एसपी (SP), एसीपी (ACP) कैसे बने

पुलिस को  देश का सुरक्षा बल कहा जाता है , जिसका उपयोग मुख्य रूप से किसी भी देश की नागरिक सुरक्षा के लिये किया जाता है | हमारे देश के नागरिकों की सुरक्षा के लिए पुलिस हमेशा तत्पर रहती है जिसमें अलग-अलग रैंक के अधिकारी कार्य करते हैं । जिसमें SP  (एसपी)  ACP (एसीपी) असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस उच्च पदों में से एक कहे जाते  है |  यदि आप भी एसपी, एसीपी बनने की तैयारी कर रहें  हैं, तो आप इस पूरी पोस्ट को पढ़कर जान लीजिये कि,एसपी (SP), एसीपी (ACP) कैसे बने | वेतन, योग्यता, SP, ACP का फुल फॉर्म क्या होता है? इसकी पूरी जानकारी आपको इस पोस्ट में प्राप्त हो जाएगी |

ये भी पढ़े: भारतीय संविधान क्या है?

एसपी (SP), का फुल फॉर्म  

एसपी का फुल फॉर्म “Superintendent Of Police” होता है | इसे हिंदी भाषा में ” पुलिस अधीक्षक” कहा जाता है और इसका शॉर्टकट में एस.पी (SP) होता है |

एसीपी (ACP) का फुल फॉर्म

एसीपी का फुल फॉर्म ” Assistant Commissioner Of Police” (असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस) होता है | जिसे हिंदी भाषा  में सहायक पुलिस आयुक्त कहते है |

एसपी कैसे बने 

आपको एसपी बनने के लिए दो परीक्षाओं में सफलता हासिल करनी रहेगी | जिसके माध्यम से आप एसपी का पद प्राप्त करने में कामयाब हो सकते हैं उसके लिए आपको (UPSC) union public service commission और (state PSC) State pulic service commission परीक्षा पास करनी रहेगी |  वहीं यदि आप आईपीएस के पद पर कार्यत हैं तो आपको 5 साल के बाद एसपी बनाया जा सकता है |

एसीपी कैसे बने 

पुलिस विभाग में एसीपी और डीएसपी दोनों पदों में किसी भी प्रकार का अंतर् नहीं होता है |  इन दोनों पदों पर कार्यरत अधिकारियों के वर्दी पर तीन स्टार लगे हुए होते हैं | इसके अलावा कई स्थानों पर डीएसपी को असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस का भी दर्जा दिया जाता है | आईपीएस अधिकारियों को डीएसपी बनने के बाद एसीपी रैंक प्राप्त  हो जाती है |

ये भी पढ़े: सरकारी बैंक और प्राइवेट बैंक की सूची

ये भी पढ़े: बैंक पीओ (BANK PO) कैसे बने?

एसपी, ऐसीपी की शैक्षिणिक योग्यता 

पुलिस अधीक्षक और सहायक पुलिस आयुक्त  में आवेदन करनें वाले अभ्यर्थियों को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक होना आवश्यक है क्योंकि, इसके बाद ही वह इसमें आवेदन करने का पात्र बन सकता है |

एसपी, एसीपी आयु सीमा 

एसपी, एसीपी पद हेतु अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तथा अधिकतम आयु 32 वर्ष तक होनी चाहिए | तथा  इसमें आरक्षित वर्ग में अंतर्गत ओबीसी वर्ग के छात्रों को 3 वर्ष तथा एससी / एसटी वर्ग के अभ्यर्थियों को 5 वर्ष की छूट दी जाती है |

एसपी, एसीपी की शारीरिक योग्यता 

1.इन पदों में आवेदन करने वाले उम्मीदवार को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होना अनिवार्य है |

2.एसीपी बनने के लिए अभ्यर्थी की लम्बाई 165 सेमी और छाती 85 सेमी होनी चाहिए |

3.महिला वर्ग के अभ्यर्थियों की लम्बाई 150 सेमी होना अनिवार्य है |

एसपी,एसीपी की चयन प्रक्रिया  

इन दोनों ही पदों के परीक्षा का आयोजन राज्य लोक सेवा आयोग (UPPSC) द्वारा किया जाता है, इन पदों के लिए परीक्षा को प्रारम्भिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा, साक्षात्कार तीन भागों में विभाजित किया गया है |

ये भी पढ़े: आय प्रमाण पत्र (INCOME CERTIFICATE)

प्रारम्भिक परीक्षा (PRElims)

प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत दो प्रश्न पत्र हल कराये जाते हैं, जिसमे प्रत्येक प्रश्न पत्र के लिए  200 अंक निर्धारित किये जाते है | जिन्हे हल करने के लिए अभ्यर्थियों को  दो घंटे का समय  दिया जाता है | इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद मैन्स परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी किये जाते है |

मुख्य परीक्षा (Mains)

जो अभ्यर्थी प्रारम्भिक परीक्षा में सफलता हासिल कर लेते हैं उन्हें  मुख्य परीक्षा देने के लिए बुलाया जाता  है | जिसमें, 6 प्रश्न पत्र होते है  भारतीय भाषा 300 अंक , अंग्रेजी 300 अंक, निबंध 200 अंक, जनरल स्टडी 300 अंक, इन विषयों के अंतर्गत वैकल्पिक विषय के लिए अंक दो डिजिट में निर्धारित किये गए है |

क्र.स.विषयअंक
1.सामान्य अध्ययन पेपर -1200
2.सामान्य अध्ययन पेपर -2200
3.सामान्य अध्ययन पेपर -3200
4.सामान्य अध्ययन पेपर -4200
5.सामान्य हिंदी150
6.निबंध150

साक्षात्कार  

दूसरा पड़ाव यानी कि मुख्य परीक्षा में  सफलता प्राप्त करने के बाद  अभ्यर्थी को साक्षात्कार  अथवा इंटरव्यू के लिया जाना पड़ता  है , जिसका  आयोजन आयोग द्वारा होता है, आयोग द्वारा निर्धारित समिति के समक्ष पेश होकर यह साक्षात्कार देना रहता  है, जिसके लिए 250 अंक  समिट द्वारा निर्धारित किये जाते है  इससे ही अभ्यर्थी की योग्यता  का आकलन  का पता लगाया जाता है |  इसके बाद  अगर आप साक्षात्कार में सफलता प्राप्त कर लेते है , तो आपको इन पदों के लिए नियुक्ति पत्र  सौंप  दिया जाएगा |

ये भी पढ़े: आईटीआई (ITI) कोर्स क्या है?

एसपी, एसीपी का वेतन  

एसपी को 15,600  39,000 हजार प्रतिमाह प्राप्त होते हैं इसके साथ ही उन्हें 7, 600 ग्रेस दिया जाता है  | वहीं सातवें वेतन आयोग के बाद एसीपी (ACP) को  46,800 –  1,17,300 रुपये तथा ग्रेड पे रुपये 19800 प्रतिमाह  दिया जाता है |

एसपी, एसीपी को अतिरिक्त  सुविधाएं

इन दोनों एसपी, एसीपी अधिकारीयों को अतिरिक्त सुविधाओं में  निवास हेतु सरकारी बंगला दिया जाता  है, जिसमें कुक, चपरासी और अन्य स्टाफ  की व्यवस्था रहती  है, इसके साथ ही  टेलीफोन,  सरकारी यात्राएं फ्री में कराई जाती  है।

ये भी पढ़े: राज्यपाल की नियुक्ति कौन करता है?

ये भी पढ़े: भारतीय संविधान क्या है?

यहाँ पर एसपी (SP), एसीपी (ACP) कैसे बने | वेतन, योग्यता, SP, ACP का फुल फॉर्म क्या होता है ” इसकी पूरी जानकारी उपलब्ध है |  इस प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | इसके साथ ही  यदि आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है | हमें आपके सुझावों और प्रश्नो का इन्तजार रहेगा |

ये भी पढ़े: उत्तर प्रदेश रोजगार मेला ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे

ये भी पढ़े: UP SCHOLARSHIP का आवेदन फॉर्म कैसे भरे?