हॉटस्पॉट का मतलब क्या है

कोरोना वायरस का खतरा पूरे विश्व समेत भारत में भी बढ़ चुका है, इस तरह कई राज्य अपने प्रदेश में संक्रमण को रोकने के लिए नए – नए तरीकों का प्रयोग कर रहे है | इसी तरह उत्तर प्रदेश सरकार ने भी एक कड़ा निर्णय लिया है | प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए 15 जिलों के हॉटस्पॉट को सील कर दिया है, जिनसे संक्रमण फैलने का खतरा सबसे ज्यादा है। प्रमुख सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये जानकारी दी कि लोगों को किसी भी तरह से घरों से बाहर निकलने से रोका जाएगा। यह फैसला अभी 15 अप्रैल तक के लिए ही लिया गया है। यदि आप भी हॉटस्पॉट का मतलब क्या है, कोरोना वायरस हॉटस्पॉट वाले इलाकों में नियम क्या है इसके बारे जानना चाहते है तो यहां पर इसके विषय में बताया जा रहा है |

उत्तर प्रदेश सप्लाई मित्र पोर्टल

कोरोना वायरस हॉटस्पॉट के बारे में

हॉटस्पॉट का मतलब उस स्थान से किया गया है, जहां पर सबसे अधिक कोरोना पॉजिविट मरीज पाए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद, आगरा, कानपुर, वाराणसी, शामली, लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर,  बुलंदशहर, फिरोजाबाद, बस्ती, सहारनपुर, मेरठ, सीतापुर, बरेली, और महाराजगंज ऐसे जिले हैं जहां पर मरीजों की संख्या सबसे अधिक है। इन जिलों के वो क्षेत्र पूरी तरह सील किये गए जहां पर सबसे  अधिक मरीज पाए जा रहे हैं। इन मोहल्लों को पूरी तरह से बंद किये जायेंगे। इन जिलों में बाकि दूसरे मोहल्ले खुले रखे जायेंगे। यदि आपके मोहल्ले में कोरोना के मरीज नहीं हैं तो आप परेशान न हो  क्योंकि ऐसे में आपके यहां जरूरी सामान की दुकानें बंद नहीं रहेंगी, आप वहां से अपनी जरूरत की सामान ले पाएंगे। 

पूरे देश में लॉकडाउन में जरूरी सामान से सम्बंधित दुकानें अभी भी खोल रखी गई है और लोग घर से बाहर अभी भी निकल रहे हैं। ऐसे में अब योगी सरकार ने निर्णय लिया है कि संवेदन शील जिलों के हॉटस्पॉट को पूरी तरह सील कर दिए है। हॉटस्पॉट वाले इलाकों से कोई भी बाहर नहीं निकल पाएगा । हॉटस्टाप वाले मोहल्ले में जिला प्रशासन द्वारा जरूरी सामान पहुंचाएगा।

महामारी अधिनियम (एपिडेमिक एक्ट) क्या है

कोरोना वायरस हॉटस्पॉट वाले इलाकों में नियम

  1. सील किए गए मोहल्लों में पूर्ण रूप से होम डिलीवरी होगी |
  2. स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी और डिलीवरी वाले कर्मचारी ही इन मोहल्लों में केवल जा पाएंगे।
  3. उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में हॉटस्पॉट के इलाकों को पूर्ण से सील किया गया हैं, इन इलाकों में पूरी सख्ती की जाएगी, यानी घर से नहीं निकल सकेंगे |
  4. हॉटस्पॉट वाले इलाकों को फायर सर्विस की गाड़ियां सेनेटाइज करेंगी।
  5. सील किए गए पूरे क्षेत्रों को बैरियर लगाए जाएंगे और मैजिस्ट्रेट के साथ पुलिस अधिकारी इन इलाकों की पूर्ण रूप से निगरानी रखेंगे।
  6. इन जिलों के नागरिकों को जारी किए गए पासों की फिर से समीक्षा की जाएगी और अनावश्यक पाए जाने पर उन्हें निरस्त कर दिया जाएगा।
  7. कोरोना प्रभावित क्षेत्रों यानी कि हॉटस्पॉट्स की सभी दुकानों, मंडियों बंद रखा जाएगा|

उत्तर प्रदेश ई पास (UP EPASS) क्या है

आपको कोरोना वायरस हॉटस्पॉट वाले इलाकों के विषय में जानकारी प्रदान की गई | यदि इससे रिलेटेड अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते है | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

TABLIGHI JAMAAT (तबलीग़ी जमात) क्या है