लेखपाल (LEKHPAL) कैसे बने

हमारा भारत गाँवों और शहरों से मिलकर बना है, गावों और शहर में भूमि सम्बंधित कार्य लेखपाल के द्वारा किये जाते है | लेखपाल का पद राज्य सरकार के अधीन आता है | उत्तर प्रदेश में राज्य सरकार लेखपाल पद पर भर्ती उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (UPSSSC) के द्वारा करती है | समय- समय पर राज्य सरकार की स्वीकृति के बाद चयन बोर्ड इसके लिए विज्ञापन जारी करता है | जिसके बाद लेखपाल बनने हेतु अभ्यर्थी आवेदन कर सकते है | लेखपाल एक राज्य का क्लर्क (Clerk) पोस्ट का कर्मचारी होता है जो भूमि का आवटंन, रेवेनुए व भूमि का लेखा – जोखा (Accounts) तैयार करता है व अपने रिकॉर्ड में सयोंजित रखता है | Lekhpal को अंग्रेजी में Accountant कहते है |

ये भी पढ़े: ग्राम विकास अधिकारी (VDO) कैसे बने? 

लेखपाल कैसे बने (How to Become Lekhpal)

लेखपाल बनने के लिए अभ्यर्थी को अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड द्वारा जारी किये गए विज्ञापन के अनुसार आवेदन करना होगा | आवेदन करने के बाद बोर्ड के द्वारा एक नियत तिथि को परीक्षा का आयोजन किया जायेगा | इस परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद आपका नाम मेरिट में आ सकता है | मेरिट में नाम आने के बाद आप इस पद पर चयनित हो सकते है | लेखपाल का पद सी ग्रेड में आता है, यह दो प्रकार के होते है-

  • राजस्व लेखपाल
  • चकबंदी लेखपाल

योग्यता (Eligibility)

लेखपाल बनने के लिए अभ्यर्थी को किसी मान्यता प्राप्त संस्था से इंटरमीडियट परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है |

आयु सीमा 

लेखपाल भर्ती के लिए कितनी आयु आयोग द्वारा निर्धारित है इसकी सटीक जानकारी ऑफिसियल विज्ञापन आने के बाद ही आपको उपलब्ध हो पाएगी | लेकिन पिछली भर्ती के आधार पर यह 18 – 40 वर्ष निर्धारित है, किसी राज्य में यह भिन्न भी हो सकती है |

कम्यूटर ज्ञान

अभ्यर्थी को निएलिट (NIELIT) द्वारा जारी कोर्स ऑन कम्‍प्‍यूटर कॉनसेप्‍ट्स (सीसीसी) OR CCC उत्तीर्ण होना अनिवार्य है |

लेखपाल के कार्य (Work of Lekhpal)

एक लेखपाल के रूप में आपको राजस्व विभाग में भूमि से सम्बंधित कार्य करने होंगे जैसे भूमि की पैमाइश करना, Aay Praman Patra, Jati Praman Patra, निवास प्रमाण पत्र जारी करना, कृषक दुर्घटना बीमा, विधवा, वृद्धवस्था, विकलांग पेंशन दिलवाने में सहयोग करना | सरकार द्वारा निर्देश जारी करने पर कृषि गणना, पशु गणना तथा अन्य आर्थिक सर्वेक्षण में भाग लेना | यदि किसी क्षेत्र को सूखा घोषित किया जाता है, उसमें हुए नुकसान की गणना करना और डाटा सरकार को देना होता है | एक लेखपाल राजस्व अभिलेखों को अपडेट रखता है |

सैलरी (Salary)

सरकारी दिशा- निर्देश के अनुसार लेखपाल का वेतन ग्रेड पे 5200 -20200 रुपये है |

ये भी पढ़े: क्लर्क (CLERK) कैसे बने?

परीक्षा पैटर्न (Exam Pattern)

विषय अंक प्रश्नों की सं०
सामान्य हिंदी 25 25
गणित 25 25
सामान्य ज्ञान 25 25
गांव ग्राम समाज और विकास 25 25

इस परीक्षा में चार विषयों सामान्य हिंदी, गणित, सामान्य ज्ञान, गांव ग्राम समाज और विकास से प्रश्न पूछे जाते है | कुल 100 अंकों का प्रश्न पत्र होता है | मेरिट का निर्माण लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाता है, यदि आपको अच्छे अंक प्राप्त होते है, तो आप लेखपाल पद पर चयनित हो सकते है | इसमें साक्षात्कार नहीं होता है (100% True) | 

लेखपाल परीक्षा तैयारी कैसे करे ? (Preparation Tips)

  • यदि पहली बार लेखपाल परीक्षा के विषय में विचार कर रहे है तो आपको बता दे कि एक नए बदलाव के साथ, आयोग (UPSSSC) ने भर्ती के लिए एक PET परीक्षा का जुड़ाव किया है जिसकी जानकारी आपको इसी पोर्टल पर उपलब्ध हो जायेगी|
  • परीक्षा में अपनी योग्यता साबित करने के लिए आपको पहले लेखपाल परीक्षा के लिए निर्धारित UPSSSC PET परीक्षा को पास करना होगा |
  • लेखपाल परीक्षा में सफल होने के लिए आपको छ: महीने पहले से ही तैयारी शुरू कर देनी चाहिए |
  • परीक्षा में अधिक अंक प्राप्त करने के लिए आपको चयन बोर्ड द्वारा तय किये गए पाठ्यक्रम का अच्छे से अध्ययन करना चाहिए इसके बाद आपको तैयारी शुरू करना चाहिए |
  • तैयारी करने के लिए हिंदी, गणित, सामान्य ज्ञान, गांव ग्राम समाज और विकास पर बराबर से ध्यान देना होगा |
  • गणित के प्रश्नों को हल करने के लिए आपको अधिक से अधिक शार्ट ट्रिक का प्रयोग करना चाहिए जिससे आप कम समय में अधिक प्रश्नों को हल कर सके |
  • सामान्य ज्ञान में आपको पिछले छ: महीने में घटित होने वाली घटनाओं और अन्य जानकारियों के बारे में विस्तृत ज्ञान होना चाहिए | सामान्य ज्ञान में इतिहास, विज्ञान, भूगोल, संविधान और दैनिक जीवन में उपयोग होने वाली चीजों के विषय में पूछा जा सकता है |
  • गांव ग्राम समाज और विकास में आपको राज्य सरकार और केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं के विषय में सही से जानकारी होनी चाहिए |
  • हिंदी में आप से शुद्ध वाक्य, विलोम, पर्यायवाची, कई शब्दों के लिए एक शब्द इत्यादि प्रश्न पूछे जा सकते है, आपको इसके बारे में सही से जानकारी होनी चाहिए |
  • अच्छी तैयारी करने के लिए आपको एक समय सारणी को बनाना चाहिए, आपको उसी के अनुरूप तैयारी करनी चाहिए इससे आपका ध्यान सभी विषयों पर बराबर से बना रहेगा |

ये भी पढ़े: एलआईसी एएओ (LIC AAO) कैसे बने?