ई गन्ना मोबाइल एप्प, वेब पोर्टल पर आवेदन

उत्तर प्रदेश सरकार जनता  की भलाई के लिए  अक्सर नई- नई योजनएं लागू करती आ रही है | इसके साथ ही सरकार ने किसानों  को सुविधा प्रदान करते हुए  एक और कदम बढ़ाया है | किसानों की मदद करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गन्ना किसानों से जुड़े एक अहम पोर्टल www.caneup.in एवं ई-गन्ना एप जारी  कर दिया है |  इस पोर्टल से किसान गन्ना सम्बन्धी सभी जानकारी  बहुत ही सरलता पूर्वक प्राप्त कर सकते है | ई गन्ना एप्प एक बेहद सरल एंड्राइड प्लेटफार्म के लिए एप्प है जिससे सभी किसान भाई अपने मोबाइल के जरिये अपने खेत और जुताई, रकबा, फसल, गन्ना पर्ची व अन्य प्रकार की सारी सुविधाए एक सरल एप्प के माध्यम से पा सकते है| यह एप्प सभी किसान भाई गूगल प्ले स्टोर के जरिये अपने मोबाइल फ़ोन पर डाउनलोड कर सकते है|

इसके साथ ही यूपी सरकार ने गन्ना किसानों की शिकायतों को दूर करने के लिए मोबाइल ऐप और वेब पोर्टल (caneup.in) के अलावा इनक्वायरी टर्मिनल की भी स्थापना की हैं। गन्ना विभाग द्वारा मुख्यालय पर टोल-फ्री नम्बर 1800-121-3203 की भी सुविधा हेतु व्यवस्था दी गई है | यहाँ पर आपको E Ganna App डाउनलोड कैसे करे,  के बारे में जानकारी दी जा रही है | इससे अलग किसान भाई अपने खेत और गन्ना पर्ची से सम्बंधित जानकारी kisaan.net portal से भी प्राप्त कर सकते है| इस पर हमने विस्तार से लेख भी प्रकाशित किया है आप जरूर पढ़े|

ये भी पढ़े: गन्ना पर्ची ऑनलाइन कैसे देखे 

ये भी पढ़े: केवाईसी (KYC) का मतलब क्या होता है

www.caneup.in वेब पोर्टल

  • ई-गन्ना एप को किसानो की सुविधा और इसमें पारदर्शिता लाने  के लिए विकसित किया गया है। जिसमे गन्ना से जुड़ा हुआ किसानों का पूरा डाटा इस पोर्टल और एप पर दिया गया है । वहीं, किसानो के लिए ही योगी सरकार द्वारा  www.caneup.in वेब पोर्टल साथ-साथ ई-गन्ना एप जारी किया गया है। जहाँ पहले सभी किसानो को गन्ना समिति कार्यलय के चक्कर लगाने पड़ते थे  लेकिन अब किसानों को  इस पोर्टल के जारी हो जाने के बाद गन्ना समिति कार्यालयों  और किसान घर बैठे पूरी जानकारी यहीं से प्राप्त करे सकेंगे |
  • इस वेब पोर्टल और ई-गन्ना एप में किसानों के लिए किसान गन्ना सर्वेक्षण, बेसिक कोटा, सट्‌टा, गन्ना कैलेंडरिंग, गन्ना पर्ची के निर्गमन तथा गन्ना आपूर्ति, संबंधी सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध कराई गई है |
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गन्ना मोबाइल ऐप (ई-गन्ना) लॉन्च करने पर राज्य के प्रमुख सचिव संजय भूसरेड्डी ने कहा, “इस व्यवस्था में चीनी मिलों पर किसी प्रकार की निर्भरता नही रहेगी और मिलों का अनावश्यक हस्तक्षेप नही हो पायेगा।”

ये भी पढ़े: राज्यपाल की नियुक्ति कौन करता है?

www.caneup.in वेब पोर्टल पर कैसे करें आवेदन 

  1. इस पोर्टल पर जानकारी प्राप्त करने के  लिए सभी किसान सबसे पहले caneup.in वेब पोर्टल पर जाएँ |

2. इसके बाद आपको यूजर नाम और पासवर्ड डालकर लॉग इन करे  |

3. फिर आपके सामने एक पेज खुलकर आएगा जिसमें, आप रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या बैंक अकाउंट नंबर या  माँगी अन्य सभी जानकारी  भरकर सबमिट कर दें |

 4. इसके बाद आपके सामने आपके द्वारा प्राप्त की जा रही सम्बन्धित जानकारी आ जाएगी |

 5. ऐसे आप आसानी से आवेदन कर सकते है |

ई गन्ना एप्प कैसे डाउनलोड करे

1.आप इस ऐप का लाभ लेने के लिए और उसे डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर या विभाग की वेबसाइट पर जाएँ |

2.इसके बाद अब ई-गन्ना एप के लिंक सर्च करके क्लिक कर दें |

3.फिर आप डाउनलोड आप्शन पर क्लिक करके इंस्टाल पर क्लिक कर दें |

4.इसके बाद आपका एप  शुरू हो जाएगा।

5.फिर आप गन्ना समिति में जानकारी, एप में फीड कर दें |

6.caneup.in वेब पोर्टल पर जाकर डायरेक्ट भी डाउनलोड कर सकते है |

हमने ऑनलाइन ई गन्ना एप्प के माध्यम से अपनी जानकारी कैसे चेक करे, इस पर एक विस्तार लेख दिया है और हमे आशा भी है कि आपको यह ई गन्ना से सम्बंधित जानकारी भी पसंद आई होगी| आपसे निवेदन है कि इस आर्टिकल को आगे भी शेयर करे और अपने किसान भाइयो की उम्मीद करे| 

ये भी पढ़े: भारतीय संविधान क्या है?

ये भी पढ़े: मुख्यमंत्री (CM) को पत्र कैसे लिखे?

ये भी पढ़े: गन्ना पर्ची कैलेंडर कैसे देखे?

ये भी पढ़े: टीआरपी (TRP) का मतलब क्या होता है