रंगों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में

रंगों (Colours) का हमारे जीवन में बहुत बड़ा महत्त्व होता है। बिना रंगों के ज़िंदगी हम सोच भी नहीं सकते। प्राचीन समय से ही लोग रंगों इस्तेमाल करते आ रहे हैं। रंगों से ही हमारी ज़िंदगी में आसानियां आती हैं।

लेकिन कई बार जब लोगों से कलर के नाम इंग्लिश और हिंदी में के नाम पूछ लिए जाते हैं तो नाम याद ना होने की वजह से वह इन रंगों को पहचान नहीं पाते। कई बार तो Competitive Examinations में भी रंगों से संबंधित प्रश्न पूछ लिये जाते हैं। इसलिए आपकी सहायता के लिए हम इस लेख के माध्यम से आपको colours name in english and hindi बताने जा रहे हैं।

12 महीनों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में

Colours Name in Hindi and English [रंगों के नाम हिंदी और इंग्लिश दोनों में]

Colors (English)Colors (Hindi)
Whiteसफेद
Blackकाला
Blueनीला
Yellowपीला
Redलाल
Greenहरा
Pinkगुलाबी
Brownभूरा
Purpleबैंगनी
Greyग्रे (धुमैला)
Orangeनारंगी
Goldenसुनहरा
Maroonकरौंदिया या भूरा लाल रंग
Rubyगहरा लाल रंग
Navy Blueगहरा नीला
Azureआसमानी रंग
Clayमिट्टी जैसा रंग
Silverचांदी जैसा रंग
Beigeगहरा पीला
Bronzeपीतल रंग
Off Whiteधूमिल सफ़ेद
Metallicधातुमय रंग
Turquoiseफ़िरोज़ा
Amberभूरा पीला रंग
Rustजंग रंग
Grapeअंगूर का रंग
Plumबेर रंग
Mintटकसाल रंग
Limeचूने का रंग
Oliveजैतून का रंग
Ivoryहाथीदांत रंग
Violetहलके नीले रंग
Cyanहरिनील
Pea greenमटर हरित
Magentaगहरा गुलाबी रंग
Coralमूंगा रंग
Tealहरे रंग की छायादार
Mustardसरसों रंग
Wheatगेहूँ रंग
Indigoजामुनी

दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मोहनजोदड़ो और हड़प्पा की खुदाई में सिंधु घाटी सभ्यता के जो बर्तन मिले थे उसपर रंगाई की गई है। इसमें लाल रंग के कपड़े का टुकड़ा भी मिला था जिसके ऊपर मजिष्ठ की जड़ से तैयार किये गए रंग को चढ़ाया गया है। इससे हमें मालूम होता है कि पुराने समय से ही रंगों का प्रचलन चला आ रहा है।

रंग कितने प्रकार के होते हैं ? [Types of Color in Hindi]

असल में रंगों को तीन भागों में विभाजित किया जा सकता है जिसकी जानकारी कुछ इस प्रकार है:-

  1. प्राथमिक रंग (Primary) – यह मूल रंग है जो किसी के मिश्रण से नहीं बनते। लाल, हरा और नीला।
  2. द्वितीयक रंग (Secondary) – प्राथमिक रंग के मिश्रण से जो रंग बनता है वह यह रंग है।
  3. विरोधी रंग (Tertiary) – यह प्राथमिक और द्वितीयक रंग के मिश्रण से बनता है।

वैसे तो मुख्य रंग केवल तीन ही हैं जोकि हैं लाल, हरा और नीला। लेकिन सफ़ेद और काला रंग भी रंगों में अपना काफी बड़ा योगदान देते हैं। इस वजह से हम मुख्य रंगों की संख्या पांच मान सकते हैं। आपको बता दें कि इन सभी रंगों का जनक इंद्र धनुष को माना जाता है।

अंग्रेजी लिखना और पढ़ना कैसे सीखे

Leave a Comment