केंद्र शासित प्रदेश (Union Territory) क्या है

भारत देश में वर्तमान समय के अनुसार 29 राज्य है और अब जम्मू और कश्मीरे में अनुच्छेद 370 हटने के बाद केंद्रीय शासित प्रदेशो की संख्या 9 हो गयी है, जिसमे हाल ही में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को शामिल किया गया है | केंद्र शासित प्रदेश एक सामान्य राज्य से अलग होते है तथा यह सीधा केंद्र सरकार द्वारा नियंत्रित किये जाते है | केंद्र शासित प्रदेश या संघ-राज्य क्षेत्र या संघ क्षेत्र भारत के संविधान स्वरुप संघीय प्रशासनिक ढांचे की एक इकाई है | इस लेख में हम भारत में केंद्र शासित प्रदेश (Union Territory) का क्या मतलब है | एक राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में क्या अंतर है और साथ ही भारत में अन्य राज्यों के अलावा कितने केंद्र शासित प्रदेश है जिसे नवीनतम (राज्य पुनर्गठन बिल के बाद से) सूची ने अनुरूप पेश किया जाएगा |

संसद क्या है

केंद्र शासित प्रदेश या Union Territory का क्या मतलब है

भारत में ऐसे राज्य जिसमे विभिन्न विशेष परिस्थितियों के कारण उन्हें अन्य राज्यों से अलग किया गया है और सीधा केंद्र द्वारा नियंत्रित किया जाता है | भारत में अब 9 केंद्र शासित प्रदेश है | किसी भी राज्य को केंद्र शासित बनाने के विभिन्न कारण हो सकते है, इसमें कुछ कारण निम्न प्रकार है:-

  • कम जनसँख्या व छोटे आकर होने के कारण ऐसे राज्यों को केंद्र शासित बना दिया जाता है जैसे अंडमान निकोबार और लक्षद्वीप यूनियन टेरिटोरी है |
  • कुछ राज्य में ऐतहासिक रूप से अभी भी वहा की संस्कृति उस पर शासित किये गए देशो के रूप में काफी हद तक नज़र आती है जैसे दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव (पुर्तगाली) और पुदुचेरी (फ्रेंच) संस्कृति नज़र आती है |
  • शाह आयोग की रिपोर्ट के अनुसार 1966 में पंजाब राज्य के विभाजन के बाद हरियाणा राज्य का घट्न किया गया और राजधानी के रूप में चंडीगढ़ को, हरियाणा और पंजाब अपना बनाना चाहते थे किन्तु इस स्थिति में केंद्र ने चंडीगढ़ को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया |
  • राष्ट्रपति केंद्र शासित प्रदेश का एक ‘सरकारी प्रशासक (एडमिनिस्ट्रेटर)’ या ‘उप-राज्यपाल (लेफ़्टिनेंट गवर्नर)’ नियुक्त करते है और वही प्रदेश का संचालन करता है |
  • किसी किसी केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा हो भी सकती है और नहीं है | दिल्ली और पुद्दुचेरी में विधानसभा है तो वह मुख्यमंत्री भी नियुक्त किये जाते है | मुख्यमंत्री और प्रशासक के द्वारा उस केंद्र शासित प्रदेश को सही दिशा में चलाया जाता है |

भारत के राज्य और राजधानी की सूची

केंद्र शासित प्रदेश और राज्य में क्या अंतर है?

  • प्रत्येक राज्य में विधानसभा स्थापित होती है लेकिन किसी केंद्र शासित प्रदेश में ऐसे जरूरी नहीं है | भारत के सभी केंद्र शासित प्रदेश में दिल्ली और पुद्दुचेरी के अलावा कही विधानसभा नहीं है |
  • राज्य में शासन और प्रशासन के रूप में मुख्यमंत्री के द्वारा कार्य किया जाता है और वही केंद्र शासित प्रदेश में यह कार्य मुख्यत: प्रशासक जिसे राष्ट्रपति के द्वारा केंद्रीय मंत्रिमंडल की सलाह पर नियुक्त किया जाता है, स्थिति अनुसार राज्य में कार्यभार संभालता है |
  • राज्य में कानून राज्य सूची के विषयानुसार राज्य की विधासभा कानून बना सकती है लेकिन केंद्र शासित प्रदेश में यह कार्य प्रशासक की मंजूरी के बिना किया जा सकता और कुछ ही मुद्दों पर विधानसभा वाले केंद्र शासित प्रदेश अपने अनुसार कानून बना सकते है |
  • राज्य में मुख्यमंत्री का चुनाव लोकतंत्र के अनुसार जनता द्वारा किया जाता है वही केंद्र शासित प्रदेश में सीधा केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त किया जाता है |

भारत में केंद्र शासित प्रदेश या Union Territory की सूची (List of Union Territory in India)

भारत में अगस्त 2019 में जम्मू कश्मीर का परिसीमन के बाद, अब भारत में 9 केंद्र शासित प्रदेश हैजो निम्न प्रकार से है:-

संख्याकेंद्र शासित प्रदेश
1अंडमान और निकोबार द्वीप
2चंडीगढ़
3दादरा और नगर हवेली
4दमन और दीव
5दिल्ली
6लद्दाख
7लक्षद्वीप
8जम्मू और कश्मीर
9पुडुचेरी

भारत के पड़ोसी देशों के नाम व राजधानी 

उपरोक्त लेख के माध्यम से हमारे पाठको को अब हमारे प्यारे भारत देश में केंद्र शासित प्रदेश की स्थिति ज्ञात हो गयी होगी जिसमे इसका मतलब और वर्तमान समय में भारत में कितने केंद्र शासित प्रदेश है | अच्छा लगने पर आगे शेयर जरूर करे |

केंद्र सरकार और राज्य सरकार क्या होती है

Leave a Comment