Railway Shramik Special Train List

इन दिनों कोरोना वायरस जैसे खतरनाक वायरस ने भारत के साथ-साथ और भी सभी देशों में कोहराम मचाकर रखा हुआ, जिससे लोग बहुत अधिक परेशान और डरे हुए घूम रहें है, क्योंकि यह जानलेवा और खतरनाक वायरस है,  जो अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है, बल्कि अभी लगातार इस वायरस से बड़ी संख्या में लोग संक्रमित होते जा रहे है, जिससे बड़ी तदाद में लोगों की मौत  भी हो रही है | इस कोरोना वायरस के चलते, अधिकतर देशों को लॉकडाउन कर दिया गया है, जिसके कारण लोग जहाँ पर है, वहीं पर रुके है, जिनमे से बहुत से लोग दूसरे राज्यों में भी फँस गए है  ,जहाँ पर उन्हें खाने और रहने के लिए भी बहुत अधिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है |

इसलिए अब इन्ही समस्याओं को देखते हुए देश की सरकार ऐसे लोगों को उनके राज्य तक पहुंचाने की सुविधा में लगी हुई है, ताकि इस महामारी की वजह से समस्याओं का सामना कर रहें लोग भी अपने घर सही सलामत पहुंच सके | इसलिए अब  प्रवासी  मजदूर , तीर्थयात्रियों, पर्यटकों के छात्रों और अन्य सभी व्यक्तियों के लिए भारतीय रेलवे विभाग ने श्रमिक स्पेशल ट्रेन को मजदूर दिवस के मौके पर 1 मई को शुरू कर दी है | इन विशेष ट्रेनों को दोनों बिंदुओं पर संबंधित राज्य सरकार के अनुरोध पर चलाई जा रही है | पहली श्रमिक स्पेशल ट्रैन (SHRAMIK SPECIAL TRAIN) शुक्रवार को सुबह हैदराबाद से झारखण्ड के हटिया रेलवे स्टेशन तक चलायी गयी है |  इसलिए यदि आप भी | श्रमिक स्पेशल ट्रैन के विषय में जनना चाहते है, तो यहाँ पर आपको Railway Shramik Special Train List , श्रमिक स्पेशल ट्रैन का समय – सारिणी की जानकारी प्रदान की जा रही है | 

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान क्या है

श्रमिक स्पेशल ट्रैन

योजना का नाम      

श्रमिक स्पेशल ट्रैन

संगठन का नाम

गृह मंत्रालय

इनके द्वारा संचालित की गयी

रेलवे मंत्रालय

प्रेरणा      

प्रवासी श्रमिकों को स्थानांतरित करने के लिए

स्पेशल ट्रैन की संख्या

6 ट्रेंस

लाभार्थी

अन्य राज्य में फसे प्रवासी  मजदूर ,पर्यटन

श्रम कानून (LABOUR LAW) क्या है

श्रमिक स्पेशल ट्रेन (SHRAMIK SPECIAL TRAIN) सूची, रूट

लॉक डाउन के चलते  अन्य राज्यों में फसे प्रवासी मजदूर , पर्यटकों, छात्रों और अन्य लोग जो अपने राज्य वापस लौटना चाहते है , वो यहां रूट और शेड्यूल अपडेट के साथ श्रमिक स्पेशल ट्रेन सूची की जांच कर सकते हैं। इन विशेष ट्रेनों को संबंधित राज्य सरकार के अनुरोध पर दूसरे राज्यों में फंसे व्यक्तियों को  उनके राज्य वापस भेजने के लिए चलाई  जा रही है | गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के आधार पर और राज्य सरकार द्वारा प्राप्त की गई माँगों के मुताबिक़, छह श्रमायुक्त विशेष रेलगाड़ियाँ चलाने की योजना बनाकर तैयार की गई है |श्रमिक स्पेशल ट्रेन सूची, रूट के विषय में इस प्रकार से जानकारी प्राप्त है-  

  1. लिंगमपल्ली से हटिया तक
  2. अलुवा से भुवनेश्वर तक
  3. नासिक से लखनऊ तक
  4. नासिक से भोपाल तक
  5. जयपुर से पटना तक
  6. कोटा से हटिया तक

ट्रेनों से सम्बंधित जानकारी 

सरकार द्वारा चलाई  जा रही है, छह ट्रेनों में से 2 Trains कोटा राजस्थान से बिहार के लिए जा रही है  | पहली ट्रेन जो की कोटा से बरौनी के लिए चल रही है, वो सुबह के 11 बजे स्टेशन से चलती है और सुबह 4 मई को बरौनी पहुंच जाती है | दूसरी ट्रेन कोटा से गया के लिए 3 मई रात में 11 बजे से रवाना होती है और 5 मई को गया पहुँच जाती है | एक और ट्रेन बेंगलुरु से दानापुर के लिए सुबह 10 बजे से रवाना होती है,  जो 4 मई को दानापुर पहुंच जाती है | 

  • श्रमिक स्पेशल ट्रैन का समय – सारिणी की जानकारी 
  • नासिक से लखनऊ – रात 09:30 बजे प्रस्थान
  • अलुवा से भुवनेश्वर- शाम 6 बजे प्रस्थान
  • नासिक से भोपाल- रात 8 बजे प्रस्थान
  • जयपुर से पटना- रात 10 बजे प्रस्थान
  • कोटा से हटिया- रात 9 बजे प्रस्थान

LOCKDOWN 4.0 GUIDELINES IN HINDI

श्रमिक स्पेशल ट्रैन (SHRAMIK SPECIAL TRAIN) में मजदूरों को मिलने वाले लाभ

  1. मूल स्टेशनों पर भेजने वाले राज्यों द्वारा मजदूर यात्रियों को ट्रेन में यात्रा के दौरान भोजन और पीने का पानी उपलब्ध कराया जाता है | 
  2. अगर ट्रेन लंबे रूट पर जा रही है तो यात्रियों को बीच सफर में खाना भी मिलता है और बीच सफर में खाने का बंदोबस्त रेलवे की तरफ से किया जाता है | 
  3. इस गंतव्य पर पहुंचने पर, यात्रियों को राज्य सरकार द्वारा प्राप्त किया जाएगा, जो उनकी स्क्रीनिंग, संगरोध, यदि जरूरी है |
  4. इस स्पेशल ट्रैन का लाभ विभिन्न स्थानों पर फंसे प्रवासी कामगारों, पर्यटकों, छात्रों और अन्य लोगों को दिया जा रहा है |
  5. ट्रेन में यात्रा करने के दौरान हर यात्री को मास्क पहनना बहुत ही आवश्यक है।                

Shramik Special Train State Wise List

बंगलौर

हरियाणा

नागालैंड

आंध्र प्रदेश

हिमाचल प्रदेश

ओडिशा

मुंबई

जम्मू एवं कश्मीर

दिल्ली

असम

झारखण्ड

पंजाब

बिहार

कर्नाटक

राजस्थान

चंडीगढ़

केरला

सिक्किम

छत्तीसगढ़

नासिक

तमिल नाडु

दादर और नगर हवेली

मध्य प्रदेश

तेलंगाना

दमन और दिउ

महाराष्ट्र

त्रिपुरा

दिल्ली

मणिपुर

उत्तर प्रदेश

गोवा

मेघालय

पश्चिम बंगाल

गुजरात 

 मिजोरम

नागालैंड

उत्तर प्रदेश प्रवासी घर वापसी

यहाँ पर हमने आपको श्रमिक स्पेशल ट्रैन के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करे और अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही निवारण किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

JHARKHAND PRAVASI REGISTRATION