MRI क्या होता है

दुनिया में बहुत से लोग ऐसे होते है , जो किसी बड़ी बीमारी का शिकार हो  जाते है जिसके लिए उन्हें हर प्रकार की जांच और इलाज कराना होता है | किसी भी बीमारी को जानने के लिए सबसे पहले उस व्यक्ति की जांच की जाती जिसे कोई बीमारी होती है, उसके लिए अनेकों जांचे  होती है, जिनमे से एक  MRI की जांच भी की जाती है| यह एक ऐसी जांच है, जिससे मनुष्य के पूरे शरीर की जांच हो जाती है और मनुष्य के अंदर जो भी बीमारी होती हैं उसके बारे में आसानी से मालूम कर लिया जाता है |  यदि आप भी एमआरआई के विषय में जानना चाहते हैं, तो यहाँ पर आपको MRI क्या होता है | MRI का फुल फॉर्म क्या है,  उपयोग की पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े: मैकेनिकल इंजीनियर (MECHANICAL ENGINEER) कैसे बनें

MRI क्या है 

MRI एक ऐसी Medical Imaging तकनीक होती है, जो Radiology में शरीर विज्ञान की Pictures और शरीर की शारीरिक प्रक्रियाओ, दोनों के स्वस्थ और रोग के लिए इस्तेमाल की जाती है। MRI Scanners बॉडी के पार्ट की Imaging   मजबूत चुम्बकीय एरिया, विदयुत एरिया के Gradients और रेडियो तरंगों का इस्तेमाल करके बनाते है। इसमें X-RAY and Ionizing Radiation का बिलकुल भी इस्तेमाल नहीं किया जाता है |

MRI का फुल फॉर्म क्या है 

MRI का फुल फॉर्म  “Magnetic Resonance Imaging” होता है और इसे हिंदी भाषा में  “चुम्बकीय अनुनाद प्रतिबिंबन” कहा जाता है जिससे मनुष्य के शरीर की पूरी जांच करके उसके अंदर की बीमारी के बारे मालूम किया जाता है |

ये भी पढ़े: वैज्ञानिक (SCIENTIST) कैसे बनें

ये भी पढ़े: 12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें

MRI के उपयोग  

  1. MRI स्कैन का उपयोग शरीर के लगभग हर हिस्से की जांच करने के लिए किया जाता है |  जैसे –
  2. दिमाग और रीढ़ की हड्डी की जांच,
  3. हड्डियों और जोड़ों की जांच, स्तनों की जांच,
  4. ह्रदय और रक्तवाहिकाओं की जांच,
  5. अन्य अंदरुनी अंग जैसे लिवर,
  6. गर्भाशय और पौरुष ग्रंथि आदि की जांच।

ये भी पढ़े: रेलवे में स्टेशन मास्टर कैसे बने?

ये भी पढ़े: प्रॉपर्टी डीलर (PROPERTY DEALER) कैसे बने

एमआरआई के विषय में विशेष जानकारी 

MRI Test को इससे पहले मूल रूप से NMRI (Nuclear Magnetic Resonance Imaging)  कहते थे और यह NMR का एक रूप है। इसका विकास 1970-80 के दशक में  हुआ था, इसके बाद इसमें इतना अधिक विकास हो गया कि, एम आर आई Test एक उच्च बहुमुखी Imaging Technique साबित  हो गया,  इसके साथ ही इसका  इस्तेमाल सबसे अधिक  MRI को निदान चिकित्सा और बायो मेडिकल अनुसंधान में   किया जाता है। इसके अलावा इसका इस्तेमाल गैर जीवित वस्तुओं की छवियों को बनाने के लिए  भी आसानी से कर सकते है । वहीं वर्तमान समय में अधिकतर डॉक्टर बीमारी का पता लगाने के लिए  MRI Test कराने के लिए बोल देते हैं यह एक ऐसी मशीन हैं जो अभी भी सभी अस्पतालों में उपलब्ध नहीं हैं |

वैसे तो MRI  एक प्रकार का टेस्ट कहा जाता है जो व्यक्ति डॉक्टर की सलाह के बाद  5 से 7 हजार तक की कीमत में करा सकते है | इसके अलावा कुछ अस्पतालों में यह टेस्ट कराने और अधिक पैसे जमा कराये जाते हैं लेकिन सरकारी में इसके टेस्ट  कराने के लिए लगभग 1500 से 2000  रूपये तक ही देने होते है |

ये भी पढ़े: एसएससी CHSL परीक्षा तैयारी कैसे करे?

यहाँ पर हमने आपको MRI के विषय में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूंछ सकते है | इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |

ये भी पढ़े: हेड कांस्टेबल (HEAD CONSTABLE) कैसे बनें

ये भी पढ़े: आर्थिक मंदी (ECONOMIC RECESSION) क्या है

ये भी पढ़े: सरकारी बैंक और प्राइवेट बैंक की सूची

ये भी पढ़े: पीसीएस (PCS) परीक्षा की तैयारी कैसे करे?