिजिकल नौकरी के अलावा गवर्नमेंट या फिर प्राइवेट नौकरी में भी आवेदन कर सकते हैं। गवर्नमेंट नौकरी पाने के लिए आप एसएससी, यूपीएससी जैसी एग्जाम में बैठ सकते हैं अथवा रेलवे, इंडियन आर्मी, एनटीपीसी जैसी फील्ड में भी नौकरी पाने का प्रयास कर सकते हैं।

बीपीएड कैसे करें ?

बीपीएड करने के लिए सर्वप्रथम आपको 12वीं क्लास को किसी भी संकाय से तकरीबन 50% से लेकर के 60% अंकों के साथ पास करने की आवश्यकता होती है। इसके पश्चात बीपीएड के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना पड़ता है और एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे स्कोर के साथ पास करना पड़ता है।

एंट्रेंस एग्जाम पास करने के पश्चात आपको काउंसलिंग के लिए बुलाया जाता है और उसके पश्चात आप के आवश्यक दस्तावेज जमा किए जाते हैं तथा आपके द्वारा फीस जमा करवाई जाती है। इसके पश्चात आपको कॉलेज का अलॉटमेंट होता है।

 याद रखें कि अगर एंट्रेंस एग्जाम में आपका स्कोर अच्छा आता है तो आपको गवर्नमेंट कॉलेज मिलने के चांस ज्यादा होते हैं जिससे आपको कोर्स को करने के लिए कम फीस भरनी पड़ती है।

बीपीएड कोर्स कहां से करें ?

हमारे हिसाब से आपको बीपीएड कोर्स गवर्नमेंट कॉलेज से करना चाहिए क्योंकि अगर आप प्राइवेट कॉलेज से इस कोर्स को करते हैं तो आपको काफी अधिक फिस भरनी पड़ सकती है। 

ऐसे में अगर आप मध्यम वर्गीय परिवार से संबंध रखते हैं तो आपके लिए फीस भरना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। इसलिए आपको गवर्नमेंट कॉलेज पाने का ही प्रयास करना चाहिए।

यहां तक कि जिन लोगों के पास पैसे हैं वह भी गवर्नमेंट कॉलेज पाने का ही प्रयास करते हैं। इस प्रकार से आपका पहला प्रयत्न यह होना चाहिए कि आपको गवर्नमेंट कॉलेज में बीपीएड कोर्स में एडमिशन मिले।

किसी गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करने पर आपको बीपीएड कोर्स के लिए सामान्य तौर पर ₹10000 से लेकर के ₹35000 तक की फीस भरनी पड़ सकती है, वहीं प्राइवेट कॉलेज में इसी कोर्स की फीस सालाना तौर पर 80000 से लेकर के 250000 के आसपास तक हो सकती है।

इसके अलावा अक्सर गवर्नमेंट कॉलेज में कोर्स कंप्लीट कर चुके विद्यार्थियों के लिए कैंपस प्लेसमेंट का आयोजन भी करवाया जाता है, जिससे आपको कोर्स पूरा करने के बाद तुरंत नौकरी मिलने की संभावना भी ज्यादा होती है।

बीपीएड में करियर स्कोप

भारत के साथ ही साथ दुनिया के अन्य देशों में भी लोग फिजिकल हेल्थ और स्पोर्ट्स को लेकर के काफी जागरूक होते हैं। ऐसी अवस्था में बीपीएड एक ऐसा कोर्स है जिसके बाद आपको नौकरी के लिए कभी भी खाली नहीं बैठना पड़ेगा।

क्योंकि वर्तमान समय में हमारे देश में अधिकतर स्कूल और कॉलेज में फिजिकल एजुकेशन अथवा स्पोर्ट्स टीचर की आवश्यकता पड़ती ही है।

ऐसे में आप आसानी से स्कूल में बीपीएड टीचर बन सकते हैं। इसके अलावा यही पोस्ट आप विदेशों में भी प्राप्त कर सकते हैं अथवा आर्टिकल में हमने आपको जिन पोस्ट की जानकारी दी है उस पोस्ट को भी आप देश अथवा विदेश में प्राप्त कर सकते हैं।

आप कोर्स पूरा करने के बाद स्कूल में स्पोर्ट्स टीचर के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा जिम सेंटर में या फिर फिजिकल ट्रेनिंग सेंटर में नौकरी कर सकते हैं अथवा फिजिकल ट्रेनर की पोस्ट प्राप्त कर सकते हैं।

इसके अलावा आप हेल्थ इनफॉर्मेटिक्स स्पेशलिस्ट और योगा इंस्ट्रक्टर के तौर पर भी काम कर सकते हैं साथ ही आप विभिन्न गवर्नमेंट और प्राइवेट नौकरी के लिए भी आवेदन कर सकते हैं, क्योंकि बीपीएड कोर्स के तौर पर आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री मौजूद है।

ग्रेजुएशन के बाद बीपीएड कैसे करें ?

अगर आप ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं और इसके बाद आपको पता चलता है कि bp.ed नाम का कोई कोर्स होता है और आप बीपीएड कोर्स करना चाहते हैं तो आप ग्रेजुएशन के बाद भी बीपीएड के कोर्स में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

क्योंकि बीपीएड के कोर्स को 12वीं क्लास पास करने के बाद भी किया जा सकता है और ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के बाद भी किया जा सकता है। हालांकि अगर आप ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने के बाद BPEd का कोर्स करते हैं तो आपको सिर्फ 2 साल ही इस कोर्स की पढ़ाई करनी पड़ेगी।

FAQ

बीपीएड का फुल फॉर्म क्या है ?

बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन 

बीपीएड कोर्स कितने साल का होता है ?

3 से 4 साल 

ग्रेजुएशन के बाद बीपीएड कोर्स कितने साल का होता है ?

2 साल 

बीपीएड कोर्स की फीस कितनी होती है ?

कॉलेज के हिसाब से अलग-अलग

क्या bp.ed बैचलर डिग्री है ?

जी हां

योगा टीचर (Yoga Teacher) कैसे बनें

Leave a Comment