Pink Auto Scheme



इन दिनों कोरोना जैसी महामारी के चलते पूरे देश के लोग बेहद परेशान घूम रहें है, क्योंकि कोरोना एक बहुत ही खतरनाक वायरस है, जिसके चलते भारत के साथ-साथ अन्य देशों में भी लॉकडाउन कर दिया है, जिसकी वजह से देश में अधिकतर लोगों के धंधे भी बंद हो गए है, जिससे लोगों के साथ-साथ महिलाओं को भी कई ससम्याओं का समाना करना पड़ रहा है | वहीं अब महिलाओं की समस्याओं का समाधान करने के लिए पिंक ऑटो योजना की शुरुआत की गई है |



यह एक ऐसी योजना है, जिसके तहत अब महिलाएं ऑटो चलाकर पैसों की कमाई कर सकती है, लेकिन इस योजना में शामिल होने के लिए महिलाओं को इसके लिए आवेदन करना होता है | इसलिए यदि आपको पिंक ऑटो योजना के विषय में अधिक जानकारी नहीं प्राप्त है और आप इसके विषय में जानना चाहते है, तो यहाँ पर आपको  Pink Auto Scheme | पिंक ऑटो योजना क्या है – पात्रता, लाभ व ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | इसकी पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है | 

प्रवासी मजदूर क्या है

पिंक ऑटो योजना क्या है ?

अब तक पिंक ऑटो योजना में 10 महिलायें आवेदन कर चुकी हैं। इस योजना के तहत आवेदन करने वाली ये महिलाएं ऑटो चलाकर अपनी आजीविका कमाएंगी। पिंक ऑटो योजना की आवेदन प्रक्रिया सोमवार 20 जुलाई से प्रारंभ कर दी गयी है।  इसके लिए आवेदन पत्र दीनदयाल सर्किल स्थित नगर निगम कार्यालय (उत्तर) के प्रथम तल पर दीनदयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन अनुभाग में निशुल्क उपलब्ध कराया गया है | 



पब्लिक वितरण प्रणाली क्या है

पिंक ऑटो योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 

कोरोना की वजह से शहर के कुछ हिस्सों में पूरी तरह से कर्फ्यू लगा दिया गया है, जिसकी वजह से शहर की हर महिला तक आवेदन पत्र की सुविधा नहीं पहुंच पा रही है इसलिए इसके लिए ऑनलाइन आवेदन की सुविधा भी महिलाओं को उपलब्ध कराई गई है, जिसके लिए वो अब घर बैठे ही आवेदन कर सकते है | आवेदन करने की प्रकिया इस प्रकार है – 

इस योजना में शामिल होने के लिए महिलाये पत्र नगर निगम की वेबसाइट www.bikanermc.org पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है । अभी तक इस योजना में 10 महिलाएं शामिल हो चुकी है | डे-एनयुएलएम् योजना की जिला प्रबंधक नीलू भाटी ने महिलाओं को योजना की जानकारी प्रदान की है |

उत्तर प्रदेश ई पास (UP ePass) क्या है

पिंक ऑटो योजना की पात्रता 

  • इस योजना के लिए पुरुष आवेदन नहीं कर सकते है |
  • इस योजना में केवल महिलायें ही शामिल हो सकती है |
  • पिंक ऑटो योजना में वही महिलायें भाग ले सकती हैं, जिन्हे अच्छे से ऑटो चलानी आती हो |

नीलू भाटी ने दी जानकारी

डे-एनयुएलएम् योजना की जिला प्रबंधक नीलू भाटी ने जानकारी दी है कि, पिछले दिनों में काफी महिलाओं द्वारा योजना के बारे में पूछताछ की गयी है। कई अभिभावकों एवं स्कूल कॉलेजों के प्रिंसीपल ने भी दूरभाष पर बात कर योजना की सराहना करते हुए कहा कि पिंक ऑटो चलने से  अभिभावकों में अपनी बच्चियों को स्कूल कॉलेज भेजते समय होने वाली असुरक्षा की भावना से निजात मिलेगी। इसी के साथ  नीलू भाटी ने बताया कि, “योजना के मुताबिक, महिलाओं को निशुल्क ऑटो ड्राइविंग का प्रशिक्षण देकर डे-एनयुएलएम् योजना के तहत ऋण उपलब्ध करवाकर पिंक ऑटो दिलवाए जायेंगे।”  योजना सिर्फ महिलाओं के लिए है।

सोशल डिस्टेंस (Social distancing) का क्या मतलब है

पिंक ऑटो योजना से लाभ 

  • इस योजना के तहत ऑटो चलाने वाली महिलाओं को पैसों को लेकर इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा |
  • पिंक ऑटो योजना की शुरुआत होने से स्कूल के बच्चों के माता-पिता को बेहद राहत मिलेगी, क्योंकि उनके बच्चे अब महिलाओं द्वारा चलाई जाने वाली ऑटो से सही सलामत स्कूल पहुंच जाएंगे | 
  • महिलाओं भी इस योजना में शामिल होकर एक अच्छी नौकरी कर सकती है |

मप्र ऑनलाइन ट्रांजिट ई-पास पोर्टल

यहाँ पर हमने आपको पिंक ऑटो योजना के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | इस प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप https://hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | अगर आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है |

लॉक डाउन क्या होता है