पटवारी (Patwari) कैसे बने?

कुछ समय पूर्व जमीन की नाप करने वाले आधिकारिक व्यक्ति को पटवारी कहा जाता था | वर्तमान समय में पटवारी को लेखपाल कहा जाता है, जिसका कार्य अपने क्षेत्र में होने वाले भूमि सम्बन्धी कार्यों में अपनी आख्या लगाकर रिपोर्ट उच्च अधिकारी को सौंपना | इस आख्या के आधार पर उच्च अधिकारी आगे की कार्यवाही सुनिश्चित करता है | आज के समय पटवारी या लेखपाल का पद राज्य सरकार के अंतर्गत आता है |

पटवारी कैसे बने (How To Become Patwari)?

उत्तर प्रदेश में पटवारी या लेखपाल के पद रिक्त होने पर भर्ती प्रक्रिया उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (UPSSSC) के द्वारा विज्ञापन जारी करके की जाती है | समय- समय पर राज्य सरकार द्वारा बनाये गए नियमों को इस भर्ती प्रक्रिया में शामिल किया जाता है | वर्तमान समय में केवल लिखित परीक्षा के आधार पर अभ्यर्थी का चयन किया जाता है, इसके पूर्व लिखित परीक्षा के बाद साक्षात्कार का भी आयोजन किया जाता था | इस समय यदि आप लिखित परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर लेते है, तो आपका चयन पटवारी या लेखपाल के पद कर दिया जायेगा |

लेखपाल (LEKHPAL) कैसे बने

योग्यता (Qualification)

पटवारी या लेखपाल बनने के लिए राज्य सरकार द्वारा शैक्षिक योग्यता इंटरमीडियट रखी गयी है, इसके साथ ही अभ्यर्थी को NIELIT द्वारा प्रमाणित सीसीसी उत्तीर्ण होना अनिवार्य है |

आयु सीमा

सामान्यत: पटवारी बनने के लिए आयु सीमा 18 से 28 वर्ष तक होनी चाहिए | आयु सीमा में आरक्षण नियम अनुसार छूट भर्ती विज्ञापन में अलग से दी जाती है | यदि आप ओबीसी या एससी-एसटी वर्ग में आते है तो आप इसका लाभ ले सकते है |

वेतन (Salary)

प्रत्येक राज्य में यह वेतन अलग- अलग हो सकता है, उत्तर प्रदेश में पटवारी का वेतन ग्रेड पे 5200 -20200 रुपये है |

एग्जाम पैटर्न (Exam Pattern)

विषय अंक प्रश्न
सामान्य हिंदी 25 25
गणित 25 25
सामान्य ज्ञान 25 25
गांव ग्राम समाज और विकास 25 25

अपनी जमीन कैसे देखे?

पटवारी बनने की तैयारी कैसे करे ?

पटवारी या लेखपाल की तैयारी आप इस प्रकार से कर सकते है-

पुराने प्रश्न पत्र (Old Question Paper)

अच्छी तैयारी करने के लिए आपको पूर्व में आयोजित हो चुके प्रश्न पत्र को हल करना चाहिए | इन प्रश्न पत्रों को हल करने से आपको परीक्षा में पूछें जाने वाले प्रश्नों के विषय में सही से जानकारी हो जाएगी | आप यह प्रश्न पत्र मार्केट से खरीद सकते है |

पाठ्यक्रम (Syllabus)

आपको पटवारी के लिए निर्धारित किये गए पाठ्यक्रम के अनुसार ही अपनी तैयारी शुरू करनी होगी | आपको पाठ्यक्रम में शामिल किये गए सभी विषयों को गहनता से समझना होगा | आप अच्छी तैयारी करने के लिए प्रत्येक विषय का प्रैक्टिस सेट खरीद कर उसको हल कर सकते है | इससे आपको विषय पर अच्छी पकड़ हो जाएगी |

इंटरनेट

आज के समय में किसी भी परीक्षा की तैयारी करने का सबसे अच्छा साधन इंटरनेट है, आप इंटरनेट पर यूट्यूब पर ऑनलाइन वीडिओ देख कर अपनी तैयारी कर सकते है | यूट्यूब पर कई ऑनलाइन चैनल लाइव क्लास प्रदान करते है, यह निशुल्क या कुछ फीस के साथ भी हो सकते है, इसके माध्यम से आप ऑनलाइन अपने डाउट क्लियर कर सकते है |

आरटीओ अधिकारी (RTO Officer) कैसे बने

टाइम टेबल

किसी भी परीक्षा में सफल होने के लिए अनुशासन बहुत ही आवश्यक है, अनुशासन का पालन टाइम टेबल बना कर किया जा सकता है, आप अपने टाइम टेबल में सभी विषयों पर पर्याप्त समय दे, जिससे आप किसी भी विषय में कमजोर न रहे |

स्पीड टेस्ट

जब आपको लगे कि मेरी तैयारी अच्छी हो गयी है, तो आपको इसकी जाँच करना आवश्यक है, इसके लिए आपको स्पीड टेस्ट में भाग लेना चाहिए, यह ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से उपलब्ध रहता है, आप अपनी सुविधा के अनुसार इसमें भाग लेकर अपनी तैयारी की जाँच कर सकते है, स्पीड टेस्ट में आपको प्रश्नों को हल करने की स्पीड भी सही हो जाएगी इसका लाभ आपको मूल परीक्षा में प्राप्त होगा |

निष्कर्ष 

यदि आप किसी राज्य कर्मचारी के रूप में पटवारी पद के लिए आवेदन करना चाहते है तो हमारे लेख द्वारा पटवारी पद से सम्बंधित सभी प्रश्न के हल आपको मिल गए होगे, ऐसी हमे आशा है | यदि पटवारी पद से सम्बंधित आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमसे पूछ सकते है |