कन्या श्री प्रकल्प योजना है

कन्या श्री प्रकल्प योजना बेटियों के लिए एक वरदान के रूप में कार्य रही है | सर्वप्रथम वर्ष 2013 में पश्चिम बंगाल में इस योजना की शुरूआत की गयी थी | यह योजना बेटियों के लिए अति महत्वकांक्षी योजना रही है जिसे पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी द्वारा लागू किया गया था | इस योजना को संयुक्त राष्ट्र संघ में वर्ष 2017 में  सम्मानित किया गया। इस योजना के तहत सरकार स्कूल की छात्राओं को स्कॉलरशिप के रूप में 25000 रूपये प्रदान किये जाते है। वर्ष 2017 तक इस योजना में 7,588.90 करोड़ रुपये की धनराशि प्रदान की जा चुकी है और इस योजना के ऊपर  7,237.28 करोड़ रुपये की धनराशि अभी तक इसपर खर्च की गयी । मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक, इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अब तक  57 लाख से भी अधिक लोगों ने इस पर रजिस्ट्रेशन कराया है | जिसमे 56 लाख से अधिक लोग इसका लाभ भी प्राप्त कर चुके है |  यदि आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है तो यहाँ पर इसके विषय में सम्पूर्ण जानकारी से अवगत करवाया जा रहा है | 

प्रधानमंत्री महिला शक्ति केंद्र योजना (PMMSY)

कन्या श्री प्रकल्प योजना के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट्स 

  1. आय प्रमाण पत्र (Income Certificate)
  2. निवास प्रमाण पत्र (Domicile Certificate)
  3. आयु प्रमाण पत्र (Birth Certificate)
  4. स्कूली दस्तावेज (Educational Documents)
  5. आधार कार्ड (Aadhar Card)
  6. बैंक खाता (Bank Account)

प्रधानमंत्री जन धन योजना (PMJDY) क्या है

कन्या श्री प्रकल्प योजना के लिए पात्रता

इस योजना के लिए पात्रता का निर्धारण इस प्रकार किया गया है :- 

  1. इस योजना का लाभ सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग को दिया जायेगा।
  2. परिवार की वार्षिक आय कम होने पर यानि कि गरीब परिवार की बेटियों को |
  3. इसके लिए आयु निर्धारण 13 से 18 वर्ष रखा गया है।
  4. केवल पढाई कर रही छात्राएं ही इसके लिए पात्र मानी जाएगी |
  5. राज्य का स्थाई नागरिक होना जरूरी होगा |
  6. वहां से सम्बन्धित सभी दस्तावेज होने पर ही इस योजना का लाभ ले सकेंगे |

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना क्या है

स्कालरशिप की राशि (25 हज़ार रूपये)

इस योजना के तहत राज्य की बेटियों को स्कॉलरशिप के रूप में एक हजार रुपये के साथ 25,000 रुपये की धनराशि प्रदान करने की योजना बनाई गई  हैं। इसे केवल 13 वर्ष  से 18 वर्ष तक की लड़कियों को ही दिया जायेगा | यह राज्य सरकार की सबसे उत्तम योजनाओं में से एक है | इससे राज्य की बेटियों के शिक्षा के स्तर में काफी सुधार देखने को मिला है | 

PM KISAN FPO YOJANA क्या है

कन्या श्री प्रकल्प योजना का उद्देश्य

कन्या श्री प्रकल्प योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं के अधिकारों की रक्षा होता है। वर्तमान समय में ज्यादातर अपराध महिलाओं से सम्बन्धित दिखाई पड़ते है जैसे- कोख में कन्या भ्रूण  हत्या, बाल तस्करी और स्कूल जाने वाली छात्राओं से सम्बन्धित अपराध की घटनाएँ समाने आयी है। इस योजना के जरिये इन सभी मामलों में काफी गिरावट देखने को मिली है | इस योजना का मकसद पश्चिम बंगाल सरकार की लड़कियों की स्थिति में सुधार करना और उनका कल्याण करना है। इस योजना के अंतर्गत यह भी ध्यान में रखा गया है कि 18 साल के पहले बेटियों का विवाह ना हो पाए। इसके द्वारा प्रदान की जाने वाली राशि से उन्हें आगे की पढाई करने में सहायता प्राप्त होगी, और शिक्षा को भी बढ़ावा मिलेगा |

नवीन रोजगार छतरी योजना

कन्या श्री प्रकल्प योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया :-

  • इस योजना के लिए आवेदन हेतु फॉर्म विद्यालय से ही प्राप्त हो जायेगा | 
  • इस फॉर्म के 3  पार्ट होते है, जिसमे आपसे सम्बन्धित पूरी जानकारी सही – सही भरनी होती है | 
  • इसके बाद आपको प्रधानाचार्य के पास या सम्बन्धित कार्यालय में जमा करना होगा । 
  • इसके पश्चात आपका फॉर्म कन्या श्री प्रकल्प योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाएगा।
  • इसके बाद आप अधिक जानकारी के लिए gov.in/ के पोर्टल पर जाकर विजिट कर सकते है |
  • यहाँ पर आपको आवेदन के स्टेटस की भी जानकारी मिल जाएगी |
  • इस तरह से आपकी आवेदन प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी |

गोधन न्याय योजना क्या है

यहाँ आपको कन्या श्री प्रकल्प योजना के विषय में जानकारी दी गई है |  यदि इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करके अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही उत्तर देने का प्रयास किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट कैसे देखे