UGC NET परीक्षा क्या है

किसी भी सरकारी या प्राइवेट कॉलेज में प्रोफेसर की नौकरी करने के लिए यूजीसी नेट एक ऑनलाइन परीक्षा है | भारत सरकार द्वारा इसकी स्थापना वर्ष 1956 में की गई थी, इसका मुख्यालय दिल्ली है। इस परीक्षा में उत्तीर्ण होनें के बाद आप किसी विश्वविद्यालय में शिक्षक बनने के योग्य हो जाते है। यूजीसी नेट (UGC NET) कंप्यूटर आधारित परीक्षा ऑनलाइन परीक्षा है |

इस परीक्षा का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाता है। पहले इस परीक्षा का आयोजन यूजीसी की ओर से सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन अर्थात सीबीएसई द्वारा किया जाता था, परन्तु दिसंबर 2018 के बाद परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा किया जा रहा है। आइये जानते है, NET Exam क्या है ?, योग्यता, परीक्षा पैटर्न और तैयारी कैसे करे?

सीटेट (CTET) परीक्षा की तैयारी कैसे करे

यूजीसी नेट परीक्षा क्या है ?

यूजीसी नेट परीक्षा एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है। यह परीक्षा पोस्ट ग्रैजुएट विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय में शिक्षक बनने की पात्रता प्रदान करती है,साथ ही पीएचडी करने के लिए प्रवेश सुविधा प्रदान करती है। इस परीक्षा के माध्यम से यह आकलन किया जाता है कि यह विद्यार्थी शिक्षण, व्यवसाय और अनुसंधान हेतु पूर्ण रूप से योग्य है। यह परीक्षा पोस्ट ग्रैजुएट में शामिल सभी विषयों पर आयोजित की जाती है, और आप अपने मनपसंद विषय के अनुसार इसकी तैयारी कर सकते है।

नेट परीक्षा का आयोजन भारतीय एजेंसी NTA द्वारा वर्ष में 6 माह के क्रमिक अन्तराल पर कराया जाता है | UGC NET परीक्षा पूरी तरह से कंप्यूटर आधारित होती है | प्रत्येक वर्ष इस परीक्षा में लाखो विद्यार्थी प्रोफेसर बनने या उच्च गुणवत्ता के इंस्टिट्यूट में रिसर्च वर्क के लिए प्रतिभाग करते है | यह एक बेहद ही कठिन परीक्षाओ में से मानी जाती है जिसमे किसी भी अभियार्थी को अपनी शैक्षिक योग्यता साबित करनी होती है |

यूजीसी नेट का फुल फॉर्म

यूजीसी (UGC) का फुलफॉर्म  “University Grants Commission” (यूनियन ग्रांट कमिशन) होता है जिसका हिंदी में अर्थ विश्वविद्यालय अनुदान आयोग होता है | नेट (NET) का फुलफॉर्म “National Eligibility Test” (नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट) तथा हिंदी में इसका अर्थ राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा होता है |

आयु सीमा

यूजीसी नेट के लिए आयु सीमा जूनियर रिसर्च फैलोशिप के लिए आयु सीमा 30 वर्ष निर्धारित की गयी है और सहायक प्रोफेसर के लिए आयु सीमा निर्धारित नहीं है |

प्राइमरी स्कूल के टीचर कैसे बने

यूजीसी नेट परीक्षा हेतु शैक्षणिक योग्यता

अभ्यर्थी के परास्नातक में कम से कम 55 प्रतिशत या समकक्ष अंक होना आवश्यक है | सरकारी नियमनुसार आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को 5 प्रतिशत की छूट प्रदान की जाती है |

यूजीसी नेट परीक्षा का आयोजन

यूजीसी नेट परीक्षा का एक वर्ष में दो बार आयोजित कि जाती है | जिसकी अधिसूचना मार्च और सितम्बर में जारी की जाती है और परीक्षा का आयोजन क्रमशः जून और दिसम्बर में किया जाता है |

टीचर (TEACHER) कैसे बने

यूजीसी नेट एग्जाम सिलेबस

यूजीसी नेट परीक्षा सभी भाषाओं के विषयों पर आयोजित की जाती है, इसमें पर्यावरण विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक विज्ञान, फारेंसिक विज्ञान आदि विषय भी शामिल है इन सभी विषयों के सिलेबस की जानकारी के लिए आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट www.ugc.ac.in/net/syllabus.aspx से जानकारी प्राप्त कर सकते है।

यूजीसी नेट एग्जाम पैटर्न

नैशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट या नेट एग्जाम का आयोजन यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (यूजीसी) की ओर से एनटीए द्वारा किया जाता है। यह क्वॉलिफाइंग एग्जाम यूनिवर्सिटियों में लेक्चरशिप के लिए है। यह जूनियर रिसर्च फेलोशिप (जेआरएफ) के लिए अनिवार्य है।

बीएड की तैयारी कैसे करे ?

परीक्षा का नोटिफिकेशन आधिकारिक वेबसाइट पर मार्च और सितम्बर में जारी किया जाता है । इस परीक्षा में 2 प्रश्न पत्र होते है, पहले प्रश्न पत्र में 50 प्रश्न होते है, प्रत्येक प्रश्न के लिए दो अंक निर्धारित होते है अर्थात यह पेपर 100 अंक का होता है| दूसरे प्रश्न पत्र में 100 प्रश्न पूछे जाते है और यह प्रश्न पत्र 200 अंकों का होता है| इन प्रश्न पत्रों में पूछे जानें वाले प्रश्न वस्तुनिष्ठ होते है।इन दोनों प्रश्न पत्रों का समय 3 घंटे निर्धारित होता है |

भाग

प्रश्न स० 

अंक

समय

प्रश्न पत्र- 1

50

100

1 घंटा

प्रश्न पत्र- 2

100

200

2 घंटा

कुल

150

300

3 घंटे

बीएड (B.ED) कोर्स क्या है ?

विषय से सम्बंधित जानकारी

पहले पेपर में जनरल ऐप्टिट्यूड से सम्बंधित प्रश्न तथा दूसरे पेपर में कैंडिडेट्स द्वारा चयनित  विषय से प्रश्न पूछे जाते है।

पेपर की भाषा

यूजीसी नेट के पेपर सिर्फ दो भाषाओं हिंदी और इंग्लिश में होते हैं। कैंडिडेट्स को भाषा का विकल्प फॉर्म भरते समय चुनना होता है।

यूजीसी नेट मार्किंग स्कीम (UGC NET Marking Scheme)

  • पहले और दूसरे पेपर के सही सवालों के लिए 2-2 मार्क्स होते हैं।
  • यूजीसी नेट एग्जाम के रिवाइज्ड एग्जाम पैटर्न के अनुसार गलत जवाबों के लिए नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी,इसलिए आप किसी प्रश्न को छोड़ने के बजाय अनुमान लगाकर आप आंसर मार्क कर सकते है।

डी एल एड (D.EL.ED) क्या है ?

यूजीसी नेट परीक्षा की तैयारी कैसे करे ?

  • परीक्षा की तैयारी के लिए आपको सभी विषों के अनुसार एक समय सरणी बनानी होगी।
  • जिन विषयों में आप काफी वीक है, उन विषयों में अधिक गहराई से अध्ययन करना होगा।
  • पढ़ाई करते समय आप स्वयं अपनें नोटस बनाये ताकि परीक्षा समय में आसानी से रिविजन कर सके।
  • वर्तमान समय में इंटरनेट पर लगभग सभी जानकारी उपलब्ध है, जिसकी सहायता से आप परीक्षा की अच्छी तैयारी कर सकते है।
  • पिछले वर्षो के प्रश्न पत्रों का भी अध्ययन करे इससे आपको परीक्षा प्रारूप कि जानकारी होगी।
  • परीक्षा में सफल होने के लिए आपको समय का बहुत ख्याल रखना होगा इसके लिए आप मॉक टेस्ट अवश्य दे।

यहाँ पर UGC NET परीक्षा की तैयारी के बारे में जानकारी दी गई है |  यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करे और अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही निवारण किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

शिक्षामित्र क्या है