दिल्ली एनसीआर क्या है



दिल्ली के बारे में तो हर कोई जानता है। क्योंकि वह हमारे देश की राजधानी है। लेकिन दिल्ली एनसीआर के बारे में‌ बहुत कम लोग जानते हैं। शायद आप भी उनमें से एक होंगे जिन्हें दिल्ली एनसीआर के बारे में जानकारी नहीं है। इसलिए आज हम आपको इस पोस्ट में दिल्ली एनसीआर (Delhi NCR) के बारे में बताने जा रहे हैं। कि NCR क्या होता है? NCR Full Form, NCR में कितने शहर या जिले शामिल हैं आदि। तो चलिए बिना समय व्यर्थ किए जानते हैं Delhi NCR के बारे में।

img-1


दिल्ली चालक योजना

NCR Full Form

  • The full form of NCR in English – National Capital Region
  • एनसीआर की फुल फॉर्म हिंदी में – राष्ट्रिय राजधानी क्षेत्र

NCR क्या है?

एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) एक महानगरीय क्षेत्र है। इसमे पूरे दिल्ली प्रदेश सहित उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान राज्यों के आस-पास के कई जिलों को शामिल किया गया है। जो पड़ोसी राज्यों के नजदीकी क्षेत्रों को दिल्ली में शामिल किया गया है उन्हें Delhi NCR कहा जाता है। एनसीआर में ग्रामीण और शहरी दोनो क्षेत्रों को शामिल किया गया हैं। Delhi NCR का कुल क्षेत्रफल 55,083 वर्ग किमी है। इसका शहरीकरण स्तर 62.6% है, इसमें शहरों और कस्बों के साथ-साथ जंगल, अरावली पर्वत, वन्यजीव और पक्षी अभयारण्य जैसे पारिस्थितिक रूप से संवेदनशील क्षेत्र भी शामिल है। हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि  पहले इसका नाम National Capital Region Planning Board था। फिर इसका नाम बदलकर National Capital Region रखा गया जो अभी तक है।

दिल्ली में कितने जिले हैं और उनके नाम क्या है ?



एनसीआर में शामिल शहर (Cities in NCR)

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र योजना बोर्ड अधिनियम, 1985 के अनुसार, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, और राजस्थान से सटे 24 जिलों को एनसीआर में शामिल किया गया है, जो इस प्रकार है-

NCR में हरियाणा के शामिल जिलों के नाम (Names of included districts of Haryana)

एनसीआर में हरियाणा राज्य के 14 जिले शामिल है, इनका क्षेत्रफल 25,327 वर्ग किलोमीटर है।  इन 14 जिलों की लिस्ट नीचे निम्नलिखित इस प्रकार है।

  • भिवानी (Bhiwani)
  • महेंद्रगढ़ (Mahendergarh)
  • पानीपत (Panipat)
  • रेवाड़ी (Rewari)
  • मेवात (Mewat)
  • पलवल (Palwal)
  • जींद (Jind)
  • करनाल (Karnal)
  • रोहतक (Rohtak)
  • सोनीपत (Sonipat)
  • फरीदाबाद (Faridabad)
  • गुड़गांव (Gurugram )
  • झज्जर (Jhajjar)

NCR में उत्तर प्रदेश के शामिल जिलों के नाम (Names of included districts of Uttar Pradesh)

उत्तर प्रदेश के 8 जिले NCR में शामिल हैं, इनका क्षेत्रफल 14,826 वर्ग किलोमीटर है। इन 8 जिलों के लिस्ट के नाम निम्नलिखित इस प्रकार है।

  • बुलंदशहर (Bulandshar)
  • मेरठ (Meerut)
  • बागपत (Baghpat)
  • गाजियाबाद (Gaziabad)
  • मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar)
  • हापुड़ (Hapur)
  • गौतम बुद्ध नगर जिला (नोएडा और ग्रेटर नोएडा)

NCR में राजस्थान के शामिल जिलों के नाम (Names of included districts of Rajasthan)

एनसीआर में राजस्थान के केवल 2 जिलों को ही शामिल किया गया है। इन जिलों का क्षेत्रफल 13,447 वर्ग किलोमीटर है। जिनकी लिस्ट नीचे दी गई है।

  • अलवर (Alwar)
  • भरतपुर (Bharatpur)

क्यों बनाया गया NCR?

भारत सरकार ने NCR का निर्माण इसलिए किया था। क्योंकि दिल्ली में हर दिन अलग-अलग जगह से लोग नौकरी को ढूंढने के लिए आते हैं। जिसके कारण दिल्ली की जनसंख्या दिन प्रतिदिन बढ़ रही थी। इसलिए दिल्ली में बढ़ती हुई जनसंख्या को देखते हुए सन् 1962 दिल्ली के पहले मास्टर प्लान में ‌दिल्ली और उसके निकटतम शहरों को NCR में शामिल करके एक बड़ा क्षेत्र बनाने का सुझाव रखा गया था। इस प्लान में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और निकटतम नगर गाजियाबाद, फरीदाबाद, गुड़गाँव, बल्लभगढ़, बहादुरगढ़ और लोनी सहित कई ग्रामीण क्षेत्रों को भी शामिल किया गया।

फिर सन 1985 में National Capital Region Planning Board Act of 1985 के तहत NCR और इसके प्लानिंग बोर्ड का निर्माण किया गया। जिसके बाद दिल्ली महानगरीय क्षेत्र को NCR (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) के नाम से पहचान मिली। और इसमें हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ अन्य जिलों को शामिल करके एरिया का विस्तार किया गया।`    

दिल्ली ई पास पोर्टल क्या है

Leave a Comment