गणतंत्र दिवस पर भाषण हिंदी में



भारत के इतिहास में 26 जनवरी का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि 26 जनवरी 1950 को देश में संविधान लागू किया गया था और इस दिन को गणतंत्र दिवस (Republic Day) के रूप में घोषित किया गया था। संविधान में नागरिकों के लिए मौलिक अधिकार बनाए गए थे और देश को चलाने के लिए अन्य नियम कानून भी बनाए गए थे। इस साल 2024 में हम 75 वां गणतंत्र दिवस सेलिब्रेट करने जा रहे हैं। हर साल स्कूल, कॉलेज, ऑफिस, बैंकों में 26 जनवरी के दिन गणतंत्र दिवस को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। इस अवसर पर लोग अपने विचार भाषण के रूप में व्यक्त करते हैं।



यदि आपके स्कूल, कॉलेज, ऑफिस में भी गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया जाता है और आपको गणतंत्र दिवस पर भाषण (Speech on Republic Day in Hindi) देना है, तो आप बिल्कुल सही लेख पढ़ रहे हैं। क्योंकि हमारे इस लेख से आपको Republic Day Essay in Hindi  लिखने में सहायता होगी। साथ ही आपको इस लेख में 26 जनवरी पर भाषण भी मिल जाएगा। जिसे पढ़ कर आप आसानी से गणतंत्र दिवस पर भाषण दे सकेंगे।

गणतंत्र दिवस के सुविचार

Republic Day Speech in Hindi: गणतंत्र दिवस भाषण 2024

सभी आदरणीय मुख्य अतिथि, मेरे प्रिय प्रधानाचार्य, गुरु जनों और दोस्तों को इस महान पर्व गणतंत्र दिवस की बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं।



जैसे की यहां पर बैठे सभी लोग जानते हैं कि आज के दिन हम 75वां गणतंत्र दिवस मनाने के लिए इकट्ठा हुए हैं। तो ऐसे में मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है कि मैं गणतंत्र दिवस पर अपने विचार आप सबके सामने रख रहा हूं। हम हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। क्योंकि 26 जनवरी 1950 को 10 बजकर 18 मिनट पर भारतीय संविधान लागू किया गया था तब से लेकर आज तक सभी भारतीय हर साल 26 जनवरी के दिन गणतंत्र दिवस (Republic Day) बड़ी उत्साह से मानते हैं। हालांकि भारत को महान महापुरुषों और स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान के बाद अंग्रेजों की गुलामी से 15 अगस्त 1947 को आजादी मिल गई थी। परंतु कोई राष्ट्रीय संविधान नहीं था। बहुत विचार विमर्श के बाद बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया। इस समिति का काम भारतीय संविधान का मसौदा तैयार करना था। बाबा साहेब अंबेडकर की समिति में जो संविधान का निर्माण हुआ उसे संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को स्वीकार किया गया और 26 जनवरी 1950 को पूरे भारतवर्ष में इसे लागू कर दिया गया।

अब मैं आप सभी को भारतीय संविधान से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें बहुत ही कम शब्दों में बता रहा हूं। ‌क्योंकि मैं जो जानकारी आप सभी को बताने जा रहा हूं वह हर भारतीय को जाननी बहुत जरूरी है। वर्तमान समय में संविधान में 395 अनुच्छेद, 22 भाग, 12 अनुसूचियां हैं। पहले इसमें आठ अनुसूचियां थी‌ और बाद में कुछ विषय जोड़कर अनुसूचियां को 12 कर दिया गया। 2021 तक संविधान में कुल 127 संशोधन हो चुके हैं। भारतीय संविधान में लगभग 150000 शब्द है। जिस वजह से भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। हमारे भारतीय संविधान में जहां व्यक्तियों के लिए मूलभूत अधिकार निर्धारित किए गए वहीं कुछ कर्तव्य भी बताए गए हैं। जिनका पालन करना हमारे लिए अत्यधिक आवश्यक है।

मैं अपने भाषण के अंत में यह कहना चाहता हूं कि भारत एक  प्रजातांत्रिक देश है। यहां हर धर्म- जाति के लोग मिलकर जुलकर रहते हैं। इसी तरह हम मिल जुलकर रहते रहे और अपने देश को बेहतर बनाने के लिए काम करते रहे। मेरी तरफ से आप सभी को मेरा धन्यवाद। क्योंकि आप सभी ने मुझे अपने विचार व्यक्त करने का मौका प्रदान किया।

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के बारे में जानकारी

गणतंत्र दिवस पर भाषण कैसे लिखें

हर भारतीय के लिए गणतंत्र दिवस पर भाषण लिखना और देना एक सम्मान की बात है। यदि आप भी Republic Day पर भाषण दे रहे हैं तो आप नीचे दिए गए कुछ पॉइंट्स को जरूर पढ़ ले। क्योंकि इनकी सहायता से आप एक प्रभावशाली भाषण लिखकर दर्शकों के सामने दे सकते हैं।

1. एक प्रभावशाली उद्घाटन के साथ भाषण शुरू करें – जब भी आप अपना भाषण शुरू करें तो एक शक्तिशाली और विचारोत्तेजक भाषण के साथ अपने दर्शकों का ध्यान केंद्रित करें। ताकि दर्शक आपका आगे का भाषण सुनने के लिए उत्सुक व भावुक हो सके।

2. ऐतिहासिक संदर्भ को भाषण में जोड़ें दर्शकों को 26 जनवरी के दिन के महत्व को अच्छे से समझने के लिए इस दिन की ऐतिहासिक बातों को भाषण में जरूर जोड़ें।

3. स्वतंत्रता सेनानियों, महापुरुषों को भाषण में ‌ याद करें – जितने भी स्वतंत्रता सेनानियों, महापुरुषों ने आजादी के लिए बलिदान दिया है उन सभी को अपने भाषण में याद करें और श्रद्धांजलि जरूर दें।

4.गणतंत्र दिवस के मूल्यों पर प्रकाश डालें– भारतीय संविधान, स्वतंत्रता, समानता और एकता के बारे में भाषण में जरूर बोलें।

5. अपना व्यक्तिगत दृष्टिकोण व्यक्त करें – गणतंत्र दिवस के भाषण को बोलते समय आप दर्शकों के साथ अपने व्यक्तिगत भावनाओं और दृष्टिकोण को जरूर साझा करें। इसके अलावा गणतंत्र दिवस (Republic Day) से आप क्या सीखते हैं उसके बारे में भी अपने विचार दर्शकों के साथ साझा करें।

6. देशभक्ति कविता/शायरी के साथ भाषण को समाप्त करें- भाषण को समाप्त करते समय आप देशभक्ति कविता या शायरी बोले। इससे आपका भाषण ज्यादा आकर्षित लगेगा।

गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है

Leave a Comment