डिस्ट्रीब्यूटर (Distributor) कैसे बनें

डिस्ट्रीब्यूटर को  प्रमुख रूप से प्रोडक्ट्स बेचने  का  काम करना होता है | वह इससे एक अपना खुद का बिजनेस भी  शुरू कर सकता है और बहुत अधिक कमाई भी कर सकता है क्योंकि एक डिस्ट्रीब्यूटर को मुख्य रूप से एक बिजनेसमैन ही कहा जाता है  | डिस्ट्रीब्यूटर बिजनेस करते हुए अपने प्रोडक्ट्स को निर्माता (मैन्युफैक्चरर) से लेकर बाजार तक पहुंचाने का काम करता है । वे डिस्ट्रीब्यूटर ही होते हैं जो कंपनियों से प्रोडक्ट्स को खरीदते हैं और रिटेलर्स या उपभोक्ताओं को बेच देते है | यदि हम भारत में एक  रिटेलर और डिस्ट्रीब्यूटर के बीच अंतर की बात करें तो इनमे अंतर यह है कि,  डिस्ट्रीब्यूटर एक बिज़नेस  से दूसरे बिज़नेस  के बीच ट्रांजेक्शन (लेन-देन) का काम करते है  और रिटेलर्स सीधे उपभोक्ताओं को बेचने का काम करते है | यदि आप भी डिस्ट्रीब्यूटर बनना चाहते है, तो यहाँ पर आपको डिस्ट्रीब्यूटर (Distributor) कैसे बनें, कमाई,  टिप्स की पूरी जानकारी दी जा रही है |

ये भी पढ़े:  फोटोग्राफर (PHOTOGRAPHER) कैसे बने

डिस्ट्रीब्यूटर (Distributor) कैसे बनें 

एक डिस्ट्रीब्यूशन का काम खरीदने और बेचने का  होता है | आप इसे एक प्रकार खेल भी कह  सकते हैं जिसमें तरक्की करने के लिए व्यक्ति को  अच्छी तरह बातचीत करने का तरीका होना चाहिए , मार्केट में क्या चल रहा है  इसके विषय में जानकारी रखने का हुनर  होना चाहिए  और मार्केट में आगे आने वाली मांग का अनुमान लगाने के लिए बेहतरीन सोच होनी चाहिए | जिन लोगों के अंदर ये सभी गुण होते हैं वो एक अच्छे  डिस्ट्रीब्यूटर  बन सकते है |

डिस्ट्रीब्यूटर बनने की टिप्स  

डिस्ट्रीब्यूटर बनने के लिए आप सबसे पहले  एक प्रोडक्ट  चुनाव कर लें और वह प्रोडक्ट ऐसा होना चाहिए, जो आपके मौजूदा काम या  बिज़नेस से जुड़ा हुआ होता है, इसके साथ ही आपको इस बिजेनस को आगे तक ले जाने के लिए प्रोडक्ट और उसको कैसे आगे बढ़ाना है | इस बात की पूरी जानकारी प्राप्त होनी चाहिए |

मार्केट रिसर्च करें 

फिर आप प्रोडक्ट की विशेषताओं के बारे में  मालूम करने के लिए अपना मार्केट रिसर्च   करने की शुरुआत  कर दें और साथ ही आप , प्रोडक्ट के ऍप्लिकेशन्स को  अच्छे से पहचानना सीखे लें | इसके साथ ही आप उपभोक्ताओं की पसंद जानने की भी कोशिश करें |

ये भी पढ़े: एसएससी CHSL परीक्षा तैयारी कैसे करे?

ये भी पढ़े: आर्थिक मंदी (ECONOMIC RECESSION) क्या है

निर्माता (मैन्युफैक्चरर) – डिस्ट्रीब्यूटर एन्गेजमेन्ट मॉडल 

जब आप कंपनियों  का चुनाव कर लेंगे तो इसके बाद  आप  उन्हें डिस्ट्रीब्यूटरशिप के लिए संपर्क कर लें और वहीं यदि आपको भारत में अपने आप को डिस्ट्रीब्यूटर के रूप में स्थापित  करना है तो इसके लिए आपको नियम और शर्तों को  समझना होता है | इस बिजेनस को आगे तक बढ़ाने के लिए आप  किसी एक इलाके में जाकर सभी लोगों को अपने प्रोडक्टस  की ओर आकर्षित कर लें | यदि आप ऐसा कुछ कर लेते हैं तो इससे आपका बिजनेस बहुत ही अच्छा चलने  लगेगा और आप एक अच्छी कमाई कर सकेंगे |

खुद को अच्छा साबित करने की कोशिश करें 

यदि आपको किसी भी कम्पनी में अपना अलग ही  स्थान बनाना है, तो इसके लिए आप कंपनियों का ध्यान अपनी तरफ  खींचने की कोशिश करें | आप इसके लिए डेब्ट्स को कम करें और साफ़-सुथरा  क्रेडिट रिकॉर्ड पेश करें । वहीं कमी हो जाने पर आप उस पर अच्छे से काम  करने की कोशिश करें और अपनी कैश लिक्विडिटी आदि दिखाएं ।

इसके अलावा एक डिस्ट्रीब्यूटर  के अंदर गोदाम संभालने, स्टॉक / इन्वेंट्री, सप्लाई चेन और अन्य जरूरी  पेरिफेरल्स को सँभालने का हुनर होना जरूरी होता है, क्योंकि उस प्रोडक्ट रिटेलर्स को जल्द से जल्द पहुंचाने का काम होता है |

ये भी पढ़े: सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया क्या होता है?

ये भी पढ़े:  प्रॉपर्टी डीलर (PROPERTY DEALER) कैसे बने

साफ़ सुथरी कागजी कार्यवाही करें 

सभी जरूरी  परमिट और लाइसेंस सरकारी अथॉरिटीज  से अपने पास प्राप्त कर लें, क्योंकि आपको एम्प्लायर आइडेंटिफिकेशन नंबर, आपके आधार से जुड़े दस्तावेज आदि की आवश्यकता होती है | जब कोई कंपनी एक  डिस्ट्रीब्यूटर का चुनाव करती  है तो  वह  साफ़ सुथरी कागजी  कार्यवाही को आमतौर पर अधिक महत्वपूर्ण मानती है |

बिज़नेस को बढ़ाये 

यदि आपकी कंपनी तरक्की करना चाहती है, तो  यह बिजनेस  ‘व्यापार’ के टिप्स आपकी सेल्समैन कुशलता और सही लोगों में आपकी नेटवर्किंग को बढ़ाने का काम कर देती है | अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए आप महत्वपूर्ण व्यापार शो, एक्सपो, सम्मेलनों में  शामिल होने की अधिकतर कोशिश लगातार करते रहें और प्रोडक्ट निर्माताओं और कॉम्पिटिटर्स से सम्पर्क बनाकर रखें ।

डिस्ट्रीब्यूटर की कमाई  

एक डिस्ट्रीब्यूटर की कमाई उसके प्रोडक्टस के मुताबिक़ होती हैं | आमतौर पर डिस्ट्रीब्यूटर की कमाई  प्रतिमाह 20 से 25 हजार रूपये तक हो जाती है और जैसे -जैसे डिस्ट्रीब्यूटर का अनुभव बढ़ता जाता है वैसे ही उनकी कमाई भी अच्छी होने लगती है |

ये भी पढ़े: आईएएस (IAS) टॉपर कैसे बनें

यहाँ पर हमने आपको डिस्ट्रीब्यूटर बनने के विषय में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई गई है | यदि  आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूंछ सकते है | इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |

ये भी पढ़े: इंश्योरेंस एजेंट (INSURANCE AGENT) कैसे बनें

ये भी पढ़े: बैंक मैनेजर (BANK MANAGER) कैसे बने

ये भी पढ़े: मैथ्स (MATHS) में इंटेलिजेंट कैसे बने

ये भी पढ़े:  सीआईडी (CID) ऑफिसर कैसे बने