CO क्या होता है



CO का पद प्राप्त कर लेने वाला व्यक्ति अपने एरिया के सभी  कार्यों की अच्छे से देख-रेख करने का काम करता  है और यदि उसके एरिया का कोई काम अधूरा रह जाता है तो वह उसे पूरा करवाता है | एक सीओ को उसके एरिया की सभी जिम्मेदारियां सौंप दी जाती है, जिसे उसे बखूबी निभाना रहता है | इसलिए उसे एरिया अधिकारी  या फिर सीओ ऑफिसर (CO Officer) कहा जाता है |  यहाँ पर CO क्या होता है | CO कैसे बने, योग्यता, सैलरी | सीओ का फुल फॉर्म क्या है? इसकी विस्तृत जानकारी दी जा रही है |

सीओ क्या है ?


सीओ (CO) क्या है ?

सीओ एक अधिकारी होता है, जिसे किसी क्षेत्र की सारी जिम्मेदारियां सौंपी जाती है | वह जिस क्षेत्र का सीओ होता है वह वहां की सारी कमियों को देखता हो और फिर उन्हें अपने मन मुताबिक़ सही ढंग से करवाने में पूर्ण रूप से स्वतंत्र होता है | यदि वह कार्य किसी भी कारणवश पूरा नहीं होता है तो उसकी जिम्मेदारी सर्किल ऑफिसर यानि की CO की होती है | उसे उसके क्षेत्र की सारी जिम्मेदारियों और सारे कार्यों को पूर्ण रूप से करवाने के लिए सरकार की तरफ से खर्च प्रदान किया जाता है |

एसडीएम (SDM) कैसे बने?

सीओ का फुल फॉर्म (CO Full Form)

सीओ का फुल फॉर्म  circle officer होता है जिसका हिंदी अर्थ एरिया अधिकारी होता है | सीओ की अन्य फुल हैं जो इस प्रकार है-




  • commanding officer जिसका हिंदी अर्थ कमांडिंग ऑफिसर है
  • correction officer  इसका हिंदी अर्थ सुधार अधिकारी है |
  • commissioner’s officer जिसका हिंदी अर्थ कमिश्नर अधिकारी होता है |
  • Contracting Officer (CO) इसका हिंदी में अर्थ ठेका अधिकारी होता है |

(CO) सीओ कैसे बने ? 

सीओ बनने के लिए इच्छुक अभ्यर्थियों को अनिवार्य है कि, वो किसी मान्यता प्राप्त विश्विद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त किये हो क्योंकि, जिन अभ्यर्थियों ने स्नातक की डिग्री  प्राप्त कर ली है वो अभ्यर्थी इस पद की तैयारी कर सकते है | इसके बाद उम्मीदवार इस पद के लिए शामिल हो सकता है | आप पीसीएस परीक्षा के माध्यम से राज्य आधीन सीओ पोस्ट के आवेदन कर सकते है | केन्द्रीय मंत्रालय द्वारा भी सीओ पद के लिए परीक्षा करायी जाती है जिसे आपको पास करना होता है और उसके बाद, आपको योग्यता अनुसार आपके सर्किल का आवंटन कर दिया जाता है जो आपके आधीन हो जाता है और उसका कार्य भार आपको सम्भालना होता है | सीओ बनने के बाद उम्मीदवार को उसके कार्यों के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी जाती है |

योग्यता (Eligibility)

सीओ बनने के लिए अभ्यर्थी  किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से  स्नातक पास किये हो |

आयु सीमा (Age Limit) 

21 से 40 वर्ष सीओ परीक्षा के पीसीएस के आधार पर मानी जा सकती है | फैक्ट को कन्फर्म करने के लिए सीओ भर्ती परीक्षा का विज्ञापन जरूर देखे | आरक्षण का प्रावधन SC/STOBC के लिए नियम अनुसार लागू होगा |

सीओ के कार्य 

1. सर्किल ऑफिसर (CO) को मुख्य रूप से अपने क्षेत्र के सारे कार्य अपनी देख रेख में करने रहते है |

2. वह अपने क्षेत्र के सभी कार्यों का सही तरीके करवाता है |

3. उसे अलग-अलग क्षेत्रों में नौकरी दी जाती है जहां का वह सीओ कहा जाता है |

4. उसे अपने मन मुताबिक  कार्यों को करवाने का अधिकार प्राप्त होता है तथा कार्यों की समीक्षा भी करता है |

5. उसे क्षेत्र के कार्यों को करवाने के लिए सरकार की तरफ से खर्च दिया जाता है, जिसे वो आवश्यकतानुसार विकास कार्यों में प्रयोग कर सकता है |

सीओ की सैलरी (Salary)

एक circle officer को 9300-34800  प्रतिमाह सैलरी प्रदान की जाती है और साथ ही उन ऑफिसर को ग्रेड पेय 4800 रूपये दिए जाते है | यह एक अनुमानित राशि है, यह राशि सीओ भर्ती के ऑफिसियल विज्ञापन के माध्यम से कन्फर्म कर सकते है |

डीएसपी (DSP) कैसे बनें

यहां पर हमने आपको CO क्या होता है | CO कैसे बने, योग्यता, सैलरी  |  सीओ का फुल फॉर्म  क्या है? इसकी सम्पूर्ण जाकारी उपलब्ध कराई है | यदि आपको इस प्रकार की अन्य जानकारी प्राप्त करनी है, तो आप https://hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | इसके साथ ही यदि  आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है | हम आपके सुझाव और प्रश्नो का इन्तजार कर रहें है |