कोरोना वायरस (Coronavirus) क्या है

भारत और चीन के साथ अन्य कई देशो में भी कोरोना वायरस (Coronavirus) से हाहाकार मचा चुका है, इसका प्रभाव चीन में सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है | कोरोना वायरस (COV) का सम्बन्ध  ऐसे वायरस परिवार से है, कि इससे हुए संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने संबंधी बीमारियां सामने आ सकती है | इस वायरस के बारे में इससे पहले कभी नहीं सुनने को मिला है | यदि इस वायरस के संक्रमण को सही मायने में समझा जाये तो 2019 के दिसंबर महीने में चीन के वुहान में इसका सर्वप्रथम प्रभाव देखने को मिला था, जहाँ से इसका आरंभ भी माना जाता है |

डब्लूएचओ (WHO) के गाइड लाइन तहत , बुखार, खांसी, सांस लेने में दिक्कत इस वायरस के प्रमुख लक्षण हैं | इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई भी एंटी टीका अबतक नहीं बनाया जा सका है | अगर आप भी कोरोना वायरस (Coronavirus) क्या है, कोरोना वायरस लक्षण, इससे बचने के उपचार क्या होते है, इसके बारे में जानना चाहते है, तो यहां पर इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी जा रही है |

टेस्ट ट्यूब बेबी या आईवीएफ क्या होता है

कोरोना वायरस कैसे होता हैं

यह वायरस बहुत तेजी से फैल रहा है, इसलिये लोगों के मन में सबसे पहला प्रश्न यही उठता है, कि यह कैसे फैल रहा है | इसके लिए डब्ल्यूएचओ (WHO) ने पहले से गाइड लाइन जारी कर रक्खी हैं | इसके अतिरिक्त WHO ने चीन में तो स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया गया है | इस वायरस से होने वाली  बीमारी ज्यादातर भीड़ भाड़ क्षेत्र में होने की संभावना अधिक रहती है | यह वायरस सांस लेने या छूने से भी एक दूसरे को हो जाता हैं , और छींकने, खांसने से भी इसके होने का आशंका बढ़ता है |

कोरोना वायरस के (Coronavirus) लक्षण

कोरोना वायरस (Coronavirus) के लक्षण से बचने के लिए सबसे पहले इसके लक्षण को समझना बहुत जरूरी है | यह वायरस बहुत खतरनाक होता है, इससे मनुष्य की किडनी को भी नुकसान पहुंच सकता  है | अधिकतर इस वायरस के प्रकोप को देखा जाये तो इसके अधिकतर लक्षण निमोनिया जैसी बीमारी से मिलते है | इस वायरस से लिप्त लोगों में सांस की समस्याएं तथा बुखार, खांसी आदि होते हैं, और इस वायरस से बहुत अधिक गंभीर मामलों में संक्रमण के कारण निमोनिया, सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम, गुर्दे जैसे बीमारी भी हो सकती है, और इससे भी खराब परिणाम मनुष्य की मृत्यु भी हो सकती है, और इसके लक्षण में इसकी तुलना स्वाइन फ्लू से भी कर सकते है, जुखाम के सभी लक्षण इसमें भी पाये जाते है |

कम उम्र में बाल सफेद होने के कारण और उपाय

कोरोना वायरस (Coronavirus) से बचने के उपचार

यह वायरस काफी खतरनाक होती है, इससे बचने के लिए बहुत अधिक सावधानियां रखने के साथ  कुछ मुख्य बातों को ध्यान में रखना होता है | इससे बचने के उपाय इस प्रकार है –

  • इस वायरस से बचने के लिए हाथ को साबुन-पानी या अल्कोहल युक्त हैंड रब या फिर डॉक्टर द्वारा प्रमाणित किसी भी हैंड वाश से अच्छे से धोएं ।
  • छींकते या खांसते समय अपनी नाक और मुंह को टिश्यू या रुमाल से ढक लें ।
  • जिन व्यक्ति को सर्दी या फ्लू जैसे प्रकोप हों, तो उन्हें अधिकतर मास्क का प्रयोग अपने नजदिकी संपर्क वालों से मिलने पर करे ।
  • अंडों व मीट या नॉनवेज को खाने से पहले अच्छी तरह से पकाएं, और पकाने से पहले सही से साफ करे ।
  • जंगली और खेतों में रहने वाले जानवरों के साथ संपर्क में आने पर सतर्कता बरते ।
  • अधिक भीड़भाड़ वाले स्थानों पर ना जायें |
  • चीन या अन्य कंट्री से सफर कर लौटे व्यक्ति से दूर रहें ।
  • किसी भी सब्जी या फलों को खाने से पहले अच्छे से धोएं, या धुलने में गरम पानी का इस्तेमाल कर सकते है ।
  • जिन देशों में इस बीमारी का प्रकोप अधिक है, वहां की यात्रा यदि जरूरी न हो, तो कैंसिल भी कर सकते है ।
  • भारत में जिन जगहों पर इसका लक्षण देखने को मिला है, वहां जाने से बचे |
  • सार्वजनिक जगहों तथा सार्वजनिक यातायात के साधनों में  मास्क का प्रयोग करें ।
  • बाहर खुले में बनी या खुले में रखी चीजे खाने में प्रयोग ना करें |
  • मिठाईया, या दूध की अधिक दिनों की बनी चीजों का इस्तेमाल न करे, अधिकतर ताजा ही खाने का प्रयास करे |

MRI क्या होता है

इस आर्टिकल में हमनें कोरोना वायरस (Coronavirus) के विषय में जानकारी दी है | यदि इस जानकारी से रिलेटेड आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न या विचार आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

आयुष्मान भारत योजना क्या है