प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना क्या है

भारत सरकार द्वारा संचालित प्रायोगिक योजना प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना” (पीएमएजीवाई) के तहत 50 प्रतिशत से जयादा अनुसूचित जाति की जनसंख्या वाले अनुसूचित जाति ज्यादती क्षेत्रों को मिलाकर एक साथ विकास के लिए कार्यान्वयन सुचार रूप से किया जा रहा है। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना को शुरुआत में केवल पांच राज्यों अर्थात असम, बिहार, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान एवं तमिलनाडु के एक हजार गांवों में परिक्षण के लिए चलाई गई थी । बाद में 22.01.2015 को इस योजना में सुधर करते हुए कई और राज्यों को इस योजना से जोड़ा गया, जैसे – असम, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, पंजाब, उत्तराखण्ड, ओडिशा, झारखण्ड, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, और हरियाणा के 1500 अनुसूचित जाति  बहुतायत क्षेत्रों में इसका विस्तारण हुआ |यदि आप भी pmagy.gov.in, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना (पीएमएजीवाई) क्या है, इसके विषय में जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो यहाँ पर इसके विषय में बताया जा रहा है |

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) क्या है

आदर्श ग्राम योजना का विजन क्या है

आदर्श गांव वह गांव होता है, जिस ग्राम सभा में पर्याप्त मात्रा में भौतिक और संस्थागत आधारिक संरचना होना चाहिए | जिससे गावं के सभी समाज के वर्गों की आवश्यक जरूरतें पूर्ण हो सके और  वे लोग आपस में एक दूसरे के साथ शुभ भाव में रहते हों, वातावरण के साथ – साथ प्रगतिशील और गतिशील होना चाहिए | आदर्श ग्राम योजना के तहत आदर्श ग्राम वाले गांवों को सम्मानित रूप से जीवन जीने हेतु आवश्यक सभी सुविधाओं से पूर्ण किया जाना चाहिए | 

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना (PMAGY) का उद्देश्य

आदर्श ग्राम योजना का मुख्यस उद्देश्य अनुसूचित जाति  बहुतायत क्षेत्रों का एक साथ विकास करना है,जो निम्न है |

  • प्रमुख तौर से, केंद्र और राज्य के योजनाओं का क्रियान्वयन के माध्यम से
  • इन गांवों में पूर्ति निधि के तौर पर केद्रीय सहायता लगभग 20.00 लाख रू0 प्रति गांव तक प्रदान करना, इसमें 5 लाख रुपए की अतिरिक्त धन राशि दी जा सकती है यदि राज्य भी तद्नुरूप अंशदान देता है।
  • उन कार्यकलापों को शुरुआत करने के लिए अंतराल-पूर्ति घटक की मुहैया कराना, जो केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं के तहत नहीं आते हैं और उन्हें ‘अंतराल-पूर्ति’ घटक के तहत शुरू किया जाना हो।

प्रधानमंत्री महिला शक्ति केंद्र योजना (PMMSY)

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना (PMAGY) का लक्ष्य

  • गरीबी का यथासंभव उन्मूलन, परन्तु तीन साल के अंदर कम से कम 50% तक इसके प्रसार में गिरावट।
  • सार्वभौमिक प्रौढ़ साक्षरता।
  • 100 नामांकन और प्रथम चरण में बच्चों का बना रहना।
  • 2012 तक शिशु मृत्यु दर (प्रति हजार जीवित जन्म) में 30 तक तथा मातृ मृत्यु दर (प्रति लाख) में 100 तक गिरावट ।
  • सभी पात्र परिवारों के लिए आईएवाई आवासों का 100 % आबंटन का होना।
  • गांव ग्रामीण विकास मंत्रालय के पेयजल आपूर्ति विभाग के निर्मल ग्राम पुरस्कार मानकों को सही तरीके से पूरा करें।
  • सतत आधार पर सभी ग्रामवासियों के लिए सुरक्षित पेयजल का सुविधा देना।
  • गर्भवती महिलाओं के लिए 100% संस्थागत प्रसव। बच्चों का पूर्ण टीकाकरण का उपलब्ध कराना ।
  • गांव को डामर रोड के साथ जोड़ना।
  • गांव में मृत्यु और जन्म का 100% पंजीकरण अनिवार्य।
  • बाल विवाह और बाल श्रम पर प्रतिबंध।
  • शराब और अन्य नशीले पदार्थो के सार्वजनिक उपभोग पर रोक।

प्रधानमंत्री जन धन योजना (PMJDY) क्या है

यहाँ आपको प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना (पीएमएजीवाई) के विषय में जानकारी दी गई | यदि इस जानकारी से सम्बंधित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न या विचार आ रहा है, या अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करे |

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट कैसे देखे