एनजीओ क्या होता है

एनजीओ को स्वयं सेवी संस्था या गैर-सरकारी संगठन के नाम से भी जाना जाता है और ये मुख्यतः तीन प्रकार के होते है, जिन्हें ट्रस्ट, सोसाइटी और नॉन प्रॉफिट कंपनी (धारा 8) के रूप में विभक्त किया जा सकता है | एनजीओ का फुल फॉर्म ‘गैर-लाभकारी स्वयंसेवी संस्था’ या‘ Non-Profit Organisation’ होता है | ट्रस्ट, सोसाइटी और नॉन प्रॉफिट कंपनी की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चाहे कोई भी हो, परन्तु इन्हें गैर-लाभकारी स्वयंसेवी संस्था या NGO ही कहते है | इन्हें सरकार की ओर से कर में भी छूट प्राप्त होती है |

आज गैर-लाभकारी स्वयंसेवी संस्था (NGO) के विषय में विस्तार पूर्वक चर्चा करेंगे और एनजीओ के बारे में जानेगे जिसमे एनजीओ क्या है, इसकी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के लिए जरूरी शर्ते, कागज़ आदि |

ऑटोनॉमी (Autonomy) या स्वराज्य क्या है

एनजीओ (NGO) का फुल फॉर्म 

NGO का फुल फ़ॉर्म “Non Governmental Organization” होता है से हिंदी भाषा में “गैर सरकारी संगठन” के नाम से जाना जाता हैं  यह एक प्रकार की संस्था होती है जिसके अंतर्गत  विभिन्न संस्थाएं बनाई गई है |  यह एक ऐसी संस्था है जो  गवर्नमेंट द्वारा नहीं चलाई जाती है, इसलिए इस संस्था में सरकार का किसी भी तरह का हस्तक्षेप नहीं होता हैं। NGO संस्थाओं को कोई भी शुरू कर सकता है |

एनजीओ (NGO) का क्या मतलब है? 

ऐसी संस्था जिसमे बिना सरकारी हस्तक्षेप के समाज के लोगो के हित से जुड़े कार्य (सामाजिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, पर्यावरणीय या अन्य किसी भी प्रकार का सर्वहिताय) समाज में आपसी सहमती से किये जा सके, तो उस संस्था को ‘गैर-लाभकारी स्वयंसेवी संस्था’ या एनजीओ कहते है | भारत में इन्हें मुख्यत:ट्रस्ट, सोसाइटी और नॉन प्रॉफिट कंपनी के रूप में पंजीकृत कराया जाता है |

यह संस्था सभी लोगों को मुफ़्त सेवा प्रदान करती है | इसलिए  NGO संस्था कोई भी समाजसेवी व्यक्ति खोल सकता है वहीं दुनिया में बड़ी तदाद में एनजीओ खुले भी है, जिनमे बड़ी संख्या में लोग काम कर रहे है, जिनमे से कुछ  लोग संयुक्त संगठन  खोलकर काम कर रहें है, तो कुछ लोग individual NGO  खोले हुए हैं | वहीं,  कुछ एनजीओ charity purpose के लिए भी चलाये जाते है |

भारत में एनजीओ की संख्या 

वर्तमान समय में भारत में 3.2 मिलियन पंजीकृत NGO चलाये जा रहें है, जिसमें बड़ी तदाद में लोग देश की  सेवा करने में लगे हुए है और यदि हम बात करें कि,  दुनिया के सबसे अधिक जनसंख्या वाले देश चाइना में कितने एनजीओ चलाये जा रहें है | तो बता दें कि, यहाँ पर लगभग 4,40,000 NGO संस्थाएं  चलाई जा रही  है | इसके अतिरिक्त संयुक्त राज्य अमेरिका मे करीब 15 लाख  एनजीओ चलाये जा रहें है और अभी भी इसकी संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी होती ही जा रही है |

एनएफओ (NFO) क्या है

एनजीओ रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया | NGO ONLINE REGISTRATION PROCESS IN HINDI

भारत में तीन प्रकार से एनजीओ का पंजीकरण किया जाता है जिनमे राज्य के लोक न्यास अधिनियम के तहत ट्रस्ट, सोसायटी पंजीकरण अधिनियम 1860 के तहत सोसायटी वकंपनी अधिनियम, 2013 के तहत धारा 8 कंपनी को रजिस्टर्ड किया जाता है |

  • सर्वप्रथम आपको thenationaltrust.gov.in पर विजिट करना होगा |
  • इसके पश्चात आप ‘Registration>New NGO Registration’ पर क्लिक करे |
  • इसके बाद फॉर्म के अनुसार आप जानकारी भर सकते है |
  • कुल मिलाकर आपको 10 स्टेप में फॉर्म भरना होगा |
  • सबसे अंतिम स्टेप में आपको पेमेंट करना होगा |
  • इसके पश्चात आपकी जानकारी रजिस्ट्रेशन प्राधिकरण के पास सबमिट हो जायेंगे |
  • 8-10 दिन में आपको अपने रजिस्ट्रेशन का स्टेटस पता आपकी ईमेल या मोबाइल मेसेज से पता लग जायेंगा |

ट्रस्ट पंजीकरण के लिए

सोसायटी पंजीकरण के लिए

  • समाज का नाम
  • कार्यालय का पता प्रमाण
  • सभी नौ सदस्यों की पहचान प्रमाण:
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पासपोर्ट की प्रति
  • वोटर आई.डी.
  • आधार कार्ड ज्ञापन की दो प्रतियां एसोसिएशन और समाज के उपनियमों।

धारा 8 कंपनी के लिए

  • अनुमोदन के लिए कंपनी का नाम।
  • कार्यालय का पता प्रमाण। यह बिजली या पानी का बिल या हाउस टैक्स रसीद हो सकता है ।
  • सभी निदेशकों की पहचान प्रमाण |
  • ड्राइविंग लाइसेंस |
  • पासपोर्ट की प्रति |
  • वोटर आई.डी. |
  • आधार कार्ड ज्ञापन एसोसिएशन और कंपनी के एसोसिएशन के लेख।

भारत के महत्वपूर्ण एनजीओं की सूची 

  • Libra society
  • Pratham
  • Sammaan Foundation
  • Sargam Sanstha
  • Nanhi Kali
  • Give India
  • Child Rights and You (Cry)
  • Goonj Limited
  • Smile Foundation
  • Helpage India

नोट: पंजीकरण में 8 – 10 दिन का समय कम से कम रूप में लगता है और अधिकतम 2 महीना भी |

उपरोक्त जानकारी के माध्यम से hindiraj.com टीम द्वारा आपको एनजीओ रजिस्ट्रेशन के बारे में पूरी जानकारी दी गयी है | आप अपने सवाल कमेंट सेक्शन में भी पूंछ सकते है | हम आपके सवालो के जवाब देने की कोशिश जल्द से जल्द करेंगे |

एनबीएफसी (NBFC) क्या है