सीआईडी (CID) ऑफिसर कैसे बने

सीआईडी ऑफिसर ऐसे ऑफिसर होते है, जो किसी के द्वारा किये गए अपराध की अच्छे से छानबीन करते है और उससे सम्बन्धित अपराधी को पकड़ते है | CID का फुल फॉर्म  Crime Investigation Department होता है, जिसे हिंदी भाषा में “अपराध जांच विभाग” कहा जाता है | सीआईडी ऑफिसर हर एक अपराध की जांच बहुत ही गंभीरता के साथ करते हैं  लेकिन, ये ऑफिसर कभी भी विशेष वर्दी पहनकर काम नहीं करते हैं वो एक आम आदमी की तरह जांच – पड़ताल करते है |  सीआईडी   टीम  इसलिए साधारण कपड़े पहनते हैं ताकि उन्हें कोई भी अपराधी पहचान न सके और वो अपराध करने वाले अपराधियों तक आसानी से पहुंच सके | यदि आप भी सीआईडी ऑफिसर बनना चाहते है तो, यहाँ पर  सीआईडी (CID) ऑफिसर कैसे बने, फुल फार्म, योग्यता, परीक्षा पाठ्यक्रम, सैलरी  की विस्तृत जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े: फास्टैग क्या होता है

सीआईडी ऑफिसर कैसे बने?

CID की स्थापना देश में क़ानून और व्यवस्था बनाये रखने के लिए  ब्रिटिश सरकार द्वारा   1902 में  की गई थी | सीआईडी ऑफिसर  की पूरी टीम राज्य सरकार के आदेश पर काम करती है |   इस विभाग के प्रमुख के पद पर Additional Director General of Police (ADGP) काम करते है, जिसे Inspector General of Police (IGP) द्वारा सहायता प्रदान की जाती है |

1902 में सीआईडी की  स्थापना होने के बाद  1920 मे CID को Special Branch तथा Crime Branch में  बाँट दिया गया था, जिसके बाद सीआईडी ऑफिसर को हत्या के केस, गंभीर असॉल्ट केस, डकैतियों, धोखाधड़ी और किसी भी यौन अपराध आदि जैसे मामलों की जांच करने का काम सौंप दिया गया था | सीआईडी ऑफिसर   अपराधी को  सबूत के साथ पकड़कर  अदालत  में पेश  करते है |

ये भी पढ़े: एसपीजी (SPG) कमांडो कैसे बने

ये भी पढ़े: नीट (NEET) परीक्षा क्या होता है?

सीआईडी का फुल फॉर्म 

CID का फुल फॉर्म  Crime Investigation Department होता है, जिसे हिंदी भाषा में “अपराध जांच विभाग” कहा जाता है |

सीआईडी ऑफिसर के लिए प्रयास (attempt)

1.सीआईडी ऑफिसर  बनने के लिए  सामान्य श्रेणी  के लोग 4  बार अपनी किस्मत आजमाते हुए प्रयास कर सकते है |

2.वहीं ओबीसी श्रेणी वालो को 7  बार प्रयास करने का मौका दिया जाता है |

3.एससी/एसटी श्रेणी वालो लिए कोई सीमा नहीं तय की गई है |

सीआईडी ऑफिसर बनने हेतु शैक्षिक योग्यता

1.सीआईडी ऑफिसर बनने के लिये  आवेदनकर्ता  भारत का नागरिक  हो |

2.सीआईडी बनने के लिए पुरुष और महिला दोनों  ही शामिल हो सकते है |

3.सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवार को  12वीं  पास होना अनिवार्य है |

4.उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम में स्नातक होना  जरूरी है |

आयु सीमा

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिये उम्मीदवार की न्यूनतम आयु  20 वर्ष  और अधिकतम आयु 27 वर्ष के  होनी चाहिए  |

ओबीसी श्रेणियों के उम्मीदवारों को  3 साल की छूट प्रदान की जाती है | (20 वर्ष से 30 वर्ष)

अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए 5 वर्ष  की छूट दी जाती है (20 वर्ष से 32 वर्ष के लिए)

सीआईडी ऑफिसर बनने हेतु  शारीरिक मानदंड

 सीआईडी ऑफिसर बनने के लिये पुरुषों की ऊंचाई – 165 सेमी होनी  अनिवार्य है

महिलाओं की ऊंचाई -150 सेमी होनी आवश्यक है |

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिये छाती-76 सेंटीमीटर, फुलाकर होनी  आवश्यक है |

ये भी पढ़े: एसएससी CHSL परीक्षा तैयारी कैसे करे?

परीक्षा पाठ्यक्रम

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवार को  Written Exam, Physical Exam और Interview  देना रहता है | इसके बाद  मेरिट के आधार उम्मीदवार का इस पद के लिए चयन किया जाता है | इसमें सबसे पहले उम्मीदवारों को Written Exam  देना रहता है | फिर इस परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवार को  Interview के लिए बुलाया जाता है | इस परीक्षा का पाठ्यक्रम इस प्रकार है-

  • Preliminary Exam
  • Physical Exam
  • Interview

Preliminary Exam

इस परीक्षा में अभ्यर्थियों से  सामान्य इंटेलिजेंस + रीज़निंग  के प्रश्न पूछे जाते  हैं | इसके बाद जो उम्मीदवार इस परीक्षा मे‌  सफल हो जाते है उन्हें  Physical के लिये  बुलाया जाता है |

Physical Exam

इस परीक्षा में  उम्मीदवार को Physical के लिये  जाना पड़ता है, जिसमें सफल होने के बाद  उम्मीदवार को  Interview के लिये बुलाया जाता  है |

Interview

जो अभ्यर्थी दोनो परीक्षा में  सफलता प्राप्त कर लेते हैं उन्हें Interview के लिये बुलाया जाता है, जिसमें आपसे वहां मौजूद अन्य ऑफिसर  भी सवाल पूछते है  इसके बाद  आपके प्रदर्शन के मुताबिक़, आपकी रैंक तय की जाती है |

ये भी पढ़े: बीएड की तैयारी कैसे करे?

सीआईडी ऑफिसर सैलरी 

सीआईडी ऑफिसर को  उनके  रैंक  के मुताबिक़, अलग-अलग सैलरी प्रदान की जाती है | इसमें 8000 से 24500 रुपये के बीच  सैलरी दी जाती है |  इसके अलावा सीआईडी ऑफिसर को , सिविल सर्विस विभिन्न भत्ता जैसे ग्रेड वेतन, महंगाई भत्ता, छुट्टी यात्रा भत्ता, चिकित्सा और आवास आदि  दिए जाते है |

सीआईडी ऑफिसर की  रैंक/स्थिति

  • Additional Director General Police (ADGP)
  • Inspector General of Police (IGP)
  • Maha Sub-unit (DIG)
  • Police superintendent (SP)
  • Deputy Superintendent of Police (Dy, S.P.)
  • Inspector
  • Superintendent
  • Sub inspector
  • Assistant inferior inspector (sub inspector)
  • Constable

यहाँ पर हमने आपको सीआईडी (CID) ऑफिसर कैसे बने | इसकी जानकारी उपलब्ध कराई है, यदि आपको इससे सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है, तो आप www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | इसके साथ ही यदि आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते हकें | हम आपके प्रश्न और सुझावी का इन्तजार कर रहें है |

ये भी पढ़े: शिक्षक दिवस क्या है?

ये भी पढ़े: बीएड (B.ED) कोर्स क्या है?

ये भी पढ़े: डी एल एड (D.EL.ED) क्या है?

ये भी पढ़े: एसएससी CHSL परीक्षा तैयारी कैसे करे?

ये भी पढ़े: ग्राम विकास अधिकारी (VDO) कैसे बने?