विश्व के विकसित और विकासशील देशों की सूची

वैसे देश के बारे में अधिकतर लोगों को हर प्रकार की जानकारी प्राप्त होगी  | इसी तरह विश्व के विकसित और विकासशील देश भी है, जिन्हे उनकी आर्थिक स्थिति के आधार पर 2 श्रेणियों में बाँट दिया गया है | विकसित देश और विकासशील देश, इन देशों का वर्गीकरण विभिन्न आर्थिक कारकों पर किया जाता है जैसे – प्रति व्यक्ति आय, सकल घरेलू उत्पाद, जीवन स्तर, शिक्षा का स्तर, जीवन प्रत्याशा आदि पर होता है | इसलिए यदि आप भी विश्व के विकसित और विकासशील देशों की सूची के विषय में जानना चाहते हैं, तो यहाँ पर आपको  विश्व के विकसित और विकासशील देशों की सूची (list of developed developing and underdeveloped countries) ,भारत का सूची में कौन-सा स्थान है ? इसकी पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

विकसित देश की परिभाषा (Definition of Developed Country)

विकसित देशों में लोगों की प्रति व्यक्ति की आय अधिक होती है, देश के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का स्तर ऊँचा होता है, उच्च तकनीकी विकास होता है, लोगों का जीवन स्तर उच्च स्तर का होता है | इसके साथ ही देश की आधारभूत संरचना का भी अत्याधिक विकास होता है  | यह ऐसा देश जहाँ पर गरीब जनसंख्या  कम होने के साथ-साथ  बेरोजगारी का स्तर भी कम होता है | इस तरह के देश अपनी जरूरतों के मुताबिक़, सयम से अच्छी रकम प्राप्त कर सकते है |

विकसित देशों के उदाहरण हैं-

अमेरिका, ब्रिटेन, जापान, जर्मनी, कनाडा, फ्रांस, रूस, ऑस्ट्रेलिया, इटली, नॉर्वे, स्वीडन और  स्विटजरलैंड आदि |

विकसित देशों की  विशेषताएं क्या है  (Features of  Developed Countries) ?

विकसित देशों की  निम्नलिखित विशेषताएं है, जो इस प्रकार है –

उच्च जीवन स्तर, उच्च जीडीपी, उच्च बाल कल्याण, उत्कृष्ट स्वास्थ्य सुविधाएँ , उत्कृष्ट परिवहन, संचार और शैक्षिक सुविधाएँ, बेहतर आवास और रहने की स्थिति, औद्योगिक, बुनियादी ढांचा और तकनीकी उन्नति, उच्च प्रति व्यक्ति आय, और जीवन प्रत्याशा आदि में वृद्धि आदि।

विकासशील देश की परिभाषा (Definition of Developing Country)

विकासशील देश ऐसे देश होते है, जो अभी भी आर्थिक विकास के प्रारंभिक चरण का सामना कर रहें हैं, जहाँ पर लोगों की प्रति व्यक्ति आय कम होती है, गरीबी और बेरोजगारी का स्तर अधिक पाया जाता है, लोगों के रहन सहन का स्तर भी बहुत कम अच्छा होता है और देश की आधारभूत संरचना का विकास भी बहुत कम हो पाया है , इस तरह के देशों को  विकासशील देश के नाम से जाना जाता है |

विकासशील देशों के उदाहरण-

भारत, चीन, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, सऊदी अरब, आदि

विकासशील देशों की  विशेषताएं (Features of Developing Countries) 

विकासशील देशों की निम्नलिखित विशेषताएं है, जो इस प्रकार से है- 

निचला मानव विकास सूचकांक, कम सकल घरेलू उत्पाद, उच्च निरक्षरता दर, उच्च गरीबी दर, शिक्षा का निचला स्तर, घटिया परिवहन संचार और चिकित्सा सुविधाएं, असमान आय वितरण, उच्च मृत्यु दर और जन्म दर, उच्च शिशु मृत्यु दर आदि |

भारत का विकास देशो की सूची में कौन-सा स्थान है ?

भारत को विश्व के विकसित और विकासशील देशों की सूची में कोई भी स्थान नहीं प्राप्त है  | इसलिए अब विश्व बैंक के मुताबिक़, भारत की गिनती माध्यम  निम् वर्ग में की जाती है | 

यहाँ पर हमने आपको विश्व के विकसित और विकासशील देशों की सूची के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है |  इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |

नागरिकता संशोधन बिल (CITIZENSHIP AMENDMENT BILL) क्या है