धारा 144 का मतलब क्या होता है

देश में क़ानून व्यवस्था में शान्ति बनाये रखने के लिए धारा 144 का इस्तेमाल किया जाता है | आप अक्सर सुनते होंगे कि, शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए धारा 144 लागू कर दी गई क्योंकि, धारा 144 शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए ही लागू की जाती है | इसके बाद जहाँ पर इस इस धारा को लागू किया जाता है, वहां के लोगों को कुछ नियमो का पालन करना होता है इसका उल्लंघन करने पर उसे कानूनी कार्यवाही से गुजरना पड़ता है | यदि आप भी धारा 144  के बारे में जानना चाहते है, तो यहाँ पर आपको धारा 144 का मतलब क्या होता है, सीआरपीसी की धारा 144 के नियम, कब लागू होता है | इसकी पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े: ठेकेदार (CONTRACTOR) कैसे बने

धारा 144 सीआरपीसी के तहत

धारा 144 सीआरपीसी के तहत आने वाली एक धारा होती है।  जिसका पूरा नाम ‘दंड प्रक्रिया संहिता’ है। दण्ड प्रक्रिया संहिता (Code of Criminal Procedure) कानून सन् 1973 में पारित किया गया था और इसके बाद इसे 1 अप्रैल 1974 को लागू  कर दिया गया था | किसी भी अपराध के घटित हो जाने पर पुलिस द्वारा दो प्रकार की प्रक्रियाएं की जाती है | पहली प्रक्रिया  पीड़ित के सम्बन्ध में और दूसरी प्रक्रिया आरोपी के सम्बन्ध में की जाती  है और जिनका पूरा  ब्यौरा सीआरपीसी में दिया गया है।

ये भी पढ़े: प्रॉपर्टी डीलर (PROPERTY DEALER) कैसे बने

धारा 144 का मतलब  

हमारे देश में सीआरपीसी के तहत आने वाली धारा 144 देश में हर जगह शांति व्यवस्था को बनाये रखने के लिए  लागू कर दी जाती है। यह धरा विशेष परिस्थितियों  लागू होती है जैसे-  दंगा, लूटपाट, आगजनी, हिंसा, मारपीट को रोककर, फिर से शान्ति  व्यवस्था लाने के लिए इस धारा को लागो कर दिया जाता है |

धारा 144 कब लागू होता है

यह धारा तभी लागू की जाती है जब इस धारा को लागू करने के लिए जिला मजिस्ट्रेट यानी जिलाधिकारी द्वारा एक नोटिफिकेशन जारी किया जाता है  और तब यह धारा उस  इलाके  में लागू कर दिया जाता  हैं जहां पर शान्ति व्यवस्था अस्त-वस्त हो चुकी होती है, या होने के चांस होते है | इसके साथ ही यह धारा लागू होने वाले इलाके चार या उससे ज्यादा लोग इकट्ठे नहीं हो सकते  हैं और  इस धारा  हो जाने के बाद उस स्थान पर हथियारों के लाने ले जाने  की भी इजाजत नहीं होती है |

ये भी पढ़े: फिल्म प्रोड्यूसर (FILM PRODUCER) कैसे बने

सीआरपीसी की धारा 144 के नियम 

  1. धारा-144 का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दी जाती है |
  2. जो व्यक्ति इस धारा का पालन नहीं करेगा उसे पुलिस किसी भी समय गिरफ्तार कर सकती है
  3. गिरफ़्तार होने वाले व्यक्ति की गिरफ्तारी धारा-107 या फिर धारा-151 के तहत की जा सकती है |
  4. इस धारा का उल्लंघन करने वाले या इस धार का पालन नहीं करने वाले आरोपी को एक साल कैद की सजा भी सुनाई जा सकती है |
  5. इसमें व्यक्ति जमानत भी करा सकता है |    

ये भी पढ़े: करोड़पति (CROREPATI) कैसे बने

यहाँ पर हमने आपको धारा 144 के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूंछ सकते है | इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |

ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री महिला शक्ति केंद्र योजना (PMMSY)

ये भी पढ़े: सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया क्या होता है?

ये भी पढ़े:  सिंगर (SINGER) कैसे बने

ये भी पढ़े:  बैंक कैशियर (BANK CASHIER) कैसे बने