फास्टैग क्या होता है

फास्टैग (Fastag) इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम होता है | जिसकी शुरुवात सबसे पहले भारत में 2014 में की गई थी और अब धीरे-धीरे इस सिस्टम को सारे देश  के टोल प्लाजा पर  लागू किया जा रहा है | भारत में  इस सिस्टम की शुरुआत टोल प्लाजाओं में टोल कलेक्शन सिस्टम से होने वाली दिक्क्तों का हल निकालने के लिए राष्ट्र्रीय  हाइवे अथॉरिटी ऑफ इण्डिया (NHAI) द्वारा  की जा रही है  |  इस सिस्टम में रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का प्रयोग किया जाता  है | यहाँ पर आपको फास्टैग क्या होता है (What is Fastag in Hindi), FASTag Online Application की विस्तृत जानकारी दी जा रही है |

ये भी पढ़े: BLOOD SUGAR DIET IN HINDI

फास्टैग क्या होता है? (What is Fastag Explained in Hindi)

फास्टैग वह सिस्टम होता है जिसे आपके वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है |  इसे लगाने के बाद जैसे ही आपकी गाड़ी टोल प्लाजा के पास पहुंचती है तो टोल प्लाजा पर  लगाया गया सेंसर आपके वाहन के विंडस्क्रीन पर लगे फास्टैग को ट्रैक करने का काम करता  है, जिससे आपके फास्टटैग अकाउंट से उस टोल प्लाजा पर लगने वाला शुल्क  आसानी से काट लिया जाता  है | अब इस सिस्टम के लागू हो जाने से  आप भी इस तरह से  टोल प्लाजा पर बिना रुके  ही  शुल्क का भुगतान कर  सकते है,  लेकिन इसके लिए आपको अपने वाहन पर फास्टैग लगाने की आवश्यकता रहेगी | किसी आधिकारिक टैग जारीकर्ता से खरीद सकते है | वाहन में लगा यह टैग जैसे ही आपके प्रीपेड खाते (Prepaid) से सक्रिय  हो जाएगा, तो वह अपना शुल्क काटने का काम शुरू कर देगा |

ऐसे उठायें इसका लाभ | Benefits of Fastag

नए वाहन मालिकों को टोल प्लाजा पर बिना रुके शुल्क देने के लिए  FASTag अकाउंट को सक्रिय और रिचार्ज करवाना रहेगा | वहीं यदि आपके पास पुरानी कार है, तो आप  सिंडिकेट बैंक, एक्सिस बैंक, आईडीएफसी बैंक, एचडीएफसी बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, और इक्विटास बैंक  से फास्टैग खरीद सकते हैं | इसके साथ ही इसे पेटीएम से भी खरीदा जा सकता है |

फास्टैग को ऑनलाइन भी खरीद सकते है | How To Get Fastag Online in Hindi

यदि आपके पास FASTag नहीं है, तो आप इसे  किसी भी प्वाइंट ऑफ सेल (POS) लोकेशन पर जाकर बैंक से ऑफलाइन  तो खरीद ही सकते हैं साथ ही आप इसे ऑनलाइन आवेदन  करके भी आसानी से प्राप्त कर सकते है, जिससे आपका काफी समय बच जाएगा |

ये भी पढ़े: एसपीजी (SPG) कमांडो कैसे बने

ये भी पढ़े: सरकारी बैंक और प्राइवेट बैंक की सूची

ऐसे कर सकते हैं ऑलाइन आवेदन | Fastag Online Application Procedure

1.FASTag प्रीपेड खाता खोलने के लिए आप सबसे पहले बैंक की ऑनलाइन FASTag एप्लिकेशन वेबसाइट पर जाएं, लेकिन इसके लिए जरूरी है कि, आपका खाता बैंक में खुला हो |

 2.इसके बाद आपके सामने एक पेज खुलकर आएगा जिसमें आप  अपना   नाम, पता, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, आदि भर दें |

 3.फिर आप केवाईसी दस्तावेज विवरण (ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र, या आधार कार्ड)  की जानकारी को भरें |

4.इसके बाद आप   वाहन के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (RC) नंबर  को भर दें |

5.फिर आप सभी जरूरी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को अपलोड कर लें, जिनमे आपके केवाईसी दस्तावेज, वाहन मालिक की 1 पासपोर्ट साइज फोटो और आरसी शामिल रहें |

6.इसके बाद आप अपना आवेदन जमा  कर दें |

7.फिर आपका FASTag अकाउंट बनकर तैयार हो जाएगा |

इसके आलावा  आप अपने FASTag खाते को  क्रेडिट कार्ड/डेबिट कार्ड/ एनईएफटी / आरटीजीएस का उपयोग करके या नेट बैंकिंग के जरिये  अपने FASTag खाते को आसानी से रिचार्ज कर सकते हैं |

ये भी पढ़े: पीसीएस (PCS) परीक्षा की तैयारी कैसे करे?

इन बैंको से कर सकते हैं रिचार्ज 

आप अपने फास्टैग अकाउंट  को क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, Online Banking के जरिये आसानी से रिचार्ज कर सकते है  | आप अपने अकाउंट से 100 रूपये से लेकर एक लाख रूपये तक का रिचार्ज कर सकते है | इसके अतिरिक्त यदि आपको  अपना फास्टैग स्टीकर और  फास्टैग अकाउंट ओपन करवाना चाहते है, तो इसके लिए आप किसी भी प्वाइंट ऑफ सेल के अंतर्गत आने वाले टोल प्लाजा और एजेंसी में जाकर खुलवा सकते है  | इसके साथ ही राष्ट्रीय हाइवेज अथॉरिटी ऑफ इण्डिया की वेबसाइट पर जाकर आप अपने आसपास के प्लांट ऑफ सेल के बारे में मालूम कर सकते है |

अभी तक आप अपने फास्टैग को  आईसीआईसी बैंक और एक्सिस बैंक से और एचडीएफसी बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, सिंडिकेट बैंक आदि बैंकों से रिचार्ज  करवाते आ रहें है, लेकिन अब इन बैंको में आईडीएफसी बैंक और एसबीआई बैंक भी बहुत जल्द शामिल कर  लिए जाएंगे, जिसके बाद आप इन बैंको से भी अपने फास्टैग को रिचार्ज करवा सकेंगे |

ऐसे प्राप्त होगी जानकारी (कस्टमर केयर)

आप जैसे ही फास्टैग लगे वाहन से किसी टोल प्लाजा को पार कर लेंगे, तो आपके फास्टैग अकाउंट से बैलेंस कट जाएगा जिसकी जानकारी आपको एसएमएस द्वारा  प्राप्त हो जाएगी | आपको उस एसएमएस से मालूम हो जाएगा कि, आपके अकाउंट से कितनी राशि काटी गई है | आप अधिक जानकारी के लिए कस्टमर केयर नंबर 1800-102-6480, यह पेटीएम का फ़ास्ट टैग हेल्पलाइन नम्बर है|

यहाँ पर हमने आपको फास्टैग के लिए ऑनलाइन आवेदन जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि आपको इससे सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है, तो आप www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | इसके साथ ही यदि आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते हकें | हम आपके प्रश्न और सुझावी का इन्तजार कर रहें है |

ये भी पढ़े: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) क्या है?

ये भी पढ़े: रेलवे में स्टेशन मास्टर कैसे बने?

ये भी पढ़े: आरबीआई ग्रेड बी परीक्षा क्या है?

ये भी पढ़े: आईआईटी जैम (IIT JAM) क्या होता है?