सीवीवी क्या होता है

यदि आपका बैंक खाता है, और आप ATM कार्ड का भी इस्तेमाल करते है,तो आपको CVV नंबर के बारे में जरूर पता होगा | यह CVV एक यूनिक नंबर होता है, जिसे ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के दौरान उपयोग में लाया जाता है | वर्तमान समय में डिजिटल ट्रांसेक्शन तेजी से बढ़ रहा है, जिसमे आप घर बैठे ही किसी भी तरह ही शॉपिंग कर उसका ऑनलाइन भुगतान कर सकते है | ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने के लिए क्रेडिट या डेबिट कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है | इस तरह के कार्ड में एक CVV या CVC नंबर दिया होता है,जिसे ऑनलाइन भुगतान के समय उपयोग में लाया जाता है |

बिना इस CVV के ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करना संभव नहीं होता है | ऑनलाइन भुगतान के समय इस नंबर को इस्तेमाल करते ही पेमेंट कंफर्म हो जाता है | किन्तु बहुत से ऐसे लोग होते है, जिन्हे इस CVV नंबर के बारे में जानकारी नहीं होती है | इस लेख में आपको सीवीवी क्या होता है, तथा CVV का फुल फॉर्म क्या है, और कार्ड का CVV Number कैसे देखे के बारे में जानकारी दी जा रही है |

Debit Card और Credit Card का क्या मतलब होता है

सीवीवी क्या होता है (What is CVV)

CVV एक तरह का यूनिक कोड होता है, जो प्रत्येक क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड पर अंकित होता है | यह कोड कार्ड के पीछे तीन या चार अंको का हो सकता है | किसी भी तरह के ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के दौरान इस नंबर की उपलब्धता मांगी जाती है | ऑनलाइन भुगतान में इस नंबर के दर्ज करते ही भुगतान की पुष्टि हो जाती है |

सीवीवी का फुल फॉर्म (CVV Full Form)

सीवीवी का हिंदी उच्चारण कार्ड सत्यापन मूल्य तथा अंग्रेजी भाषा में इसे CVV – “Card Verification Value” कहते है | इस CVV नंबर में खाता धारक के खाते की सम्पूर्ण जानकारी मौजूद होती है | इसलिए कभी भी इसे किसी अनजान व्यक्ति के साथ शेयर नहीं करना चाहिए |

सीवीवी का इतिहास (CVV History)

पहले के समय में डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड पर कुछ कोड अंकित होते थे, जिन्हे कार्ड सिक्योरिटी कोड (CSC) कहा जाता था | इस CSC कोड का अविष्कार स्टोन द्वारा यूके में वर्ष 1995 में किया गया था | सभी तरह की जांच करने के बाद ‘एसोसिएशन ऑफ पेमेंट क्लीयरिंग सर्विसेज’ द्वारा इस सिक्योरिटी कॉन्सेप्ट की स्वीकृति की गई | आरम्भ में यह CVV कोड 11 अंको का होता था,जिसके बाद इसे 3 से 4 अंक तक सिमित कर दिया गया | Paytm, Frecharge या कोई अन्य ऐप जिससे डिजिटल पेमेंट किया जाता हो उसमे ट्रांजैक्शन के दौरान आपको अपने कार्ड की जानकारियों को भरना होता है | इन्ही जानकारियों में आपसे CVV कोड भी पूछा जाता है | यदि आप यह कोड नहीं भरते है, तो आपका पेमेंट सफल नहीं हो सकता है |

UPI Autopay क्या है ?

सीवीवी कार्ड का नंबर कैसे देखे (Check CVV Card Number)

CVV कोड को सिक्योरिटी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है,किन्तु बहुत से लोगो को यह नहीं पता होता है, कि यह CVV कोड होता कहा पर है | आपके पास जो भी क्रेडिट या डेबिट कार्ड होता है, उसके पीछे आपको एक काले रंग की मेग्नेटिक स्ट्रिप दी हुई होती है, इस मैग्नेटिक स्ट्रिप के बिलकुल नीचे आपको तीन अंक दिखाई देते है, यह अंक ही आपका CVV नंबर होता है | इसके अलावा भी कई तरह की जानकारिया कार्ड में दी गई होती है | इसमें कार्ड के ऊपर आपको 16 अंको का कार्ड नंबर मिल जाता है, तथा कार्ड की अंतिम तिथि में माह और वर्ष दिया होता है, इसके अलावा कार्ड धारक का नाम भी कार्ड के ऊपर लिखा होता है |

सीवीवी कोड क्यों जरूरी होता है (Why CVV Code Necessary)

जब भी आप कही बाहर जाते है, और किसी तरह की खरीददारी करते है, या आप अपने कार्ड द्वारा किसी ATM मशीन से पैसे निकालते है, तो ऐसे में आपको अपना कार्ड सार्वजनिक जगहों पर निकाल कर इस्तेमाल करना होता है | आपके कार्ड के ऊपर की जानकारी जैसे कार्ड नंबर और एक्सपायरी डेट दी गई होती है, जिसे फ्रॉड लोग आसानी से देख कर ठगी कर सकते है, किन्तु CVV नंबर कार्ड के पिछले हिस्से में अंकित होता है |जिस वजह से लोग ठगी से बच जाते है | इसलिए प्रत्येक कार्ड धारक को अपना सीवीवी नंबर सुरक्षित रखना होता है |

बैंक में खाता कैसे खोले

Leave a Comment