एसडीएम (SDM) कैसे बने?



कई युवा सरकारी नौकरी करना चाहते है और उसमे ही अपना भविष्य बनाना चाहते है, लेकिन जानकारी के आभाव में वह सफल नहीं हो पाते है | आज का समय प्रतिस्पर्धा का युग है इससे सरकारी नौकरी प्राप्त करना कठिन कार्य हो गया है | लेकिन आज हम राज्य स्तर के अधिकारी के रूप में एसडीएम रैंक के विषय में बात करेगे | यदि आपको लगता है कि आईएएस परीक्षा आपके लिए बेहद ही मुश्किल है तो राज्य सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से SDM अधिकारी बनने के लिए प्रयास कर सकते है |

इस लेख के माध्यम से आपको एसडीएम क्या होता है ? SDM का फुल फॉर्म व SDM बनने के लिए क्या प्रक्रिया है | साथ में आपको SDM को मिलने वाला वेतन, परीक्षा की तैयारी के विषय में भी विस्तृत रूप से चर्चा की जायेगी | कृपया एसडीएम से सम्बंधित लेख को पूरा पढ़े व अपना कीमती सुझाव आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से दे सकते है |

img-1



 

SDM क्या होता है ?

Table of Contents



एसडीएम को उपजिलाधिकारी भी कहते है | यह जिले स्तर का डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट के बाद, सबसे बड़ा अधिकारी होता है जो जिलाधिकारी के निर्देश पर भी कार्य करता है | SDM, जिलाधिकारी के सभी कार्यो में सहभागी होता है व विकास व अन्य कार्यो में समान रूप से प्रतिभाग करता है | SDM अपने तहसील के अंतर्गत सभी तहसीलदारों को निर्देश देता है | इसके अलावा जिले में लाइसेंस, विवाह रजिस्ट्रेशन, अन्य प्रकार के सेवा पंजीकरण के कार्य भी SDM के दवा किए जाते है |

तहसीलदार कैसे बने ?

एसडीएम का फुल फॉर्म क्या है ?

एसडीएम का फुल फॉर्म “Sub Divisional Magistrate” है, एसडीएम का पद एक बड़ा पद है, इसलिए इसे कई विशेष शक्तियां दी गयी है |

SDM Kaise Bane?

SDM बनने के लिए आपको भारत की किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से (रेगुलर या डिस्टेंस एजुकेशन) ग्रेजुएट डिग्री धारी होना चाहिए | यदि आप SDM ऑफिसर बनकर अपने जिले या देश का नाम रोशन करना चाहते है तो आपको राज्य सिविल सेवा परीक्षा में सफलता प्राप्त करनी होगी | SDM अधिकारी बनने के लिए आपको दी गयी शर्तो को पूरा करना होगा जिसमे आपकी शैक्षणिक योग्यता, जाति वर्ग के अनुसार आयु सीमा नवीन विज्ञापन के अनुसार होनी चाहिए | साल में एक राज्य सिविल परीक्षा ली जाती है जिसमे लिखित व इंटरव्यू परीक्षा के माध्यम से अभियार्थी का चयन मेरिट लिस्ट के आधार पर किया जाता है |

शैक्षणिक योग्यता

यदि आप एसडीएम बनने बनने के इच्छुक है, तो आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक हैं |

आयु सीमा

जिला कलेक्टर कैसे बने ?

चयन प्रक्रिया (Selection Process)

इसकी परीक्षा को तीन चरणों में पूरा किया जाता है-

  • प्रारम्भिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार

प्रारंभिक परीक्षा पैटर्न (Preliminary Exam Pattern)

प्रारंभिक परीक्षा पैटर्न इस प्रकार है-

प्रश्न पत्र अंक
सामान्य ज्ञान-1 200
सामान्य ज्ञान- 2 200

पीसीएस (PCS) अधिकारी कैसे बने

मुख्य परीक्षा पैटर्न (Main Exam Pattern)

मुख्य परीक्षा पैटर्न इस प्रकार है-

प्रश्नपत्र अंक
हिंदी 150 अंक
निबंध 150 अंक
सामान्य अध्ययन 1 200 अंक
सामान्य अध्ययन 2 200 अंक
सामान्य अध्ययन 3 200 अंक
सामान्य अध्ययन 4 200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 1 200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 2 200 अंक

साक्षात्कार (Interview)

साक्षात्कार में अभ्यर्थी की योग्यता का आकलन किया जाता है | यदि आप साक्षात्कार में अच्छा प्रदर्शन करते है, तो आपका चयन एसडीएम के पद पर कर दिया जाता है |

SDM का वेतन (Salary)

एसडीएम का वेतन ग्रेड पे के अनुसार न्यूनतम वेतन 53,000 रूपए व 67,700 रूपए तथा अधिकतम 1 लाख रूपए से भी अधिक रहता है | अधिक जानकारी के लिए आप राज्य अनुसार राज्य सिविल सेवा परीक्षा का विज्ञापन के जरिये SDM को दिया जाने वाला वेतन की गणना कर सकते है |

जीवन में सफलता कैसे प्राप्त करे ?

यहाँ पर आपको एसडीएम का फुल फॉर्म क्या है, एसडीएम (SDM) कैसे बने, वेतन, योग्यता के विषय में जानकारी दी गयी है | इस प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप https://hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | अगर आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है |

एसडीएम के लिए कौन सी पढ़ाई करें?

यूपीएससी व राज्य सिविल सेवा के माध्यम से आप एसडीएम पद प्राप्त कर सकते है |

एसडीएम की सैलरी कितनी होती है?

एसडीएम को पे बैंड 9300-34800 में ग्रेड पे 5400 के अनुसार सैलरी मिलती है |

डीएम और एसडीएम में क्या अंतर होता है?

DM, SDM से बड़ा पद होता है जिसके अंतर्गत पूरा जिले का कार्यभार होता है तो वही एसडीएम एक खंड का ही प्रभार देखता है |

एसडीएम को क्या बोला जाता है?

SDM का फुल फॉर्म SUB-DIVISIONAL MAGISTRATE होता है