आईपीएस (IPS) ऑफिसर कैसे बने

आईपीएस (IPS) ऑफिसर एक अधिकारी रैंक की पोस्ट होती है,जिसका काम देश की आंतरिक सुरक्षा करना होता है | IPS बनने वाले सभी अभ्यर्थियों को सिविल सर्विस एग्जाम उत्तीर्ण करना होता है। इस पद के लिए  प्रत्येक वर्ष आवेदन जारी किये जाते है, जिसमें बड़ी तादाद में अभ्यर्थी आवेदन करते है | वहीं, प्रत्येक वर्ष UPSC (Union Public service Commission) इस परीक्षा का आयोजन करती है।  इसलिए यदि आप भी IPS Officer बनना चाहते हैं तो आप सही पोर्टल पर आए है | 

आईएएस कैसे बने ?

एक अच्छा और सच्चा आईपीएस ऑफिसर (IPS Officer) बनने के लिए आपको क्या करना होगा, आईपीएस की सैलरी व योग्यता क्या होती है और भी तमाम सवाल जो आपके मन में होगे, आपको हमारे इस आईपीएस सम्बंधित लेख से सबकी जानकारी बाखूबी प्राप्त हो जायेगी | सही व पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आपसे निवेदन है कि लेख को ध्यानपूर्वक पढ़े |

 

आईपीएस (IPS) क्या होता है ?

  • वर्ष 1948 में आईपीएस (IPS) ऑफिसर के पद  की  स्थापना  की गयी थी | आईपीएस कैडर गृह मंत्रालय के अधीन होता  है क्योंकि, गृह मंत्रालय द्वारा ही इसका पूरा नियंत्रण किया जाता है |
  • यह ग्रुप ‘अ’ स्तर का अधिकारी होता है जिस पर जिले या उसके क्षेत्र की कानून व्यवस्था संभालने की जिम्मेदारी होती है | यह उस क्षेत्र का पुलिस बल का मुखिया होता है और पूरा पुलिस प्रशासन उसके आधीन कार्य करता है | आईपीएस एक कठिन और जुझारू सेवा है जिसमे कर्तव्य और निष्ठा के साथ कार्य करने के लिए शपथ ली जाती है | जिले में SP या ACP की तैनाती आईपीएस रैंक के अधिकारी के स्तर पर होती है मतलब आईपीएस क्वालिफाइड ही इन पदों पर नियुक्त किये जाते है | कुछ पीसीएस पदों कोटे के आधार पर भी प्रमोशन के द्वारा यह पद दिए जाते है |
  • आईपीएस (IPS) का फुल फॉर्म  ‘Indian Police Service’ और हिंदी में ‘भारतीय पुलिस सेवा’ होता है

डीजीपी का मतलब क्या होता है ?

आईपीएस (IPS) ऑफिसर कैसे बने ?

यदि आप एक आईपीएस अधिकारी बनना चाहते है तो इसके लिए पात्रता व योग्यता वही है जो एक आईएएस अधिकारी बनने के लिए चाहिए होती है | आईपीएस (IPS) ऑफिसर बनने के लिए UPSC द्वारा आयोजित सिविल सर्विस परीक्षा पास करनी होती है | यूपीएससी परीक्षा साल में एक बार आयोजित की जाती है जिसका विज्ञापन फ़रवरी माह में प्रकाशित किया जाता है व जिसकी परीक्षा जून माह में आयोग द्वारा करायी जाती है | IPS Officer बनने के लिए आपको आयोग द्वारा स्थापित पात्रता या योग्यता रखना आवश्यक है जिसके लिए आपको गए बिन्दुओ पर कार्य करना चाहिए | 

एसपी (SP) कैसे बने ?

योग्यता (Eligibility)

शैक्षिक योग्यता  (Educational Eligibility)

आईपीएस बनने के लिए अभ्यर्थियों को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक होना अनिवार्य है, स्नातक के अंतिम वर्ष के छात्र भी इस परीक्षा में  शामिल हो सकते है |

आयु (Age Limit)

आईपीएस के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी की आयु 21 से 32 वर्ष के बीच में होनी चाहिए | आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए  इसमें छूट दी जाती है | 

शारीरिक योग्यता (Physical Eligibility)

अभ्यर्थी की लम्बाई (Height)

इस पद के लिए पुरुष अभ्यर्थियों की लंबाई 165 सेंटीमीटर होनी अनिवार्य है, आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 160 सेंटीमीटर तय किया गया है तथा महिला अभ्यर्थियों के लिए लंबाई 150 सेंटीमीटर होनी जरूरी है | आरक्षित वर्ग की महिला अभ्यर्थियों के लिए 145 सेंटीमीटर है |

सीना  

पुरुष अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 84 सेंटीमीटर तय की गई है तथा महिला अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 79 सेंटीमीटर होनी चाहिए |

दृष्टि

आईपीएस पद के लिए आई साइट 6/6 या 6/9 होना चाहिए | कमजोर आंखों के लिए  विज़न 6/12 या 6/9 होना अतिआवश्यक है |

Note: जानकारी को कन्फर्म करने के लिए यूपीएससी आईपीएस विज्ञापन के द्वारा जरूर चेक करे | उपरोक्त दिए गए आईपीएस मानदंड पर यदि आप खरा उतरते है तो आप सिविल सर्विसेज परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है |

प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता कैसे प्राप्त करे

आईपीएस परीक्षा के लिए तैयारी कैसे करे ?

यदि आईपीएस बनना चाहते है तो आपको सिविल सर्विसेज के लिए गहन अध्ययन करना चाहिए | सिविल सर्विसेज के माध्यम से उत्कृष्ट अभियार्थियो को छांटकर ही देश के उच्च प्रशासनिक पदों पर नियुक्तिया दी जाती है | यदि आप भी देश की इस उत्कृष्ट सेवा में अपना एक आईपीएस के रूप में देना चाहते है तो आपको परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करना होगा | आप एक आईएएस अधिकारी बनेगे या आईपीएस, इसका चुनाव आपकी मेरिट लिस्ट पर निर्भर करेगा | यदि आप यूपीएससी परीक्षा के लिए आवेदन करते है तो आपको निम्न चरण द्वारा गुजरना होगा : –

प्रारम्भिक परीक्षा (Premilary Exam)

इस परीक्षा में आपको General StudiesCSAT के दोनों पेपर में क्वालीफाई करना होगा | कम से कम 5 लाख अभियार्थी इस चरण में प्रतिभाग करते है और प्रीलिम पास करने के बाद मैन्स या मुख्य परीक्षा के लिए शोर्टलिस्ट होते है | यह परीक्षा Objective Type होती है जिसे वस्तुनिष्ठ प्रश्न पत्र भी कहते है | इस चरण के अंक मेरिट लिस्ट में नहीं गिने जाते है |

मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

इस परीक्षा में आपसे यूपीएससी के सामान्य अध्ययन के सभी प्रश्न पत्र पूछे जाते है | यह परीक्षा Descriptive फॉर्म में होती है और सबसे ज्यादा गहन विषय की समझ इसी पेपर के आधार पर निर्धारित होती है | इन्ही पेपर के आधार पर मेरिट लिस्ट बनती है जिसमे इंटरव्यू के भी नम्बर जोड़े जाते है | यह परीक्षा 5 दिन तक चलती है जिसमे GS Paper, निबंध व अनिवार्य भाषा आधारित प्रश्न पत्र होते है | 

आईपीएस इंटरव्यू (Personal Interview)

यह परीक्षा का अंतिम चरण है और निर्णायक भी | यदि परीक्षा के मैन्स में आपने अच्छे अंक प्राप्त किये है लेकिन इंटरव्यू में अच्छे अंक नहीं आ पाए तो आपको कम रैंक से संतोष करना होगा | आयोग पैनल करीबन 45 मिनट तक आपका इंटरव्यू लेता है जिसमे आपकी पर्सनालिटी चेक की जाती है | आपसे तार्किक प्रश्न पूछे जाते है और उस पर आपकी प्रतिक्रिया व विचार के आधार पर आपको अंक दिए जाते है | सभी प्रश्न का जवाब देना जरूरी नहीं है और आप प्रश्न स्किप भी कर सकते है |

मेरिट लिस्ट का निर्धारण (Merit List)

सभी चरण पूरे हो जाने के बाद आयोग मुख्य परीक्षा व इंटरव्यू के आधार पर मेरिट लिस्ट घोषित करता है | सबसे अव्वल अंक वालो को आईएएस, आईपीएस, आईएफएस, आईआरएस जैसे रैंक से नवाज़ा जाता है | 

ट्रेनिंग (IPS Training)

मेरिट लिस्ट के बाद, सभी क्वालिफाइड अभियार्थियो को LBSNAA ट्रेनिंग अकादमी में भेजा जाता है | आईपीएस ऑफिसर को भी लबसना में 6 माह की ट्रेनिंग दी जाती है व उसके बाद की ट्रेनिंग हैदराबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल पुलिस अकादमी होती है | वहां पर उनसे  भारतीय दंड संहिता, स्‍पेशल लॉ और क्रिमिनोलॉजी की ट्रेनिंग कराई जाती है |

आईपीएस ऑफिसर (IPS) को कितनी सैलरी (Salary) व सुविधाए (Perks) मिलती है ?

आईपीएस अधिकारी को उसके पद व प्रतिष्ठा के अनुसार वेतन के साथ – साथ अन्य प्रकार के भत्ते भी दिए जाते है | एक नवनियुक्त आईपीएस अधिकारी को करीबन 56, 100 रूपये का वेतन दिया जाता है | वरिष्ठता के साथ सैलरी व भत्ते भी बढ़ते रहते है :-

Rank

7th Pay Commission Pay Scale

Director General of Police/ Director of IB or CBI

2,25,000.00 INR

Director General of Police

2,05,400.00 INR

Inspector General of Police

1,44,200.00 INR

Deputy Inspector General of Police

1,31,100.00 INR

Senior Superintendent of Police

78,800.00 INR

Additional Superintendent of Police

67,700.00 INR

Deputy Superintendent of Police

56,100.00 INR

IPS पेपर के विषय में जानकारी

पेपर A (क्वालिफाइंग)

इसमें कैंडिडेट्स को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल की गईं किसी भी एक भारतीय भाषा का चयन करना होगा, और यह 300 अंक का होगा |

पेपर B (क्वालिफाइंग)   

इसमें अंग्रेजी विषय होगा और यह 300 अंक का होगा |

सामान्य अध्ययन

  • पेपर- I : निबंध लेखन – यह 250 अंक का होगा |
  • पेपर II : जनरल स्टडीज़-I  – इसके अंतर्गत भारतीय विरासत और संस्‍कृति, दुनिया और समाज का इतिहास, भूगोल विषय होंगे, यह 250 अंक का होगा |
  • पेपर III : जनरल स्टडीज़-II – इसके अंतर्गत गवर्नेंस, संविधान, राजतंत्र, सामाजिक न्याय और अंतरराष्ट्रीय संबंध विषय होंगे – यह 250 अंक का होगा |
  • पेपर IV : जनरल स्टडीज़-III – टेक्नोलॉजी, इकनॉमिक डेवलपमेंट, बायो-डायवर्सिटी, पर्यावरण, सुरक्षा और आपदा प्रबंधन आदि विषय होंगे – यह 250 अंक का होगा |
  • पेपर V : जनरल स्टडीज-IV इसके अंतर्गत आने वाले विषयों में – आचार नीति, अखंडता, एप्टीट्यूड होंगे – यह 250 अंक का होगा |
  • पेपर VI : ऑप्शनल सब्जेक्ट: पेपर-I  – यह 250 अंक का होगा |
  • पेपर VII : ऑप्शनल सब्जेक्ट: पेपर-II – यह 250 अंक का होगा |

कुल योग (Total Marks)

  • इस पद के लिए लिखित परीक्षा का कुल योग  1750 अंक का होगा
  • इंटरव्यू 275 अंक का निर्धारित किया गया |
  • कुल अंकों का योग 2025 निर्धारित किया गया |

CDO (Chief Development Officer) कैसे बने

आईपीएस के लिए परीक्षा में शामिल विषय

अभ्यर्थी एग्रीकल्‍चर, एनिमल हस्‍बेंड्री और वेटनरी साइंस, मानव विज्ञान, बॉटनी, केमिस्‍ट्री, सिविल इंजीनियरिंग, कॉमर्स और एकाउंटेंसी, इकनॉमिक्‍स, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, भूगोल, भू-विज्ञान, इतिहास, लॉ, मैनेजमेंट, मकेनिकल इंजीनियरिंग, मेडिकल साइंस, फिलॉसफी, फिजिक्‍स, पॉलिटिकल साइंस और अंतरराष्‍ट्रीय संबंध, मनोविज्ञान, पब्लिक एडमिनिस्‍ट्रेशन, समाजशास्‍त्र, स्‍टेटस्टिक्‍स, जू़लॉजी और भाषा (चयन की हुई) का चुनाव वैकल्पिक विषय के रूप में किया जा सकता है |

आईपीएस ऑफिसर के कार्य

  • एक आईपीएस अधिकारी  का मुख्य काम कानून और कुख्यात अपराधियों को अपराध करने से  रोकने का होता है आईपीएस ऑफिसर अपराधियों को सजा देने के लिए  उन्हें गिरफ्तार करता है |
  • इसके साथ ही वह अपराध को रोकने के साथ-साथ नशीली दवाओं की तस्करी, मानव तस्करी, सीमा सुरक्षा को बनाए रखने, आतंकवाद को रोकने, रेलवे पुलिस और साइबर अपराधों का निरीक्षण करने का काम करता है | इसके अतिरिक्त वह इन सभी गैर कानूनों कामो पर नजर रखता है |
  • कुशल और अनुभवी आईपीएस अधिकारियों को  सीबीआई (CBI), रॉ (RAW), और आईबी (IB) अर्धसैनिक बलों जैसे असम राइफल्स, बीएसएफ, सीआरपीएफ, आईटीबीपी जैसी खुफिया एजेंसियों का नेतृत्व दिया जाता है | 

Income Tax Officer Kaise Bane ?

FAQ

आईपीएस बनने के क्या योग्यता है ?

आपको किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन से पास होना अनिवार्य है |

आईपीएस का एग्जाम कैसे होता है ?

आईपीएस का चयन यूपीएससी परीक्षा द्वारा किया जाता है |

इस पूरी पोस्ट हमने आपको IPS Officer Kaise Bane | सैलरी, योग्यता, आईपीएस के अधिकार, फुल फॉर्म के बारे में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध करायी है | यदि आपको इससे सम्बंधित कोई अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है और साथ ही आप हमारे कमेंट बॉक्स के माध्यम से अपने सुझाव अथवा प्रश्न पूछ सकते है |