आईएमडी (IMD) या मौसम विभाग क्या है

आईएमडी (IMD) या मौसम विभाग एक मौसम से सम्बंधित जानकारी प्रदान करने वाली एक एजेंसी होती है | यह एक ऐसी एजेंसी है, जो प्रमुख रूप से भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अंतर्गत मौसम विज्ञान प्रक्षेण, मौसम पूर्वानुमान और भूकम्प विज्ञान का कार्यभार संभालने का काम करती है | आईएमडी (IMD) या मौसम विभाग का मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। इस विभाग के द्वारा ही भारत से लेकर अंटार्कटिका भर में सैकड़ों प्रक्षेण स्टेशन चलाये जाते हैं। वहीं वर्तमान समय में मौसम विभाग के महानिदेशक मृतुन्जय महापात्रा है, मौसम विभाग की स्थापना सर्वप्रथम 1844 में पुणे में में की गई थी और 1875 में नाम बदलकर मौसम सर्वेक्षण अनुसंधान रख दिया गया था | इसलिए यदि आपको आईएमडी के विषय में अधिक जानकारी नहीं प्राप्त है और आप इसके विषय में जानना चाहते है, तो यहाँ पर आपको  आईएमडी (IMD) या मौसम विभाग क्या है , फुल फॉर्म , कार्य व आईएमडी का मुख्यालय | इसकी विस्तृत जानकारी प्रदान की जा रही है | 

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना

आईएमडी (IMD) या मौसम विभाग का क्या मतलब होता है ? 

जब 1864 में चक्रवात आ जाने के कारण कलकत्ता में बहुत अधिक हानि पहुंचने और 1866 और 1871 के अकाल आ जाने के बाद, मौसम संबंधी विश्लेषण और संग्रह कार्य एक ढ़ांचे के अंतर्गत आयोजित करने का फैसला किया गया | इसके बाद बहुत जल्द 1875 में ही भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की स्थापना कर दी गई थी | स्थापना करने के बाद हेनरी फ्रांसिस ब्लैनफर्ड को विभाग के पहले मौसम विज्ञान संवाददाता के रूप में नियुक्त किया था। फिर वहीं, मई 1889 में, सर जॉन एलियट तत्कालीन राजधानी कलकत्ता में वेधशालाओं के पहले महानिदेशक के रूप में चुन लिए गए थे। पहले मौसम विज्ञान विभाग का मुख्यालय 1905 में शिमला स्थापित था , फिर 1928 में पुणे में स्थापित किया गया था और  अब वर्तमान समय में इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थानांतरित कर दिया गया है [2] भारतीय मौसम विज्ञान विभाग स्वतंत्रता के बाद 27 अप्रैल 1949 को विश्व मौसम विज्ञान संगठन का सदस्य बन गया |

आईएमडी (IMD) का फुल फॉर्म

आईएमडी (IMD) का फुल फॉर्म “Indian Meteorological Department of India” होता है | वहीं इसका हिंदी में उच्चारण “इंडियन  मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट ऑफ़ इण्डिया” होता है और इसे हिंदी भाषा में भारत मौसम विज्ञान विभाग कहा जाता है |

नीति आयोग तथा योजना आयोग

आईएमडी (IMD) के कार्य

  1. यह अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों के लिए उपयोगी होता है, क्योंकि यह जलवायु मॉनीटरिरग, संसूचन तथा चेतावनी सेवाएं प्रचलित करने का काम करता है | 
  2. इससे मानसून ऋतु के दौरान होने वाली भारी वर्षा की घटनाओं के सटीक पूर्वानुमान से देखा जा सकता है ।
  3. आईएमडी मुख्य रूप से भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अंतर्गत मौसम विज्ञान प्रक्षेण, मौसम पूर्वानुमान और भूकम्प विज्ञान का कार्यभार संभालती है |  

 देश में काम करने वाले अनुसंधान संस्थानों के नाम की सूची  

क्र.स. 

संस्थान

1.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी), नई दिल्ली 

2.

ईएसएसओ-भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान, पुणे

3.

 ईएसएसओ-राष्ट्रीय माध्यम अवधि मौसम पूर्वानुमान केंद्र (एनसीएमआरडब्ल्यूएफ), नोएडा

4.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन – अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र, अहमदाबाद

5.

वैज्ञानिक और  औद्योगिक  अनुसंधान परिषद् – चौथा पैराडिगम  ससंथान, बैंगलूरू

6.

भारतीय प्रौधोगिक संस्थान, भुवनेश्वर

7.

भारतीय प्रौधोगिक संस्थान, खड़गपुर

8.

भारतीय प्रौधोगिक संस्थान, गांधीनगर

9.

भारतीय प्रौधोगिक संस्थान, मुंबई

10.

भारतीय प्रौधोगिक संस्थान, नई दिल्ली  

11.

भारतीय प्रौधोगिक संस्थान, बैंगलूरू

12.

आंध्र विश्वविद्यालय

13.

कोचीन विश्वविद्यालय

14.

पुणे विश्वविद्यालय

15.

आपदा प्रशमन केंद्र, जैन विश्वविद्यालय, बैंगलोर

16.

प्रगत संगणन विकास केंद्र, पुणे

17.

स्काई मैट वैदर वाइज

एक देश एक कृषि बाजार योजना क्या है

यहाँ पर हमने आपको आईएमडी (IMD) या मौसम विभाग के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है |  यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट के माध्यम से अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही उत्तर दिया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

वित्त आयोग क्या है