CTI Course क्या होता है ?



अगर आपने हाल ही में आईटीआई कोर्स या फिर डिप्लोमा कोर्स करने में सफलता हासिल की है। और उसके बाद आप कोई ऐसा कोर्स ढूंढ रहे हैं जो इन्हीं चीजों से संबंधित हो, तो आप सीटीआई कोर्स को कर सकते हैं जिसे करने के लिए आपको सिर्फ 1 साल का समय ही देना होगा।

इस कोर्स पूरा करने के बाद आप अपने ट्रेड से संबंधित बेहतरीन नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। इस पेज पर हम जानेंगे CTI Course क्या होता है ? सीटीआई फुल फॉर्म – फ़ीस, योग्यता व टॉप कॉलेज अर्थात इस कोर्स से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी हासिल करेंगे।

आईटीआई (ITI) कोर्स क्या है ?

सीटीआई क्या है ? What is CTI Course in Hindi

CTI एक प्रकार शिक्षक बनने हेतु किया जाने वाला ट्रेनिंग कोर्स है। इस कोर्स में एडमिशन पाने के लिए ऐसे ही विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं जिन्होंने डिप्लोमा किया हुआ है या फिर जिन्होंने आईटीआई का कोर्स कंप्लीट किया हुआ है।

आप इस कोर्स को पूरा करने के पश्चात डिप्लोमा अथवा आईटीआई कॉलेज में टीचर की पोस्ट प्राप्त करने के लायक हो जाते हैं। अगर आप इस कोर्स को करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको बैचलर ऑफ इलेक्ट्रिकल अथवा डिप्लोमा/आईटीआई पास करना आवश्यक है।

आपको इस कोर्स में एडमिशन आपके डिप्लोमा या फिर आईटीआई ट्रेड के आधार पर ही प्राप्त होता है। कहने का मतलब है कि अगर आपने आईटीआई किया है अथवा आपने डिप्लोमा इलेक्ट्रॉनिक्स में किया हुआ है तो आपको आईटीआई के कोर्स में इलेक्ट्रॉनिक्स ट्रेड का ही सिलेक्शन करना होगा।

जब किसी विद्यार्थी के द्वारा सीटीआई के कोर्स में एडमिशन लिया जाता है तब उसे अलग-अलग प्रकार के कोर्स करवाए जाते हैं। जैसे कि फिटर, मोटर मैकेनिक, वायरमैन, मशीनिस्ट, इलेक्ट्रीशियन, टर्नर इत्यादी। इस प्रकार से जिस ट्रेड के द्वारा व्यक्ति ने डिप्लोमा या फिर आईटीआई किया है वह सीटीआई कोर्स में उस ट्रेड का सिलेक्शन कर सकता है।

सीटीआई का फुल फॉर्म | CTI Full form in Hindi

CTI का अंग्रेजी भाषा में फुल फॉर्म “Central Training Institute For Instructor” होता है जबकि हिंदी भाषा में इसे केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थान कहा जाता है।

इस प्रकार से आप समझ गए होंगे कि सीटीआई एक प्रशिक्षण कोर्स है जिसे करने के लिए आईटीआई पास कर चुके विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं या फिर डिप्लोमा की डिग्री हासिल कर चुके विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं।

सीटीआई कोर्स में एडमिशन कैसे लें?

सेंट्रल ट्रेंनिंग इंस्टीट्यूट फॉर इंस्ट्रक्टर कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरना होता है। इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए हर साल एक बार नोटिफिकेशन जारी की जाती है। आपको संबंधित नोटिफिकेशन के हिसाब से ही अपना आवेदन फार्म भरना होता है।

सामान्य तौर पर इस कोर्स में एडमिशन के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन मार्च,जून, दिसंबर, अथवा सितंबर के महीने में निकलने की संभावना अधिक रहती है। इसके लिए आप लगातार समाचार पत्रों पर नजर बना कर के रखे या फिर इंटरनेट चेक करते रहें।

आवेदन फॉर्म भरने के पश्चात निश्चित दिन एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन करवाया जाता है। आपको उस एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना पड़ता है और अच्छे अंकों के साथ एंट्रेंस एग्जाम को पास करना पड़ता है।

एंट्रेंस एग्जाम पास करने के पश्चात आपको संबंधित कॉलेज में जाना होता है और काउंसलिंग के अंतर्गत अपने आवश्यक दस्तावेज और फीस को जमा कर देना होता है। फीस जमा करने के पश्चात आपको सीटीआई के कोर्स में एडमिशन प्राप्त हो जाता है।

सीटीआई कोर्स की अवधि | Duration of CTI Course

सीटीआई कोर्स की कुल समयावधि 1 साल का होता है जिसे 4 अलग-अलग सेशन में डिवाइड किया गया है, जिसे 3-3 महीने में पूर्ण करवाया जाता है जिसके अंतर्गत विद्यार्थियों को प्रैक्टिकल भी स्टडी करवाई जाती है साथ ही थ्योरी भी पढ़ाई जाती है। जब आप कोर्स कंप्लीट कर लेते हैं तो उसके पश्चात आपको सीटीआई का सर्टिफिकेट दिया जाता है।

सीटीआई कोर्स हेतु उम्र सीमा

सीटीआई कोर्स में एडमिशन प्राप्त करने के लिए कुछ उम्र सीमा को भी तय किया गया है। उम्र सीमा के हिसाब से ही आप इस कोर्स में एडमिशन पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इस कोर्स में एडमिशन पाने के लिए कम से कम उम्र 18 साल रखी गई है और अधिक से अधिक उम्र 40 साल रखी गई है। अगर आपकी उम्र इस उम्र सीमा के बीच में है तो आप इस कोर्स में आवेदन करने के लिए पात्र होते हैं।

बीटेक (B.Tech) क्या है ?

सीटीआई कोर्स के बाद कैरियर विकल्प

सीटीआई का कोर्स पूरा करने के पश्चात आप गवर्नमेंट और प्राइवेट आईटीआई इंस्टीट्यूट में टीचर की पोस्ट प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकते हैं। अगर आप गवर्नमेंट कॉलेज में आईटीआई टीचर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आप जब कभी गवर्नमेंट कॉलेज में आईटीआई टीचर की भर्ती निकले तो आप आवेदन कर सकते हैं।

इसके अलावा आप कोर्स पूरा करने के बाद रेलवे डिपार्टमेंट में भी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं या फिर प्राइवेट नौकरी के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। संक्षेप में कहा जाए तो इस कोर्स को करने के बाद गवर्नमेंट नौकरी और प्राइवेट नौकरी प्राप्त करने के हकदार हो जाते हैं।

सीटीआई कोर्स के बाद मिलने वाली सैलरी

सीटीआई कोर्स पूरा करने के पश्चात आपको कितनी सैलरी मिलेगी आपके नौकरी के पद और विभाग पर निर्भर करता है। अगर आप गवर्नमेंट सेक्टर में नौकरी कर रहे हैं तो आप की शुरुवाती तनख्वाह ₹22000 से लेकर के ₹28000 तक हो सकती है।

और अगर आप प्राइवेट सेक्टर में नौकरी कर रहे हैं तो आपकी तनख्वाह ₹17000 से लेकर के 21000 रुपए तक हो सकती है। हालांकि यह वेतन फिक्स नहीं है। विभिन्न सेक्टर में आपको कम अथवा अधिक सैलरी प्राप्त हो सकती है। आप काम करते करते जब अनुभव हासिल कर लेते हैं तो आपकी सैलरी में बढ़ोतरी की जाती है।

सीटीआई कोर्स हेतु योग्यता | CTI Course Eligibility

सीटीआई का कोर्स सिर्फ टेक्निकल विद्यार्थी कर सकते हैं। अगर किसी विद्यार्थी ने पॉलिटेक्निक आईटीआई या फिर बी टेक का कोर्स किया हुआ है तो वह सीटीआई के कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

इसके अलावा जिन लोगों ने फिटर, टर्नर, मैकेनिकल जैसे ट्रेड से डिग्री हासिल की है वह भी कोर्स में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं। कोर्स में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थी की उम्र 18 साल से लेकर के 40 साल के बीच में होनी चाहिए। इसके अलावा व्यक्ति भारतीय नागरिक होना चाहिए साथ ही उसका मानसिक स्वास्थ्य सही होना चाहिए और विद्यार्थी के पास आवश्यक दस्तावेज मौजूद होने चाहिए।

सीटीआई कोर्स की फीस | CTI Course Fees

प्राइवेट कॉलेज में कोर्स की फीस अधिक होती है और गवर्नमेंट कॉलेज में कोर्स की फीस ज्यादा होती है, क्योंकि प्राइवेट कॉलेज कुछ लोगों के ग्रुप के द्वारा चलाए जाते हैं। वही गवर्नमेंट कॉलेज गवर्नमेंट के द्वारा संचालित किए जाते हैं। इस प्रकार से फीस में भिन्नता होती है साथ ही अलग-अलग वर्गों को अलग-अलग फीस भरनी पड़ती है।

सामान्य तौर पर इस कोर्स की फीस सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों के लिए ₹500 हर महीने होती है, वहीं अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति तथा विकलांग लोगों के लिए ₹300 हर महीने होती है।

इसके अलावा काउंसलिंग के तौर पर ₹1000 जमा करने पड़ते हैं। इस प्रकार से कुल मिलाकर देखा जाए तो कोर्स करने के लिए 1 साल में आपको गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट में ₹5000 से लेकर ₹6000 तक भरना पड़ता है, वहीं प्राइवेट इंस्टिट्यूट में आपको ₹7000 से लेकर ₹15000 की फीस भरनी पड़ सकती है।

सीटीआई कोर्स हेतु एंट्रेंस एग्जाम का पैटर्न

सीटीआई के कोर्स में आपको तभी एडमिशन मिलता है जब आप इसके लिए होने वाली एंट्रेंस एग्जाम को पास कर लेते हैं। एंट्रेंस एग्जाम को पास करने के लिए यह आवश्यक है कि आपको यह पता हो कि एंट्रेंस एग्जाम कैसे होती है और उसमें कैसे क्वेश्चन आते है ?

सीटीआई के एंट्रेंस एग्जाम में दो प्रकार के सवाल आते हैं जिसमें तकरीबन 75 प्रतिशत वैकल्पिक प्रश्न होते हैं और दूसरा आपकी ट्रेड से संबंधित थ्योरी के सवाल होते हैं जिसके तहत आपको गणित और रिजनिंग के सवाल मिलते हैं।

आपको पेपर को देने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है। 2 घंटे के अंदर ही आपको पेपर को सॉल्व करना होता है। याद रखें कि गवर्नमेंट कॉलेज पाने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम को अधिक स्कोर के साथ पास करना आवश्यक है।

सीटीआई कोर्स का सेशन

इस कोर्स की कुल अवधि 1 साल होती है और इसका पहला सेशन 1 अगस्त से शुरू होकर 30 जुलाई तक चलता है। इस कोर्स के दौरान कुल 4 सेशन इसमें होते हैं जिसमें पहला सेशन 1 अगस्त से, दूसरा सेशन 1 नवंबर से,तीसरा 1 फरवरी से और चौथा 1 मई से स्टार्ट होता है।

सीटीआई कोर्स हेतु टॉप कॉलेज

  • Govt Industrial Training Institute, Purulia.
  •  Government Industrial Training Institute (Women/Mahila)Rae Bareli.
  •  Government Industrial Training Institute, Tiruchendur.
  • Government Industrial Training Institute (Women), Madurai.
  • Industrial training institute, Mandvi (Surat) (Government)
  • Government Industrial Training Institute (Women), Namakkal.
  • Industrial Training Institute Sadhaura.
  • Government Industrial Training Institute, Trichy.
  • Salboni Government ITI.
  • Government Industrial Training Institute, Ulundurpet.

FAQ

सीटीआई कोर्स कितने साल का होता है ?

1 साल

सीटीआई का फुल फॉर्म क्या है ?

CENTRAL TRAINING INSTITUTE FOR INSTRUCTOR

सीटीआई कोर्स में कितने सेशन होते है ?

4

सीटीआई कोर्स की फीस क्या है ?

विभिन्न कॉलेज में अलग-अलग होती है

एमटेक (M.Tech) क्या होता है ?

Leave a Comment