Laghu, Seemant Kisan in Hindi

भारत एक कृषि प्रधान देश है, और यहां पर ज्यादातर जनसंख्या कृषि पर निर्भर है | देश का अधिकतर क्षेत्र ग्रामीण है, इसलिए भारत का ग्रामीण क्षेत्र ज्यादातर खेती और पशुपालन पर निर्भर रहता है | भारत के किसान कड़ी मेहनत करके अन्न का उत्पादन करते है, जिससे देश की पूरी जनसंख्या तक अनाज पहुँच पाता है | किसानों के लिए सरकार कर्ज माफी से लेकर सस्ते कीटनाशक, खाद, बीज और बाकि मशीनों पर सब्सिडी तक मुहैया करवाई जाती है । सरकार किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए समय समय पर नई योजनाओं की भी शुरुआत करती रहती है | ज्यादातर सरकारे लघु किसानों और सीमांत किसानों को योजना का लाभ देती आ रही है । यहाँ पर आपको देश के लघु किसान, सीमांत किसान और वृहद किसान क्या है, इसके बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की जा रही है |

मनरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखे

भारत में किसानों के प्रकार

भारत में किसान मुख्यतः तीन प्रकार के होते है, जिनकी पूर्ण जानकारी इस प्रकार है –

  • लघु किसान
  • सीमांत किसान
  • वृहद किसान

ई मंडी पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे

लघु किसान कौन होते है ?

भारत में लघु किसान वह किसान माने जाते हैं जिनके पास कृषि योग्य भूमि एक हेक्टेयर से अधिक और 2 हेक्टेयर से कम होती है । इस श्रेणी के किसानों के पास पांच एकड़ से भी कम जमीन होती है | देश  में इस तरह के किसानों को लघु किसान श्रेणी के अंतर्गत रखा जाता है । 2010-2011 कृषि जनगणना के मुताबिक बात की जाए तो भारत में इन किसानों की संख्या केवल 10 प्रतिशत ही है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) क्या है

सीमांत किसान कौन होते हैं?

भारत में सबसे पहले सीमांत किसान आते है, अगर सरकार के हिसाब से देखा जाये तो सीमांत किसान वह किसान हैं जिनके पास खेती लायक जमीन केवल एक हेक्टेयर यानी  कि लगभग ढाई एकड़ होती है, इसके मध्य खेती वालों को सीमांत किसान कहा जाता है। भारत की अंतिम वर्ष के जनगणना के अनुसार किसानों की कुल आबादी का 68 फीसदी हिस्सा सीमांत किसानों का देश में प्राप्त हुआ।

वृहद किसान कौन है?

किसानों का यह तबका देश में सबसे कम है, भारत की 2011 की जनगणना के मुताबिक इनकी संख्या कुल 4.98 प्रतिशत है | देश में इन्हीं किसानों को बड़े जमींदार के नाम से भी जाना जाता है,  क्योंकि इन किसानों के पास 10 हेक्टेयर या उससे भी ज्यादा कृषि योग्य भूमि होती है इन्हे वृहद किसान या जमींदार कहते है |

डीबीटी क्या होता है

यहाँ पर आपको लघु किसान, सीमांत किसान और वृहद किसान के विषय में जानकारी दी गयी है | इस प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप https://hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | अगर आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है |

खसरा खतौनी और जमाबंदी का क्या मतलब होता है