आयुष्मान गोल्डन कार्ड क्या है ?

भारत का गरीब वर्ग जो आर्थिक तंगी से परेशान है उनकी सहायता के लिए सरकार समय समय पर योजनाएं जारी करती रहती है। इन योजनाओं का लाभ उठाकर वह लोग अपनी ज़िंदगी को आसान बना सकते हैं। अभी तक भारत सरकार द्वारा ऐसी बहुत सारी योजनाएं जारी की जा चुकी हैं जो ज़रूरतमंदों के लिए लाभदायक सिद्ध हुई हैं।

इन्हीं योजनाओं को मद्देनज़र रखते हुए वर्ष 2018 में हाल ही में आयुष्मान गोल्डन कार्ड जारी किया गया है जिसका लाभ उठाकर अस्पताल में मुफ्त इलाज करवा सकते हैं। आज के इस लेख में आप आयुष्मान भारत गोल्डन के बारे में सारी जानकारी प्राप्त करने वाले हैं इसलिए इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक आवश्य ही पढ़ें।

आयुष्मान मित्र योजना क्या है ?

आयुष्मान गोल्डन कार्ड (Ayushman Golden Card) क्या है?

Table of Contents

वर्तमान में सरकार द्वारा सभी कार्य डिजिटल माध्यम में किये जा रहे हैं। इसी बात को ध्यान में रखकर भारत सरकार ने डिजिटल माध्यम से आयुष्मान गोल्डन कार्ड को जारी किया जोकि गरीब लोगों के हित में है। इस कार्ड की मदद से वह मुफ्त में इलाज करवा सकते हैं ताकि किसी बीमारी के दौरान उन्हें किसी समस्या का सामना ना करना पड़े।

बता दें कि यह कार्ड उन लोगों को प्राप्त होता है जिनका नाम इसकी लिस्ट में जारी होता है। कुछ समय पहले तक इस कार्ड के लिए 30 रुपए लिये जाते रहे लेकिन अब आप इस कार्ड को मुफ्त में बनवा सकते हैं। इसके अलावा यदि आपका आयुष्मान गोल्डन कार्ड कहीं गुम हो जाता है तो मात्र 15 रूपये देकर आप डुप्लीकेट आयुष्मान गोल्डन कार्ड निकलवा सकते हैं। इसके लिए आपका बायोमेट्रिक प्रमाण चित्र लिया जाता है।

आयुष्मान गोल्डन कार्ड (Ayushman Golden Card) का उद्देश्य

भारत में गरीबी रेखा के नीचे वर्ग के ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो किसी ना किसी बिमारी से लड़ रहे हैं और उन्हें बहुत मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। इन लोगों को ध्यान में रखकर ही हमारे प्रधान मंत्री ने आयुष्मान भारत योजना को जारी किया है ताकि हमारे भारत के नागरिकों को बिमारियों से बचाया जा सके।

इस योजना के तहत 10 करोड़ से भी ज़्यादा गरीब परिवार मुफ्त सेहत बीमा का लाभ उठा रहे हैं। असल में हमारे भारत में गरीबी रेखा के नीचे आने वाले हर नागरिक को 5 लाख तक मुफ्त बीमा प्रदान करना और आर्थिक तौर पर उनकी सहायता करना ही आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड का उद्देश्य है।

आयुष्मान गोल्डन कार्ड (Ayushman Golden Card) के फायदे

हमारे भारत देश में बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो गरीबी के साथ साथ बिमारियों से लड़ रहे हैं। इन लोगों की सहायता के लिए ही आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाया गया है जिसके हमें बहुत सारे फायदे देखने को मिलते हैं। इनमें से कुछ फायदे आपको निम्नलिखित बताए गए हैं:-

  • जरूरतमंद लोग इस योजना के तहत 5 लाख तक का इलाज मुफ्त करवा सकते हैं।
  • देश के सभी सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में इस कार्ड का लाभ उठाया जा सकता है।
  • 50 करोड़ से भी ज़्यादा भारतीय इस योजना का लाभ उठा रहे हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत सभी कार्य लिखित रूप में किये जाते हैं।
  • कार्ड के आवेदन के बाद 15 दिन के अंदर ही आपको कार्ड प्राप्त हो जाता है।

आयुष्मान गोल्डन कार्ड (Ayushman Golden Card) के लिए जरूरी दस्तावेज़

हम जब किसी भी सरकारी योजना में आवेदन करते हैं तो उसके लिए हमें कुछ दस्तावेज़ों की जरूरत पड़ती है। उसी प्रकार से आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लिए भी कुछ दस्तावेज़ अनिवार्य हैं जोकि इस प्रकार हैं:-

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड प्राप्त करने के लिए पात्रता की जांच कैसे करें

पात्रता के अनुसार जिन लाभार्थियों के नाम सूची में जोड़े जाते हैं, वहीं आयुष्मान गोल्डन कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। हमारे द्वारा नीचे बताई गयी प्रक्रिया को फॉलो करके आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड प्राप्त करने की पात्रता को जांच सकते हैं:-

  • सबसे पहले आपको अपने किसी भी ब्राउज़र में आयुष्मान भारत की अधिकारित वेबसाइट को ओपन करना है जिसके बाद इनका वेब पेज खुल जाएगा।
  • यहां पर आपको बहुत सारे विकल्प दिखेंगे जिसमें से आपको login के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब एक नया पेज ओपन होगा जिसमें आपको अपना मोबाईल नंबर और कैप्चा कोड भरना है।
  • सारी जानकारी भरने के बाद Generate OTP के बटन पर क्लिक करें।
  • आपके मोबाईल पर अब एक OTP आएगा जिसे आपको दिये बॉक्स में भरना होगा।
  • इसके बाद आपको कई विकल्प दिखेंगे जैसे कि नाम से, मोबाइल नंबर द्वारा, राशन कार्ड से, RSBI URN आदि। अपनी सुविधा के अनुसार आप इनमें से किसी भी विकल्प को चुन सकते हैं।
  • विकल्प को चुनने के बाद यदि आप सर्च बाई नेम पर क्लिक करते हैं तो आपको अपना नाम, आयु और जिला आदि भरने होंगे।
  • यह सभी जानकारी भरने के बाद आपके सामने रिजल्ट आ जाएगा कि आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लिए पात्र हैं या नहीं।

आयुष्मान गोल्डन कार्ड कैसे बनवाएं

आप दो तरीकों से आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को बनवा सकते हैं। यदि आप भी आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनवाना चाहते हैं तो निम्न हमने आपको स्टेप्स बताए हैं जिन्हें आप फॉलो कर सकते हैं:-

जनसेवा केंद्र द्वारा

  • आपको सबसे पहले अपने नज़दीकी किसी जनसेवा केंद्र में जाना होगा।
  • वहां पर जनसेवा केंद्र वाले आपका नाम सूची में देखेंगे।
  • यदि आपका नाम सूची में है तो जनसेवा केंद्र से आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसके लिए आपको जरूरी दस्तावेज़ जनसेवा केंद्र के एजेंट को दिखाने हैं।
  • दस्तावेज़ों के सफल पंजीकरण के बाद आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड के योग्य हो जाते हैं।
  • सफलतापूर्वक आवेदन के बाद 10-15 दिनों में ही जनसेवा केंद्र से आप अपना आयुष्मान कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।

पंजीकृत और नीजी अस्पतालों द्वारा

  • इसमें सबसे पहले आपको अपने जरूरी दस्तावेज़ों को लेकर किसी पंजीकृत सरकारी या निजी अस्पताल में जाना है।
  • इसके बाद सूची में आपके नाम की जाँच होती है।
  • सूची में यदि आपका नाम उपलब्ध है तो आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।

आयुष्मान भारत (PMJAY) हॉस्पिटल सूची

आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड कैसे करें

आयुष्मान गोल्डन कार्ड को हम ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से डाउनलोड करके प्राप्त कर सकते हैं। आयुष्मान गोल्डन कार्ड को डाउनलोड करने की सारी प्रक्रिया को हमने निम्नलिखित बताया है जोकि इस प्रकार है:-

ऑनलाइन प्रक्रिया

  • ऑनलाइन आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना की अधिकारित वेबसाइट पर जाएं।
  • यहां पर आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
  • इसके होमपेज में आपको Download Ayushman Card के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा जिसमें Select Options में आपको Aadhar के विकल्प का चयन करना होगा।
  • इसके नीचे ही आपके सामने तीन विकल्प होंगे जोकि PMJAY, CAPF और RAN/HMDG हैं। इनमें से आपने जिस भी माध्यम से आयुष्मान कार्ड बनवाया है उसपर क्लिक करें।
  • अब अपने राज्य का चयन करें।
  • आपको इसके बाद निर्धारित बॉक्स में अपना आधार नंबर भरना है।
  • फॉर्म के अंत मे एक चेक बॉक्स बना हुआ आपके सामने होगा जिसपर आपको क्लिक कर देना है।
  • सारी जानकारी सही सही भरने के बाद Generate OTP के बटन पर क्लिक करदें।
  1. आपके आधार कार्ड से लिंक हुआ जो मोबाईल नंबर है उसपर अब एक OTP आएगा।
  2. इस OTP को बॉक्स में भरके Verify के बटन पर क्लिक करें।
  3. आपके आयुष्मान कार्ड की जानकारी अब आपके सामने आ चुकी होगी।
  • जानकारी के साथ ही Download Card का बटन होगा। इसपर क्लिक करते ही आपका आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।

ऑफलाइन प्रक्रिया

  • ऑफलाइन माध्यम से अगर आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने नज़दीकी CSC (कॉमन सर्विस सेंटर) ऑफिस में जाना होगा।
  • यहां पर आपको अपने साथ जरूरी दस्तावेज़ भी लेकर जाने होंगे।
  • दस्तावेज़ों की जांच के बाद केंद्र अधिकारी द्वारा आपके अंगूठे का स्कैन किया जाएगा।
  • इसके पश्चात लिस्ट में आपका नाम चेक किया जाएगा।
  • यदि आपका नाम लिस्ट में है तो केंद्र अधिकारी आपका आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड करके आपको प्रदान कर देंगे।

आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लिए ऑनलाइन डैशबोर्ड कैसे देखें

आयुष्मान गोल्डन कार्ड से जुडी जानकारी ऑनलाइन प्राप्त करने के लिए हमें इसका डैशबोर्ड खोलकर चेक करना होता है। आयुष्मान भारत के डैशबोर्ड को यदि आप देखना चाहते हैं तो हमारे द्वारा बताए गए निम्न स्टेप्स को आप फॉलो कर सकते हैं:-

  1. सर्वपर्थम आयुष्मान भारत की अधिकारित वेबसाइट पर विजिट करें।
  2. यहां पर आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
  3. इसमें आपको मेन्यू बार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  4. उसका बाद आपके सामने कई विकल्प होंगे जिसमें से आपको डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना है।
  5. आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन हो चूका होगा।   
  6. यहां पर आप आयुष्मान भारत के डैशबोर्ड को देख सकते हैं।

आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन कौन कर सकता है

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए हर व्यक्ति आवेदन नहीं कर सकता। बल्कि इसके लिए कुछ योग्यताएं तय की गई हैं ताकि इस योजना का लाभ इसके सही पात्रों को पहुँच सके। आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन निम्न बताए लोग कर सकते हैं:-

  • 16 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के बिना किसी सदस्य के परिवार |
  • 16 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के भीतर बिना किसी पुरुष / वयस्क / कमाने वाले सदस्य के परिवार |
  • एक कमरे में रहने वाले परिवार दीवारों और छत वाले कच्चे मकान |
  • ऐसे परिवार जिनमें एक विकलांग सदस्य है और कोई स्वस्थ वयस्क सदस्य नहीं है |
  • मैनुअल मेहतर के परिवार |
  • बिना घर वाले परिवार जिनकी आय का बड़ा हिस्सा शारीरिक श्रम से आता है |

शहरी क्षेत्रों के निम्नलिखित लोग PMJAY योजना के लिए पात्र हैं:-

  • घरेलु मजदूर
  • घर पर रहने वाले दर्जी/हस्तशिल्प कार्यकर्ता/माली/सफाईकर्मी/कारीगर/स्वच्छता कार्यकर्ता
  • हॉकर्स/स्ट्रीट वेंडर्स/मोची
  • सुरक्षा गार्ड/निर्माण श्रमिक/वेल्डर/कुली/पेंटर/मजदूर
  • कूड़ा बीनने वाले
  • धोबी / राजमिस्त्री / प्लंबर
  • मोची
  • मैकेनिक/मरम्मत कर्मचारी/इलेक्ट्रीशियन/असेम्बलर
  • भिखारी
  • वेटर/चपरासी/दुकान कर्मचारी/वितरण सहायक
  • परिवहन कर्मचारी / गाड़ी चलाने वाले / कंडक्टर / रिक्शा चालक

आयुष्मान गोल्डन कार्ड में किसी समस्या आने पर शिकायत दर्ज कैसे करें

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के माध्यम से हम 5 लाख रूपये तक का इलाज मुफ्त करवा सकते हैं। परन्तु कभी कभार ऐसा होता है कि इस कार्ड को बनवाते समय हमारे समय कोई मुश्किल आ जाती है। जैसे कि गलती से आयुष्मान गोल्डन कार्ड किसी और के नाम जारी होना। ऐसी स्थिति में आपको चिंता करने की कोई भी जरूरत नहीं है। आप इसकी जानकारी केंद्र से संपर्क करके कर सकते हैं जिसकी जानकारी निम्नलिखित हम आपको प्रदान कर रहे हैं:-

  • आपके पास इसके लिए किसी प्रमाणित दस्तावेज़ होना आवश्यक है जैसे कि प्लास्टिक कार्ड। इस स्थिति में आप आयुष्मान भारत योजना के लिए टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 180018004444 तथा 14555 डायल करके इसकी जानकारी केंद्र को दे सकते हैं।
  • आप यदि मेल करना चाहते हैं तो इस योजना के लिए जारी की गई ईमेल आईडी [email protected] पर ईमेल लिखकर भेज सकते हैं।
  • इसके अलावा योजना से संबंधित जरूरी दस्तावेज़ों को लेकर आप ज़िले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी के पास भी जा सकते हैं जहां पर इंप्लीमेंटेशन यूनिट में आपको अपनी शिकायत दर्ज करवानी होगी। इसके बाद आपके दस्तावेज़ों का सत्यापन किया जाएगा और बाद में शिकायत शासन को भेज दी जाएगी। बाद में आप जन सेवा केंद्र से नया आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं।

Ayushman Bharat List 2022

Leave a Comment