ओएमआर शीट क्या है

OMR एक विशेष प्रकार का स्केनर होता है, जो एक इनपुट डिवाइस कहलाती है | इस डिवाइस को प्रमुख रूप से विशेष प्रकार के चिन्‍ह या मार्क्स को पहचानने के लिए डिजाइन की जाती है | ओएमआर एक शीट होती है, जिसमें एग्जाम दिया जाता है | इसलिए आपने ने भी कई बार परीक्षाओं में ओएमआर शीट पर एग्जाम दिया होगा, जहां पर आपको काले पेंसिल से गोला को ठीक से भरना होता है  | फिर एग्जाम खत्म होने के बाद ओएमआर शीट को स्केनर में डाल दिया जाता है, क्योंकि यही स्केनर एक लेजर लाइट को आपकी सीट पर डालने का काम करता है और केवल उन काले घेरे वाले निशानों को ही स्कैन करता है  जहां पर आपने ओएमआर शीट में गोलों को पूरा काला कर रखा होता है | इसके बाद वहां से लेजर की मात्रा कम वापस आती है और जहां पर आप ने गोलों को काला नहीं किया हुआ होता है वहां से लेजर की मात्रा ज्यादा वापस आती है  | इसी तरह से आपके द्वारा दिए गए उत्तरों को स्कैनर बहुत ही आसानी से पहचान लेता है | इसलिए यदि आपको ओएमआर के विषय में अधिक जानकारी नहीं प्राप्त है और आप इसके विषय में जानना चाहते है, तो यहाँ पर आपको ओएमआर फुल फॉर्म क्या है  | OMR Full Form, Meaning in Hindi | इसकी विस्तृत जानकारी प्रदान की जा रही है |

UGC NET परीक्षा क्या है

ओएमआर का फुल फॉर्म | OMR FULL FORM

ओएमआर का फुल फॉर्म “Optical Mark Recognition” होता है | वहीं इसे हिनी भाषा में “ऑप्टिकल मार्क रीडर” कहा जाता है | यह सर्वेक्षणों और परीक्षणों से मानव चिन्हित डेटा को पढ़ाने की प्रक्रिया होती है |

ओएमआर के फायदे और नुकसान ( Advantages And Disadvantages of OMR)

  1. ओएमआर शीट स्केनर 1 घंटे में लगभग 10000 कॉपियों को जांचने का काम करता है | 
  2. वहीं, कीबोर्ड से डाटा एंट्री करने पर आपकी  गलतियों की संभावना अधिक रहती है  और वहीं, ऑप्टिकल मार्क रीडर से डाटा को एंटर करने पर गलतियों की गुंजाइश बहुत कम होती है
  3. ओएमआर शीट को अच्छे से भरना आवश्यक होता है, क्योंकि यदि उसे  ठीक से डार्क नहीं किया गया है तो ऑप्टिकल मार्क रीडर (Optical mark reader) उस डाटा को कलेक्ट नहीं कर पाएगा
  4. ओएमआर का इस्तेमाल केवल उन्हीं डाटा को कलेक्ट करने के लिए होता है, जिसमें एक से अधिक ऑप्शंस का चुनाव करना होता है और यदि आप सिंगल डाटा कलेक्ट करना चाहते हैं, तो आप ओएमआर को उपयोग में नहीं ला सकते है |

गेट (GATE) एग्जाम क्या होता है

ओएमआर (OMR) शीट कैसे भरे 

  1. ऑप्टिकल आंसर शीट (Optical Answering Sheet) भरते समय आवश्यक है कि,आप आंसर को बार-बार बिगाड़े नहीं |
  2. गोले को पूरी तरीके से काला करें | उसे आंशिक रूप से काला ना करें और यदि आप उसे आंशिक रूप से काला करते है, तो उसे मशीन नहीं पकड़ पाएगी |
  3. ओएमआर शीट को काला करने के अलावा और कोई भी निशान वहां पर ना लगाएं जैसे टिक का निशान या क्रॉस का निशान बिलकुल भी न लगाए | 
  4. ओएमआर शीट पर गोले को आधा काला करके न छोड़ दें, क्योंकि इससे भी आपका उत्तर सही नहीं माना जाएगा | 
  5. गोले के बाहर बिलकुल भी न भरे | इसका मतलब आपको गोले को केवल अंदर से ही भरना है |

खंड शिक्षा अधिकारी कौन होता है

यहाँ पर हमने आपको ओएमआर के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि इस जानकारी से रिलेटेड आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न या विचार आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) कैसे बने