वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर कैसे बने

वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर एक आम फोटोग्राफर नहीं कहा जाता है, क्योंकि वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर वहीं अभ्यर्थी बन सकता है, जिसे Nature और जानवरों से प्यार हैं क्योंकि वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी में अपना करियर बनाकर इसमें फोटोग्राफी करने के लिए  एक फोटोग्राफर को  घने जंगलों के बीच जाकर खूंखार जानवरों को अपने कैमरे में कैद  करने का काम करना होता है | इसलिए इस फील्ड में अपना करियर बनाने के लिए व्यक्ति के अंदर फोटोग्राफी करने के साथ हिम्मत भी होनी चाहिए, जिससे वह हर तरह की और हर जगह की फोटो अपने कैमरे में कैप्चर कर सके | यदि आप भी वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बनना चाहते है, तो यहाँ पर आपको वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर कैसे बने,  Wildlife photography कोर्स, फ़ीस और करियर की पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |



Wildlife Photography क्या होती है ?

जैसा कि नाम से ज्ञात हो रहा है यह फोटोग्राफी वाइल्ड लाइफ से सम्बंधित है | इस प्रकार की फोटोग्राफी में फोटोग्राफर प्राकृतिक दृश्यों सहित कुदरत में पाए जाने वाले विभिन्न वन्य जीव व जन्तुओ की बेहद ही ख़ास शैली में अपने कैमरे में पिरोता है | यह कार्य बेहद लुभावना दिख सकता है लेकिन यह उतना ही झोकिम भरा भी है | वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर का फोकस और गतिशीलता बेहद ही तेज़ व तरार होती है क्योंकि एक दृश्य लेने के लिए कई प्रकार के पोज़ फोटोग्राफर द्वारा लिए जाते है |

जैसे भागते हुए पशु या उड़ते हुए पक्षियों के लिए बेहद ही सचेत रहना पड़ता है थोड़ी सी हिलन डुलन से फ़ोटो में किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना कर पड़ सकता है | फिर भी यदि आप फोटोग्राफी में रुचि रखते है और वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बनने के लिए मेहनत करने के लिए तैयार है कृपया लेख को पूरा पढ़े और हमे उमींद है वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर से जुड़े आपके तमाम सवाल के जवाब लेख द्वारा दिए जायेगे |




अच्छा फोटोग्राफर कैसे बने ?

Wildlife Photographer कैसे बने ?  (How to become a wildlife photographer in Hindi)

एक सफल वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बनने के लिए आपको बेसिक फोटोग्राफी करने की पूरी जानकारी होनी आवश्यक है, क्योंकि जब तक आपको बेसिक फोटोग्राफी करनी नहीं आएगी तब तक आप किसी भी जंगल में जाकर अच्छे से फोटोग्राफी नहीं कर सकते है | इसके साथ ही यदि आपको इस फील्ड में अपना करियर बनाना है तो आप एक साधारण डिजिटल कैमरा लेकर  इस फील्ड में आगे बढ़ सकते है क्योंकि यदि आप पहले एक साधारण डिजिटल कैमरा लेकर फोटोग्राफी करेंगे तो इससे आपको एक-दो साल का एक्सपीरियंस हो जाएगा और फिर आप डिजिटल एसएलआर (DSLR) खरीद कर प्रोफेशनली इस फील्ड में अपना कदम रख सकते हैं | फोटोग्राफी करना कोई आसान काम नहीं होता है क्यूँकि यह भी एक प्रकार की कला होती है जिसमें विजुअल कमांड के साथ-साथ टेक्निकल नॉलेज भी  बेहद  आवश्यक होता है|

इसके अलावा इस फील्ड में काम करने वाले व्यक्ति के अंदर  साहस और धैर्य  होना चाहिए, क्योंकि इस फील्ड में कदम रखने के बाद व्यक्ति को  कई बार भयानक जंगल में रात में भी फोटोग्राफी करने के लिए जाना पड़ता  है | इसलिए ऐसे स्थानों पर फोटोग्राफी करने के लिए व्यक्ति को  साहस और धैर्य रखना होता है |  इसके साथ ही वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर को फोटो कैप्चर करने के लिए सही एंगल का चुनाव करना आता हो | जब तक एक फोटोग्राफर अपने कैमरे पशु, पक्षी और जानवरों की अच्छे से फोटो कैप्चर नहीं कर लेते तब तक वह एक सफल वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर नहीं बन सकते है |

योग्यता

वैसे तो वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बनने के लिए कोई ख़ास योग्यता नहीं है क्योंकि यह एक टैलेंट और कला का विषय है जिसकी पुष्टि किसी डिग्री या सर्टिफिकेट के माध्यम से नहीं की जा सकती लेकिन फिर भी अभ्यर्थी इससे सम्बंधित अतिरिक्त कोर्स कर सकते है जिसके लिए 12वीं या ग्रेजुएशन  करने के बाद ही कोर्स कर सकते है |

वाइल्ड फोटोग्राफी के लिए संस्थान की सूची

फोटोग्राफी का कोर्स भारत में सरकारी और निजी स्तर पर कई संस्थान में कराये जाते है | यदि आपको कैमरे से सम्बंधित बेसिक नॉलेज है तो आपको कोर्स समझने में पहले से ही आसानी रहेगी | यदि आप किसी फोटोग्राफी कोर्स के संस्थान में प्रवेश ले रहे है तो कृपया पहले स्वयं जाकर पूरी जानकारी प्राप्त करे और वहां कोर्स कर रहे कुछ छात्रों से भी मिले, इससे आपको संस्थान की शिक्षा का स्तर मालूम हो जाएगा |

  1. जामिया मिलिया इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर, नई दिल्ली.
  2. फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टीट्यूट (एफटीआई) पुणे.
  3. एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविज़न, दिल्ली.
  4. जे.जे. स्कूल ऑफ अप्लाइड आर्ट, मुंबई.
  5. सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई.
  6. फरग्युसन कॉलेज, पुणे.

आपको एक सलाह जरूर दी जायेगी कि आप किसी छोटे संस्थान से फोटोग्राफी का कोर्स ना करे, आपको वहां से ना तो कुछ मिलेगा और आपका पैसा भी ख़राब होगा | आपको अच्छे संस्थान के लिए दिल्ली, पुणे व बंगलुरु जैसे शहरों में रिसर्च करना चाहिए, यहाँ आपको गुणवत्ता वाले संस्थान मिलने की ज्यादा सम्भावना है |

हैकर बनने के लिए कोर्स, फ़ीस, योग्यता

फोटोग्राफर बनने के लिए कोर्स 

वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बनने के लिए आप 12वीं  पास कर लेने के बाद बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स का कोर्स करके डिग्री ले सकते है लेकिन इस कोर्स को करने के लिए आपको तीन साल का समय  देना होता है, जिसमें आपको फोटॉग्राफी करने के  अलावा आपकी अच्छी राइटिंग पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा  कि, आपकी राइटिंग कैसी है और एक फोटोग्राफर की  लिखावट कैसी होनी आवश्यक है |  इसके साथ ही इस कोर्स में प्रवेश लेने के लिए अभ्यर्थी को 12th  में  50% अंक प्राप्त करने  जरूरी होते है |

डिप्लोमा कोर्स 

अभ्यर्थी 12वीं के बाद इस फील्ड में जाने के लिए  डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते है | यह डिप्लोमा लेने के लिए  अभ्यर्थी को 1 साल का  समय देना होता है  | एक साल तक पढ़ाई पूरी कर लेने के बाद  अभ्यर्थियों को कोर्स करने का डिप्लोमा दे दिया जाता है | अभ्यर्थी यह डिप्लोमा लेने के बाद एक वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर के अप्लाई कर सकते है |

सर्टिफिकेट कोर्स

यदि अभ्यर्थी इस फील्ड में कदम रखने के लिए सर्टिफिकेट कोर्स करते हैं, तो उन्हें इस कोर्स को करने के लिए बहुत समय देना होता है क्योंकि, यह कोर्स केवल 3 से 6 महीना का ही कराया जाता है, लेकिन इस कोर्स को करने में वही अभ्यर्थी सफल हो पाते जो पूरे मन से  इसमें बताई गई चीजों पर ध्यान केंद्रित रखते है यदि अभ्यर्थी इस कोर्स में सफलता प्राप्त कर लेते हैं, तो वो एक सफल वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बन सकते है | यह कोर्स भी अभ्यर्थी 12th पास करने के बाद कर सकते है  |

इसके अलावा फोटोग्राफर कोर्सेस में अभ्यर्थियों को Shutter speed, ISO, Zooming, Aperture Depth field, Sensor, Camera Lens, Focus जैसे टेक्निकल विषय में भी पूरी जानकारी दी जाती है |

ऑप्टिकल ज़ूम और डिजिटल ज़ूम क्या है ?

वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर में कैसे बनाये करियर ?

  • वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर का करियर बेहद ही शानदार है व भविष्य के लिहाज से इसमें काफी ग्रोथ भी है | यदि आप एक बार वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बनने का अनुभव ले लेते है तो आपको अनुभव के आधार पर एमएनसी कंपनियो में अच्छी नौकरी भी मिल जाती है | आपको डिस्कवरी, प्लेनेट, सोनी व नेट जिओ जैसे चैनलों पर भी कार्य करने का मौका मिल सकता है |
  • इसका आधार सिर्फ आपका अनुभव व फोटोग्राफी स्किल ही है | यदि आप अपने पोर्टफोलियो से कंपनी को लुभा सकते है तो आपके लिए भविष्य में बेहद ही आकर्षक मौके मिल सकते है | इसके साथ ही यदि आप नौकरी नहीं करना चाहता है और सिर्फ अपनी स्किल के माध्यम से freelancer फोटोग्राफर बनकर अपना समय और क्रिएटिव विषयों में लगाना चाहते है तो आप अपने द्वारा शूट की गयी तस्वीरो को ऑनलाइन सेल भी कर सकते है | इसके लिए आपके पास शटरस्टॉक जैसी ढेर सारी साइटें है जहाँ आप अपनी कला को सेल कर सकते है |
  • यदि आप अपना खुद का वाइल्डलाइफ इंस्टिट्यूट भी खोलना चाहते है तो आप अपना अनुभव शेयर कर एक बड़ी फोटोग्राफी अकादमी बना सकते है | इसके साथ ही आप अपने Colleague को साथ जोड़कर एक टीम के रूप में भी कार्य कर सकते है |
  • इसके अलग आप किसी कंपनी के लिए कमर्शियल फ़ोटोशूट भी कर सकते है जिसके लिए आपको अच्छा कंपनसेशन भी दिया जायेगा |

वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर की सैलरी कितनी होती है ? 

यदि आप एक अच्छे वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर के रूप में स्वयं को ढाल चुके है तो आपको सैलरी के विषय में चिंता करने की बिलकुल भी जरुरत नहीं है | अच्छी फोटोग्राफी के जरिये आप किसी भी कंपनी में नौकरी पा सकते है और वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर की सैलरी 30 हज़ार से 5 लाख प्रतिमाह तक हो सकती है | यदि आप एक अच्छे वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर है तो बिना नौकरी के भी अच्छी इनकम बना सकते है जिसके बारे में ऊपर विस्तार पूर्वक बताया गया है |

Interior Designer कैसे बने ?

यहाँ पर हमने आपको वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर बनने के विषय में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूंछ सकते है | इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |