Pachan Shakti in Hindi

दुनिया में ऐसे बहुत लोग होते है, जो अपने पाचन को लेकर बहुत अधिक परेशान रहते है, क्योंकि जब तक हमारी पाचन शक्ति मजबूत नहीं होगी तब तक हमारे अंदर कमजोरी भी महसूस होती रहती है और जब लोगों की पाचन शक्ति ही नहीं सही रहेगी, तो लोगों भर पेट खाना भी खा पाते है, जिससे वो कमजोर होते है चले जाते है | इसलिए अगर आप जीवन भर स्वस्थ रहना चाहते है, तो इसके लिए आपको अपने पाचन तंत्र को भी सही रखने की बहुत अधिक आवश्यकता है, क्योंकि जिस व्यक्ति को पाचन को लेकर परेशानी होती है और उसका पाचन तंत्र पूर्ण रूप से मजबूत नहीं है तो, वह व्यक्ति कभी भी मोटा नहीं हो सकता और न ही स्वस्थ रह सकता है। इसलिए यदि आपको खुद को स्वस्थ रखना तो आपको सबसे पहले अपने पाचन तंत्र को मजबूत रखना बहुत जरुरी होता है | यदि आपका  पाचन तंत्र सही है, तो आप अच्छे से भोजन कर सकेंगे और आपको पेट से सम्बंधित किसी भी प्रकार की समस्या का भी सामना नहीं करना पड़ेगा | इसलिए यदि आपको भी अपनी पाचन शक्ति को मजबूत करना है और आप पाचन शक्ति मजबूत करने के विषय में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो यहाँ पर आपको पाचन शक्ति मजबूत करने के लिए क्या खाना चाहिए, Pachan Shakti in Hindi  | इसकी पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है | 

इम्यून सिस्टम (IMMUNE SYSTEM) क्या है  

पाचन शक्ति (PACHAN SHAKTI) क्या है ?

पाचन तंत्र वह क्रिया होती है, जो हमारे खाने को सही रूप से हमारे शरीर में पहुंचाने का काम करता है उसे पाचन तंत्र या पाचन शक्ति कहा जाता है । इसके साथ ही पाचन तंत्र हमारे भोजन को ऊर्जा में बदलकर हमारे शरीर को शक्ति और पोषण प्रदान करता है, जिससे हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनती है और हमे यह रोगों से बचाने का काम करता है और वहीं यदि हमारा पाचन तंत्र ख़राब हो जाता है, तो हम जो कुछ भी खाते हैं, उसे सही ढंग से पच नहीं सकता है। इसके बाद धीरे-धीरे हमारे शरीर को जरुरी विटामिन्स और मिनरल्स मिलना भी बंद हो जाता है, जिससे  हमारा शरीर बीमारियोंसे घिर जाता है  और फिर हमारा इम्यून सिस्टम (Immune System) भी काम करना बंद कर देता है।  

पाचन तंत्र खराब होने के क्या कारण होते है? 

  1. जब आप एक ही जगह घंटो तक बैठ कर काम करते है, तो आपका पाचन तंत्र खराब जल्दी खराब हो सकता है | 
  2. अधिक मात्रा में फास्ट फूड या जंक फूड खाने से आपका पाचन तंत्र खराब हो सकता है | 
  3. दिनचर्या का सही से पालन न करने से आपकी शक्ति कमजोर हो सकती है | 
  4. नींद न आने की समस्या से भी पाचन तंत्र खराब होने की अधिक उम्मीद होती है | 
  5. तनाव में रहने से आपका पाचन तंत्र खराब हो सकता है | 
  6. खाने -पीने में कमी करने से पाचन तंत्र में खराबी आ जाती है | 
  7. बहुत कम मात्रा में पानी पीने से पाचन शकतो कमजोर होने लगती है | 
  8. तम्बाकू, शराब और सिगरेट का अधिक सेवन करने से आपका पाचन तंत्र जल्दी खराब हो सकता है | 
  9. अधिक मात्रा में भोजन खाने से पाचन तंत्र खराब हो जाता है | 
  10. समय पर भोजन न करने से पाचन तंत्र खराबा हो जाता है | 

रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट क्या है

पाचनतंत्र ख़राब होने के लक्षण

  1. बदहजमी का होना।
  2. कब्ज की शिकायत।
  3. अपच (Indigestion)।
  4. एसिडिटी (Acidity)।
  5. पेट से जुड़ी समस्या।
  6. सीने में जलन।
  7. इरिटेबल बाउल सिंड्रोम।
  8. डायरिया।

पाचन शक्ति (PACHAN SHAKTI) मजबूत करने के लिए क्या खाना चाहिए

पानी का सेवन अधिक मात्रा में करें 

अधिक मात्रा में पानी पीने से यह हमारे पाचन शक्ति को बढ़ाने के लिए लाभदायक होता है, क्योंकि हमारे शरीर में भोजन को पचाने के लिए पानी  की अत्याधिक आवश्कता होती हैं, बिना पानी के पाचन संभव नहीं हैं | भोजन में से पोषक तत्व को अवशोषित करने के लिए पानी कि पर्याप्त मात्रा अधिक होनी जरूरी होती हैं और यदि हमारे अंदर पानी की कमी हो जाती है, तो इससे उल्टी और दस्त जैसी समस्या होनी शुरू हो जाती है | इसलिए सामान्यतः किसी स्वस्थ मनुष्य को प्रति दिन पुरुषों को  4 से 5 लीटर पानी पीना आवश्यक होता और महिलाओं को  3 से 4 लीटर पानी पीना चाहिए |  

 पुदीना की चाय पिए 

पुदीना एक सांस फ्रेशनर होता है | इसके साथ ही यह हमारे शरीर के लिए भी बहुत अधिक फायदेमंद साबित होता हैं यह एक एंटीस्पाज्मोडिक (Antispasmodic) हैं | इसलिए पाचन शक्ति बढाने के लिए पुदीना आयुर्वेदिक दवा की तरह काम करता हैं इसका अधिकतर इस्तेमाल उल्टी और दस्त रोकने के लिए किया जाता हैं,  पुदीना पेट में बनने वाली गैस के लिए एक बहुत ही अच्छा नुस्खा माना जाता हैं। पुदीना कि कैंडी को चूसने से दर्द कम हो जाता हैं, इसके लिए आप को चाहिए पुदीना की  ताजी पत्ती 1 से 2 चम्मच और 2 कप पानी और शहद। उसके बाद पुदीना पत्ती को पानी में डाल के उसे उबाल लें और जब थोडा ठंडा हो जाये तो उसमे शहद मिलाकर प्रति दिन 1 से 2 बार पीना शुरू कर दें |  कुछ इदिन बाद आप को इससे लाभ दिखाई देने लगेगा |

महामारी अधिनियम (एपिडेमिक एक्ट) क्या है

नींबू पानी का सेवन करे

नीबू पानी पाचन के लिए बहुत लाभदायक माना जाता हैं, नींबू की क्षारीय प्रकृति के कारण यह पेट कि अम्लीयता को खत्म कर देता हैं और यह पाचन शक्ति को भी बढ़ाने में मदद करता है । नीबू  विटामिन c का अच्छा स्त्रोत हैं नीबू के एक चम्मच रस को एक गिलास गर्म पानी में मिला के खाना खाने के पहले पीना हैं, कुछ दिन तक रोज इसका सेवन करने से आप के पाचन शक्ति में  आपको स्वयं ही लाभ दिखाई देने लगेगा लेकिन आप इसे पीने के बाद साधारण पानी से कुल्ला कर ले, ताकि इससे आपके दांतो को कोई हानि न पहुंचे।

कद्दू का सेवन करे 

कद्दू एक ऐसी सब्जी होती है, जिसमें बहुत अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता हैं तथा इसमे स्टार्च और चीनी कि बहुत कम मात्रा में पायी जाती हैं जो कि फाइबर कि अधिकता के कारण यह पाचन क्रिया में मददगार साबित होता हैं और डाइरिया और कब्ज जैसी समस्या को दूर भगाता हैं। कद्दू का सेवन के लिए कद्दू को पहले छोटे छोटे टुकड़ो में काट लें और उनको पकायें और इनका सेवन करे इसके साथ आप किसी सूप को भी ले सकते हैं जो आपको अच्छा लगे, पाचन शक्ति कमजोर होने पर इसका सेवन आप  एक से दो हफ्ते तक रोज करें |

जीरा का सेवन करें 

जीरा एक बहुत ही गुण कारी बीज होती हैं, इसका उपयोग हम पारंपरिक चिकित्सा के रूप में बहुत पहले से करते चले आ रहे हैं जीरा हमारे पाचन में बहुत लाभदायक साबित होता हैं जीरा अपचन और पेट में बनने वाली गैस को खत्म कर देता हैं तथा पेट में आंत की सूजन को कम करता हैं | इसलिए इसे आप जिस व्यक्ति को पाचन कि समस्या हैं उसे एक से दो चम्मच जीरा पाउडर का सेवन भोजन में करा दें या चाय के रुप में भी आप इसे दे सकते है |

हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन क्या है

यहाँ पर हमने आपको पाचन शक्ति मजबूत करने के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करे और अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही निवारण किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

प्लाज्मा चिकित्सा क्या है |