Lockdown 4.0 Guidelines in Hindi

भारत को लेकर लगभग विश्व के 190 देश कोरोना वायरस के विरुद्ध लड़ रही जंग के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम संबोधन में लॉकडाउन 4.0 की संकेत कर दिया है। लॉकडाउन फेज 4 17 मई के बाद नए नियमों के साथ आगे बढाया जायेगा । जबकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में लॉकडाउन 4.0 को लेकर जो इशारा किये हैं, उससे यह पता चलता है कि लॉकडाउन का चौथा फेज अब तक के फेज से अलग तरह का रहेगा । इस चरण में न सिर्फ ज्यादा छूट दी जाएंगी, परंतु राज्य सरकारों को भी अधिकार दिया जा सकता है, कि वह निर्णय ले सकते है कि किस तरीके से इस कोरोना महामारी से बच कर निकलना है । लॉकडाउन 4.0 के चौथे फेज में अर्थव्यवस्था को चलाने पर ध्यान दी जा सकती हैं । यदि आप भी LOCKDOWN 4.0 GUIDELINES IN HINDI | लॉकडाउन फेज 4 में छूट व नियम बारे में जानना चाहते है तो यहाँ पर पूरी जानकारी प्रदान की गई है |

LOCKDOWN 3.0 GUIDELINES IN HINDI

लॉकडाउन (LOCKDOWN)-4 नए नियमों के साथ होगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश संबोधन में यह बात स्पष्ट कर दिया है कि देश भर में चल रहा लॉकडाउन अभी हटने वाला नहीं है, क्योंकि कोरोना वायरस के कारण से देश में लॉकडाउन 4.0 भी लागू होगा । लेकिन, प्रधानमंत्री ने यह स्पष्ट तौर पर संकेत किये है, कि 18 मई से जो लॉकडाउन 4.0 चालू होने वाला है, वह अलग नियमों के साथ होगा ।

LOCKDOWN 4.0 में छूट का दायरा और बढ़ सकता है

कोरोना वायरस के भयानक प्रकोप को देखते हुए देश को पूर्ण रूप से छूट नहीं दिया जा सकता है। यही कारण है कि अब चरणबद्ध तरीके से छूट का दायरा बढ़ाकर अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए  कोशिश की जाएगी। इस बार राज्यों के सलाहों को ज्यादा अहिमियत दी जा सकती है। तभी प्रधानमंत्री ने कहा है कि मुझे पूरा विश्वाश है कि नियमों का पालन करते हुए हम लोग कोरोना वायरस से लड़ते हुए आगे भी बढ़ेंगे ।

आरोग्य सेतु ऐप क्या है

लॉकडाउन फेज 4 में राज्यों को मिल सकता हैं ज्यादा अधिकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन से एक दिन पहले राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की थी । इस बैठक के दौरान राज्यों को कोरोना लॉकडाउन को लेकर सलाह देने के लिए कहा गया । कई प्रदेशों ने इस बैठक में ही लॉकडाउन को बढ़ाने का सलाह दिया तो कई प्रदेशों ने लॉकडाउन खोलने अथवा अधिक छूट देने के बारे में सुझाव दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों को लॉकडाउन पर 15 मई तक सुझाव देने को कहा है । इतना ही नहीं, प्रदेशों की तरफ से प्रधानमंत्री के सामने लॉकडाउन में छूट, आर्थिक गतिविधियों को चलाने को लेकर और अलग-अलग जोनों के बंटवारे संबंधी निर्णय लेने के लिए राज्यों पर छोड़ने जैसे प्रस्ताव पेश किये गए है।

सोशल डिस्टेंस (SOCIAL DISTANCING) का क्या मतलब है

यहाँ आपको LOCKDOWN 4.0 GUIDELINES के बारे में जानकारी प्रदान की गई | यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करे और अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही निवारण किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

प्लाज्मा चिकित्सा क्या है