Lord Shiva Names in Hindi

Lord Shiva All Names in Hindi (भगवान शिव के नाम)

सनातन धर्म में तीन प्रमुख देव ब्रह्मा, विष्णु और महेश (different names of lord shiva) अर्थात शिव मानें गये है | शास्त्रों के अनुसार, ब्रह्माजी की उत्पत्ति भगवान विष्णु की नाभि से मानी जाती है, जबकि भगवान भोलेनाथ की उत्पत्ति को लेकर अलग अलग धारणाएं हैं | कहा जाता है, कि आज से लाखों वर्ष साल पहले जब देवी-देवताओं नें अपनें चरण इस पृथ्वी रखे थे, उस समय में धरती हिमयुग की चपेट में थी | इस दौरान भगवन शिव नें पृथ्वी के केंद्र कैलाश पर्वत को अपना निवास स्थान बनाया |

शास्त्रों के अनुसार, धरती पर जीवन के प्रचार-प्रसार का कार्य सबसे पहले भगवन शिव ने ही किया था, जिसके कारण उन्हें आदि देव भी कहा जाता है और सभी देवी-देवताओं में सबसे श्रेष्ठ माना जाता है | भगवान शिव बहुत दयालु है, शिवलिंग पर दूध या जल चढ़ाने से ही वह प्रसन्न हो जाते हैं और अपनें भक्तों की सभी मनोकानायें पूरी करते हैं | क्या आप जानते है, कि भगवान शिव के कितने नाम है ? भगवान शिव को भोलेनाथ, महादेव को मिलकर ऐसे 108 नाम है, जिनका स्मरण करनें मात्र से लोगो के कष्ट पल भर में दूर हो जाते है |  तो आईये जानते है, names of lord shiva for baby boy भगवान शिव के नामों के बारें में |

रहीम दास जी के दोहे हिंदी में अर्थ सहित

भगवान शिव के कितने नाम है (108 Names of Lord Shiva)

भगवान शिव के 108 नाम अर्थ सहित इस प्रकार है-

क्र०स०

नाम

अर्थ

1.

शिव

कल्याण स्वरूप

2.

महेश्वर

माया के अधीश्वर

3.

शम्भू

 आनंद स्वरूप वाले

4.

पिनाकी

 पिनाक धनुष धारण करने वाले

5.

शंकर

 सबका कल्याण करने वाले

6.

शूलपाणी

 हाथ में त्रिशूल धारण करने वाले

7.

खटवांगी

 खटिया का एक पाया रखने वाले

8.

विष्णुवल्लभ

 भगवान विष्णु के अति प्रिय

9.

कपर्दी

 जटाजूट धारण करने वाले

10.

विरूपाक्ष 

विरूपाक्ष 

11.

भव

 संसार के रूप में प्रकट होने वाले

12.

शर्व

 कष्टों को नष्ट करने वाले

13.

शशिशेखर

 सिर पर चंद्रमा धारण करने वाले

14.

वामदेव

 अत्यंत सुंदर स्वरूप वाले

15.

शिपिविष्ट

 सितुहा में प्रवेश करने वाले

16.

अंबिकानाथ

 देवी भगवती के पति

17.

शिवाप्रिय

 पार्वती के प्रिय

18.

उग्र

 अत्यंत उग्र रूप वाले

19.

गंगाधर

 गंगा जी को धारण करने वाले

20.

नीललोहित

 नीले और लाल रंग वाले

21.

महाकाल

 कालों के भी काल

22.

कृपानिधि

 करूणा की खान

23.

शितिकण्ठ

 सफेद कण्ठ वाले

24.

श्रीकण्ठ

 सुंदर कण्ठ वाले

25.

भक्तवत्सल

 भक्तों को अत्यंत स्नेह करने वाले

26.

ललाटाक्ष

 ललाट में आंख वाले

27.

त्रिलोकेश

 तीनों लोकों के स्वामी

28.

परशुहस्त

 हाथ में फरसा धारण करने वाले

29.

त्रिपुरांतक

 त्रिपुरासुर को मारने वाले

30.

मृगपाणी

 हाथ में हिरण धारण करने वाले

31.

सुरसूदन

 अंधक दैत्य को मारने वाले

32.

जटाधर

 जटा रखने वाले

33.

कैलाशवासी

 कैलाश के निवासी

34.

वृषांक

 बैल के चिह्न वाली ध्वजा वाले

35.

वृषभारूढ़

 बैल की सवारी वाले

36.

कवची

 कवच धारण करने वाले

37.

कठोर

 अत्यंत मजबूत देह वाले

38.

भीम

 भयंकर रूप वाले

39.

कपाली

 कपाल धारण करने वाले

40.

कामारी

 कामदेव के शत्रु, अंधकार को हरने वाले

41.

दुर्धुर्ष

 किसी से नहीं दबने वाले

42.

गिरीश

 पर्वतों के स्वामी

43.

भस्मोद्धूलितविग्रह

 सारे शरीर में भस्म लगाने वाले

44.

सामप्रिय

 सामगान से प्रेम करने वाले

45.

सदाशिव

 नित्य कल्याण रूप वाल

46.

विश्वेश्वर

 सारे विश्व के ईश्वर

47.

स्वरमयी

 सातों स्वरों में निवास करने वाले

48.

त्रयीमूर्ति

 वेदरूपी विग्रह करने वाले

49.

प्रजापति

 प्रजाओं का पालन करने वाले

50.

हिरण्यरेता

 स्वर्ण तेज वाले

51.

अनीश्वर

 जो स्वयं ही सबके स्वामी है

52.

सर्वज्ञ

 सब कुछ जानने वाले

53.

वीरभद्र

 वीर होते हुए भी शांत स्वरूप वाले

54.

गणनाथ

 गणों के स्वामी

55.

परमात्मा

 सब आत्माओं में सर्वोच्च

56.

सोमसूर्याग्निलोचन

 चंद्र, सूर्य और अग्निरूपी आंख वाले

57.

सोम

 उमा के सहित रूप वाले

58.

पंचवक्त्र

 पांच मुख वाले

59.

हवि

 आहूति रूपी द्रव्य वाले

60.

यज्ञमय

 यज्ञस्वरूप वाले

61.

भूतपति

 भूतप्रेत या पंचभूतों के स्वामी

62.

स्थाणु

 स्पंदन रहित कूटस्थ रूप वाले

63.

गिरिश्वर

 कैलाश पर्वत पर सोने वाले

64.

अनघ

 पापरहित

65.

मृत्युंजय

 मृत्यु को जीतने वाले

66.

सूक्ष्मतनु

 सूक्ष्म शरीर वाले

67.

भगवान्

 सर्वसमर्थ ऐश्वर्य संपन्न

68.

प्रमथाधिप

 प्रमथगणों के अधिपति

69.

जगद्व्यापी

 जगत् में व्याप्त होकर रहने वाले

70.

जगद्गुरू

 जगत् के गुरू

71.

गिरिधन्वा

 मेरू पर्वत को धनुष बनाने वाले

72.

गिरिप्रिय

 पर्वत प्रेमी

73

व्योमकेश

 आकाश रूपी बाल वाले

74.

महासेनजनक

 कार्तिकेय के पिता

75.

भुजंगभूषण

 सांपों के आभूषण वाले

76.

भर्ग

 पापों को भूंज देने वाले

77.

चारुविक्रम

 सुन्दर पराक्रम वाले

78.

रूद्र

 भयानक

79.

कृत्तिवासा

 गजचर्म पहनने वाले

80.

पुराराति

 पुरों का नाश करने वाले

81.

अहिर्बुध्न्य

 कुण्डलिनी को धारण करने वाले

82.

दिगम्बर

 नग्न, आकाशरूपी वस्त्र वाले

83.

दक्षाध्वरहर

 दक्ष के यज्ञ को नष्ट करने वाले

84.

हर

 पापों व तापों को हरने वाले

85.

अष्टमूर्ति

 आठ रूप वाले

86.

अनेकात्मा

 अनेक रूप धारण करने वाले

87.

पूषदन्तभित्

 पूषा के दांत उखाड़ने वाले

88.

अव्यग्र

 कभी भी व्यथित न होने वाले

89.

सात्त्विक

 सत्व गुण वाले

90.

शुद्धविग्रह

 शुद्धमूर्ति वाले

91.

अव्यय

 खर्च होने पर भी न घटने वाले

92.

हरि

 विष्णुस्वरूप

93.

शाश्वत

 नित्य रहने वाले

94.

खण्डपरशु

 टूटा हुआ फरसा धारण करने वाले

95.

देव

 स्वयं प्रकाश रूप

96.

महादेव

 देवों के भी देव

97.

अज

 जन्म रहित

98.

पाशविमोचन

 बंधन से छुड़ाने वाले

99.

मृड

 सुखस्वरूप वाले

100.

पशुपति

 पशुओं के स्वामी

101.

अपवर्गप्रद

 कैवल्य मोक्ष देने वाले

102.

भगनेत्रभिद्

 भग देवता की आंख फोड़ने वाले

103.

परमेश्वर

 सबसे परम ईश्वर

104.

अव्यक्त

 इंद्रियों के सामने प्रकट न होने वाले

105.

तारक

 सबको तारने वाले

106.

सहस्राक्ष

 हजार आंखों वाले

107.

अनंत

 देशकालवस्तु रूपी परिछेद से रहित

108.

सहस्रपाद

 हजार पैरों वाले

सूर्य नमस्कार (Surya Namaskar) क्या है

भगवान शिव के नाम पर बच्चों के नाम (Children’s Names in The Name of Lord Shiva)

हिन्दू धर्म में भगवान शिवआराध्य और लोकप्रिय देवताओं में से एक हैं। पूरे हिंदुस्तान में भगवन शंकर को अनेको नामों से पुकारा जाता है और प्रत्येक वर्ष लोग अपनें घर में आने वाले नये नन्हे मेहमान का नाम भगवान शिवके नाम पर ही रखते है | यहाँ भगवान शिव के अद्भुत और अद्वितीय नामों की सूची दे रहे, जिनमें से कोई भी नाम आप अपने बच्चे के लिए चुन सकते हैं।

क्र०स०

नाम

अर्थ

1.

आशुतोष

सदा प्रसन्न और संतुष्ट रहने वाले

2.

अभिगम्य

सब कुछ आसानी से प्राप्त करने वाले

3.

आलोक

संसार, दृष्टि, रूप

4.

अमरेश

देवताओं के देव

5.

अनीश्वर

जो स्वयं ही सबके स्वामी हैं

6.

अभिराम

स्नेह का भाव रखने वाले

7.

अनंतदृष्टि

भविष्य को देखने वाले

8.

अनिकेत

जगत के पिता

9.

अभिवद्य

जिसके प्रति सभी को श्रद्धा और सम्मान हो

10.

अचलोपम

गतिहीन, धैर्यवान

11.

अमर्त्य

जिसने मृत्यु को जीत लिया हो

12.

अनघ

जो पाप और दोष रहित हो

13.

अचिंत्य

जो कल्पना से परे हो

14.

अहिर्बुध्न्य

कुण्डलिनी को धारण करने वाले

15.

अनंत

देशकालवस्तु रूपी सीमा से रहित

16.

अपवर्गप्रद

कैवल्य मोक्ष देने वाले

17.

अधोक्षज

रचयिता

18.

आदिकर

प्रथम रचयिता

19.

अव्यग्र

कभी भी व्यथित न होने वाले

20.

आयुधि

त्रिशूल को धारण करने वाले

21.

अज

जन्म रहित

22.

अक्षयगुण

असीम गुण वाले

23.

धृतिमान

धैर्यवान, तृप्त

24.

देवाधिदेव

देवताओं के देव

25.

भोलेनाथ

प्रभु जो सबके प्रति दयालु और परोपकारी हैं

26.

चिरंजीव

दीर्घजीवी, अमर

27.

चंद्रप्रकाश

चंद्रमा द्वारा उत्सर्जित प्रकाश

28.

भूदेव

पृथ्वी के भगवान

29.

बीजाध्यक्ष

जो गुण और दोष दोनों को नियंत्रित करे

30.

ध्रुव

अचल

31.

चारुविक्रम

सुन्दर पराक्रम वाले

32.

ध्यानदीप 

ध्यान और एकाग्रता के दिव्य पुरुष

33.

देवर्षि

दिव्य ऋषि

34.

देवेश

देवताओं के देवता

35.

भालनेत्र

जिसके माथे पर नेत्र हो

36.

भावेश

 जगत के ईश्वर

37.

बलवान

शक्तिवान

38.

भैरव

वह जो भय को जीत सके, दुर्जेय

39.

दुर्धर्ष

किसी से नहीं दबने वाले

4.

दिगंबर

जो आकाश को ही वस्त्र के रूप में पहने

41.

चंद्रपाल

जो चंद्रमा को नियंत्रित करे

42.

वरद

        वरदान देने वाले

43.

विश्वेश्वर

सारे विश्व के ईश्वर

44.

वीरभद्र

वीर होते हुए भी शांत स्वरूप वाले

45.

वृषांक

बैल के चिह्न वाली ध्वजा वाले

46.

त्रिलोकपति

तीनो लोकों के स्वामी

47.

उमापति    

उमा यानी पार्वती के पति

48.

उत्तरण    

सबको तारने वाले

49.

उत्तरण    

सबको तारने वाले

50.

त्रिपुरारी

त्रिपुर असुर के संहारक

51.

शंकर

आनंद के परम दाता, शुभ

52.

शूलपाणी

हाथ में त्रिशूल धारण करने वाले

53.

शूलीन

त्रिशूल धारण करने वाले

54.

श्रीकंठ

सुंदर गले वाले

55.

श्रीकांत

सुंदर शरीर वाले

56.

सोमेश्वर

जो चंद्रमा के देव हों

57.

सात्विक

सत्व गुण वाले

58.

सर्वशिव

सदा शुद्ध

59.

शर्व

कष्टों को नष्ट करने वाले

60.

शाश्वत

नित्य रहने वाले

61.

प्रणव

जिसने ‘ओम’ की उत्पत्ति की

62.

पिनाकी

पिनाक धनुष धारण करने वाले

63.

प्रियभक्त

जो सभी भक्तों से सार्वभौमिक रूप से प्यार करता है

64.

पुष्कर

जो पोषण प्रदान करता है

65.

महेश्वर

महान ईश्वर

66.

मृत्युंजय

जिसने मृत्यु को जीत लिया हो

67.

नागभूषण

जो नाग को आभूषण के रूप में पहने

68.

नटराज

शिव की नृत्य की मुद्रा

69.

नीलकंठ

जिसका नीले रंग का गला हो

70.

जतिन

जिसने बालों को उलझाया हो और अनुशासित हो

भारत के प्रमुख त्यौहारों की सूची

यहाँ आपको भगवान शिव के कितने नाम के बारे में जानकारी दी गई है | यदि आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूंछ सकते है | इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |

संस्कृत श्लोक अर्थ सहित

Leave a Comment