जमीन की जानकारी ऑनलाइन कैसे देखे?

आज के समय में भारत डिजिटल की तरफ बढ़ रहा है, इससे पेपर वर्क कम होकर ऑनलाइन समाग्री बढ़ रही है, ऑनलाइन होने से हम किसी भी स्थान से उस सामग्री को देख कर जानकारी प्राप्त कर सकते है | भारत में अक्सर भूमि सम्बन्धी विवाद देखने को मिलते है, इसका मुख्य कारण सामान्य जन-मानस को ऑनलाइन सेवाओं को यूज न करने की जानकारी होना है | आज के समय में लगभग प्रत्येक राज्य ने अपने राज्य की भूमि का विवरण ऑनलाइन कर दिया है, इसके द्वारा आप घर बैठे अपनी जमीन के विषय में जानकारी प्राप्त कर सकते है |

इसी को ध्यान में रखते हुए यह लेख उन सभी पाठको को ध्यान में रखकर लिखा गया है, जिन्हें अपनी जमीन की जानकारी ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त करना नहीं आता है| आज हम वो सारी प्रक्रिया के बारे में आपको काफी विस्तार से बताएंगे, जिससे आप अपनी जमीन से जुडी जानकारी जैसे खसरा नम्बर, खतोनी और जमीन की पैमाइश ऑनलाइन ही हेक्टर यूनिट में देख सकते है |

हम जानते है कि जमीनी विवाद काफी जटिल होते है और साथ में घातक भी, कुछ ही मिनटों में बड़े-बड़े जमीनी घोटाले हो जाते है जिसमे नकली और फर्जी जमीन की रजिस्ट्री हो जाती है और जमीन खरीदार को अच्छा ख़ासा चूना लग जाता है | अब नए प्रावधानों के अनुसार सारी रजिस्ट्री को ऑनलाइन करने का निर्णय लिया गया है और इसका बेहद सख्ती से पालन भी कराया जा रहा है जिससे ऐसे फ्रॉड से बचा जा सके और जमीन खरीदने वाले के हितो की रक्षा हो सके |

आप अब जमीन से जुडी तमाम जानकारी जिसमे गाटर संख्या, खसरा और खतोनी शामिल है, चुटकी भर में देख सकते है| इसके लिए आप पूरा लेख सही पढ़े और अच्छा लगने पर आगे भी शेयर करे| 

खसरा क्या है (What is Khasra Number)?

खसरा एक प्रकार का भूमि अभिलेख है, इस अभिलेख में भूस्वामी को एक नंबर एलॉट कर दिया जाता है, इस नंबर के आधार पर भूमि का क्षेत्रफल और उससे सम्बंधित जानकारी प्रदान की जाती है | सरकारी रिकार्ड में इसी नंबर के आधार पर सूचना को संरक्षित किया जाता है |

खतौनी क्या है (What is Khatauni)?

खतौनी भी एक भूमि अभिलेख है, इसमें भूस्वामी (land owner) के सभी खसरों की जानकारी एक स्थान पर दी जाती है, इससे अलग- अलग जानकारी प्राप्त करने की आवश्यकता नहीं होती है |

जज (JUDGE) कैसे बने?

अपनी जमीन कैसे देखे (How To Check Land Records Online)?

अपनी जमीन या भूमि की जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा | यहाँ पर उत्तर प्रदेश राज्य से सम्बंधित जानकारी दी जा रही यदि आप अन्य राज्य से सम्बंधित है, तो आपको अपने राज्य की वेबसाइट पर जाना होगा लगभग सभी राज्यों में देखने का तरीका एक ही है |

ऑफिसियल भू लेख पोर्टल पर विजिट करे 

सबसे पहले http://upbhulekh.gov.in/ पर विजिट करना होगा | आपके समय इस प्रकार का होम पेज ओपन हो जायेगा | समय के अनुसार होम पेज की डिजायन में परिवर्तन भी हो सकता है, वर्तमान समय में यह इस प्रकार से है |

इस पेज पर आपको कई प्रकार के लिंक देखने को मिलेंगे जिसके माध्यम से आप अपनी इच्छा के अनुसार जानकारी प्राप्त कर सकते है | मुख्य रूप से आपको यहाँ पर इस प्रकार के लिंक प्राप्त होंगे-

  • राजस्व ग्राम खतौनी का कोड जाने
  • भूखंड/गाटे का यूनिक कोड जाने
  • भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति जाने
  • भूखंड/गाटे की विक्रय स्थिति जाने
  • खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नक़ल देखे
  • खतौनी अंश निर्धारण की नक़ल देखे

 लेखपाल (LEKHPAL) कैसे बने

जनपद व तहसील चुने  

आप जैसे ही इन विकल्पों पर क्लिक करेंगे आप के सामने एक नया पेज इस प्रकार का ओपन हो जायेगा | यदि आप खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नक़ल पर क्लिक करते है, तो आपके सामने कैप्चा कोड का पेज ओपन होगा वहां पर कोड डालने के बाद ही इस प्रकार का पेज खुलेगा |

ग्राम का नाम या कोड दर्ज़ करे  

इस पेज पर आपको अपने जनपद, तहसील और ग्राम का नाम या कोड को डालना होगा |

ख़सरा/गाटर संख्या दर्ज़ करे  

अब आपके सामने इस प्रकार की विंडो ओपन हो जाएगी यहाँ पर आपको खसरा/ गाटा संख्या के विकल्प में अपनी खसरा/ गाटा संख्या को डालना होगा इसके बाद खोजे पर क्लिक करना है |

विक्रय प्रस्थिति पर क्लिक करे 

खोजे पर क्लिक करने के बाद आपको विक्रय प्रस्थिति पर क्लिक करना है | अब आपके सामने रिपोर्ट ओपन हो जाएगी | इस प्रकार से आप होम पेज पर दिए गए सभी विकल्पों का प्रयोग कर सकते है |

जमीन की वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त करे

जैसे आप विक्रय प्रस्थिति पर क्लिक करते है तो आपके सामने दर्ज की गयी जानकारी के आधार पर उस जमीन के लिए समस्त जानकारी ऑनलाइन आ जायेगी जिसे आप प्रिंट भी करा सकते है तथा जरुरत के अनुसार इसका उपयोग डॉक्यूमेंट के रूप में कर सकते है जैसे बिजली का कनेक्शन लेने में आदि |

यदि आप इस प्रकार सभी स्टेप को सही से फॉलो करते है तो आप बेहद ही आसानी से जान पायेगे कि किस जमीन का मालिक कौन है ? या यह किसके नाम पर आवंटित है | इस प्रकार आप यदि किसी भी राज्य में कोई जमीन खरीदना चाहते है तो आप राज्य द्वारा निर्धारित ऑफिसियल भू लेख पोर्टल द्वारा घर बैठे किसी भी जमीन की जानकारी आसानी से प्राप्त कर सकते है |

RIP का क्या मतलब क्या होता है?

अन्य राज्यों के लिए ऑनलाइन भू लेख पोर्टल की सूची

आप नीचे दिए गए अन्य राज्यों की वेबसाइट पर विजिट कर के भूमि की जानकारी भी प्राप्त कर सकते है-

राज्य वेबसाइट
उत्तरप्रदेश (UP) भूलेखhttp://upbhulekh.gov.in/
मध्यप्रदेश (MP) भूलेखhttps://mpbhulekh.gov.in/Login.do
झारखण्ड भूलेखhttps://jharbhoomi.jharkhand.gov.in/
छत्तीसगढ़ (CG) भूलेखhttps://bhuiyan.cg.nic.in/
ओडिशा भूलेखhttp://bhulekh.ori.nic.in/RoRView.aspx
हरियाणा भूलेखhttps://jamabandi.nic.in/
केरला भूलेखhttp://erekha.kerala.gov.in/
आँध्रप्रदेश भूलेखhttps://meebhoomi.ap.gov.in/Home.aspx
बिहार भूलेखhttp://lrc.bih.nic.in/ror.aspx
उत्तराखंड भूलेखhttp://bhulekh.uk.gov.in/Bhulekh/
तमिलनाडु भूलेखhttps://eservices.tn.gov.in/eservicesnew/index.html
कर्नाटक भूलेखhttps://www.landrecords.karnataka.gov.in/service22/

यदि आपको अपनी जमीन की जानकारी सही प्राप्त नहीं हो रही है तो आप अपनी समस्या कमेंट बॉक्स के माध्यम से साझा कर सकते है | हमे उम्मीद है कि हमारे लेख द्वारा अब आप जमीन की जानकारी आसानी से जूटा पायेगे, लेकिन फिर भी आप एक योग्य वकील की सलाह जरूर ले |