भारत में कुल कितने रेलवे स्टेशन, मंडल, जोन है



भारतीय रेलवे को देश दुनिया में महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है, क्योंकि,यहां प्रतिदिन 12 हजार यात्री ट्रेनें चल रही  हैं। इस ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों की प्रतिदिन की संख्या दो करोड़ से भी अधिक हैं । भारत में 1853 को प्रथम ट्रेन का संचालन किया गया था, जिसमे सबसे पहली ट्रेन मुंबई से ठाणे के मध्य चलायी गयी थी | इसके साथ ही भारतीय रेलवे विश्व का दूसरा और एशिया का पहला सबसे बड़ा रेल नेटवर्क कहा जाता है | सम्पूर्ण भारत में भारतीय रेलवे को जोन (Zones) में विभाजित किया गया  है, और प्रत्येक जोन को मंडल में विभाजित कर दिया गया है |

img-1


प्रत्येक मंडल के लिए क्षेत्र के महाप्रबंधक (GM) को रिपोर्ट प्रदान करने के लिए रेलवे प्रबंधक (DRM) की नियुक्ति की जाती है | यदि आप भी भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन के विषय में जानना चाहते हैं, तो यहाँ पर आपको भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन है,  नाम व उनकी सूची की पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

रेलवे में स्टेशन मास्टर कैसे बने

भारत में कितने रेलवे जोन ?

वर्तमान समय में भारत में कुल 17 रेलवे जोन है, जो इस प्रकार है-



  1. उत्तर रेलवे
  2. उत्तर पूर्वी रेलवे या पूर्वोत्तर रेलवे
  3. पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे
  4. पूर्व रेलवे
  5. दक्षिण पूर्वी रेलवे
  6. दक्षिण मध्य रेलवे
  7. दक्षिण रेलवे
  8. मध्य रेलवे
  9. पश्चिम रेलवे
  10. दक्षिण पश्चिम रेलवे
  11. उत्तर पश्चिम रेलवे
  12. पश्चिम मध्य रेलवे
  13. उत्तर मध्य रेलवे
  14. दक्षिणपूर्व मध्य रेलवे
  15. पूर्व तटीय रेलवे
  16. पूर्वमध्य रेलवे
  17. कोलकाता मेट्रो रेलवे

IRCTC User ID Kaise Banaye

भारत में रेलवे मंडल की सूची (Railway Zones of India with Headquarter in Hindi)

भारतीय रेलवे में कुल 73 मंडल हैं, जो इस प्रकार है-

S.Noक्षेत्रमुख्यालयडिवीजन
1मध्यमुंबईमुंबई (सीएसटी), भुसावल, नागपुर, पुणे
2पश्चिममुंबईमुंबई (मध्य), वडोदरा, रतलाम, अहमदाबाद, राजकोट, भावनगर
3उत्तरदिल्लीअंबाला, दिल्ली, लखनऊ, मोरादाबाद, फिरोजपुर
4पूर्वकोलकाताआसनसोल, हावड़ा, मालदा, सियालदह
5दक्षिणचेन्नईचेन्नई, मदुरै, पालघाट, त्रिची, त्रिवेन्द्रम, सलेम
6पूर्व मध्यहाजीपुरदानापुर, धनबाद, मुग़लसराय, समस्तीपुर, सोनपुर
7पूर्व तटभुवनेश्वरखुर्दा रोड, संबलपुर, वालटायर
8उत्तर मध्यइलाहाबादइलाहाबाद, आगरा, झांसी
9पूर्वोत्तरगोरखपुरलखनऊ, इजाजतनगर, वाराणसी
10पूर्वोत्तर सीमागुवाहाटीकटिहार, अलीपुरदुआर, रंगिया, लुमडिंग, तिंसुकिअ
11उत्तर पश्चिमजयपुरअजमेर, बीकानेर, जयपुर, जोधपुर
12दक्षिण मध्यसिकंदराबादहैदराबाद, नांदेड़, सिकंदराबाद
13दक्षिण पूर्व मध्यबिलासपुरबिलासपुर, नागपुर, रायपुर
14दक्षिण पूर्वकोलकाताआद्रा, चक्रधरपुर, खड़गपुर, रांची
15दक्षिण पश्चिमहुबलीबैंगलोर, हुबली, मैसूर
16दक्षिण तटीयविसाखापटनमगुंटकाल, गुंटूर, विजयवाड़ा
17पश्चिम मध्यजबलपुरभोपाल, जबलपुर, शहर
18कोलकाता मेट्रोकोलकातालागू नहीं

भारत में रेलवे स्टेशन

भारतीय रेलवे में कुल 7,000 और 8,500 के बीच अनुमानित स्टेशनों का निर्माण किया गया  है | यह भारत के लोगों को रोजगार प्रदान करने वाला विश्व का चौथा सबसे बड़ा नियोक्ता है | इनसे प्रतिदिन लगभग 2 करोड़ से भी अधिक यात्री  यात्रा करते है |

भारत की पहली ट्रेन की शुरुआत कब की गई 

  1. भारत की पहली ट्रेन की शुरुआत 16 अप्रैल 1853 में की गई थी | भारत की यह पहली ट्रेन सबसे पहले मुंबई से ठाणे के बीच चलायी गई थी, इस ट्रेन नें कुल 35 किलोमीटर की दूरी तय की थी | इस ट्रेन का नाम ब्लैक ब्यूटीखा तय किया गया था और उसमें कुल 14 डिब्बे थे, और यह भाप के इंजन द्वारा चलायी जाती थी | 
  2. पूर्वी भारत में पहली ट्रेन वर्ष 1854 में हावड़ा से हुगली के मध्य चलायी गयी थी | उत्तर भारत में 1859 में कानपुर से इलाहबाद के बीच पहली ट्रेन की चलाने की शुरुआत कर दी गई थी |
  3. भारत की पहली विद्युत ट्रेन 1925 में मुंबई वीटी से कुर्ला के  मध्य चलायी गयी थी | भारत की स्वतंत्रता के बाद वर्ष 1950 में भारतीय रेल का राष्ट्रीयकरण का भी आयोजन किया गया था |

यहाँ पर हमने आपको भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन के विषय में जानकारी दी है | यदि आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है |  

रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने 

FAQ

भारत का सबसे बड़ा रेलवे मंडल कौन सा है?

त्तर रेलवे भारत में कवर किए गए किलोमीटर (लगभग 6807) के संदर्भ में सबसे बड़ा ज़ोन (18 में से) है |

भारतीय रेल मंडल का मुख्यालय कहाँ है?

नई दिल्ली

भारत का सबसे छोटा रेलवे मंडल कौन सा है?

उत्तर पूर्वी सीमांत रेलवे जोन

विश्व का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन कहां है?

जापान का नागोया स्टेशन फर्श क्षेत्र के मामले में दुनिया का सबसे बड़ा स्टेशन है