Tips To Boost Immunity During Heat Wave



Tips To Boost Immunity – दोस्तों आज हम आपके लिए एक ऐसी जानकारी लेकर आये हैं। जो आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होने वाली हैं। हीटवेव के बीच इन तरीकों से बूस्ट करें अपनी इम्यूनिटी। जी हाँ आजकल हीटवेव के कारण लोग बीमार पड़ रहें हैं। बढ़ती गर्मी के कारण बड़े तथा बच्चो सभी को दिक्क्तों का सामना करना  पड़ता हैं। अगर आप भी अपनी इम्यूनिटी को बूस्ट करना चाहते हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह आये हैं। क्योकि आज हम आपको अपन इस आर्टिकल में हीटवेव के बीच इन तरीकों से बूस्ट करें इम्यूनिटी से संबंधित सभी जानकारी देने वाले हैं। इससे जुडी सभी जानकारी को विस्तार से जानने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें।

Tips To Boost Immunity During Heat Wave


इम्यून सिस्टम (Immune System) क्या है

हीट वेव के दौरान इम्युनिटी को रखें मजबूत | Tips To Boost Immunity

जैसा की हम सभी जानते हैं, आजकल हीटवेव के बीच लोग काफी बीमार हो रहे हैं। अधिक तापमान और लू हमारे शरीर के सभी अंगों को प्रभावित करती है। इस चिलचिलाती गर्मी में पेट में ऐंठन, चक्कर खाना, बेहोशी,  स्ट्रोक और सनबर्न जैसी दिक्कतें लोगों को काफी परेशान कर रही हैं। इन सभी बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए हमें प्रतिदिन वॉक करना चाहिए।  क्योकि वॉक करने से शरीर पूरे दिन एक्टिव रहता है और इससे शरीर के सभी ऑर्गन अच्छे से फंक्शन करते हैं. वॉक करने से सिर्फ वजन ही नहीं कम होता बल्कि कई सारी बीमारियों से भी निजात मिलती है। गर्मियों से छुटकारा पाने के लिए अपनी इम्यूनिटी बूस्ट करना होगा। चलिए जानते हैं, कि किन तरीको से इम्यूनिटी को बढ़ाया जाना चाहिए।

img-2

आम पन्ना पिएं

आम पन्ना शरीर में एंटी-ऑक्सीडेंट्स का निर्माण करता है और इम्यूनिटी को मजबूत करता है। इसे पीने से लू से भी बचाव होता है। सेहतमंद रहने के लिए लू से बचना जरूरी हैं। दोस्तों हम आपको बतादें की इम्यूनिटी को मजबूत करने के लिए, कच्चा आम एक बेहतरीन ऑप्शन है। क्योकि कच्चे आम में विटामिन-सी भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं। इसके अलावा हल्के और ढीले-ढाले कपड़े पहनें।



यूरोलॉजी (Urology) क्या होता है ?

अधिक पानी पियें

डिहाइड्रेशन की वजह से गर्मियों में कई बीमारियां का होना आम बात हैं। इसलिए पानी से भरपूर फल और सब्जियों जैसे तरबूज, खीरा और ककड़ी जैसी चीजों को डाइट का हिस्सा बनाएं। जैसे-जैसे गर्मी की लहरें तीव्र होती जाती हैं , ये बीमारियाँ नए लक्षणों के साथ उभरने लगती हैं। एक दिन में कम से कम 8 गिलास पानी पिएं। क्योकि गर्मियों में खुद को बीमारियों से बचाने के लिए, हाइड्रेट रहना सबसे अच्छा तरीका है।

हर रोज सुबह 1 घंटे पैदल चलें

गर्मी हो या ठंडा वॉक करना सेहत के लिए बेहद जरूरी होता हैं। वॉक करने से आपका शरीर चार्ज होता ह, साथ ही. ऐसा करने से आपका शरीर पूरे एनर्जेटिक और एक्टिव रहता है। इसके आलावा सुबह के समय एक्सरसाइज जरूर करें। रात को सोने से पहले, कुछ देर वॉक करना भी फायदेमंद रहेगा।वॉक करने से शरीर पूरे दिन एक्टिव रहता है और इससे शरीर के सभी ऑर्गन अच्छे से फंक्शन करते हैं।

How To Do Meditation Explained in Hindi

पूरी नींद लें

सेहतमंद रहने के लिए पूरी नींद का होना बहुत ही जरूरी हैं। क्योकि पूरी नींद होने से शरीर को पूरी तरह आराम मिलता हैं। इसलिए गर्मियों में आप कम से कम 7-8 घंटे की नींद लें। इससे शरीर स्वस्थ रहेगा। हमारी इम्यूनिटी मजबूत बनेगी। विशेषज्ञ बताते हैं कि कभी-कभी अत्यधिक गर्मी अच्छी होती है।गर्मी से संबंधित बीमारियाँ हर साल एक नियमित मामला हो सकती हैं, लेकिन जैसे-जैसे गर्मी की लहरें अधिक तीव्र होती जाती हैं , ये बीमारियाँ नए लक्षणों के साथ उभरती हैं। इसलिए हीट वेव के दौरान इम्युनिटी को मजबूत रखना जरूरी हैं।

FAQ’s
हीटवेव की समस्या कैसे हल करें?

ठंडा भोजन और पेय लें, शराब, कैफीन और गर्म पेय से बचें, और ठंडा स्नान करें या अपनी त्वचा या कपड़ों पर ठंडा पानी डालें। अपने रहने की जगह को ठंडा रखें। दिन के दौरान खिड़कियाँ बंद कर दें और रात में जब बाहर का तापमान कम हो जाए तो उन्हें खोलें।

हीट स्ट्रोक हो जाए तो क्या करना चाहिए?

यदि व्यक्ति तरल पदार्थ पीने में सक्षम है, तो उसे ठंडा पानी या अन्य ठंडे पेय पदार्थ पीने को कहें जिसमें अल्कोहल या कैफीन न हो. थर्मामीटर से शरीर के तापमान की निगरानी करें और तब तक ठंडा करने के प्रयास जारी रखें जब तक कि शरीर का तापमान 101 से 102 एफ (38.3 से 38.8 सी) तक न गिर जाए।

हीट वेव में क्या करें और क्या न करें?

खाना पकाने के क्षेत्र को पर्याप्त रूप से हवादार करने के लिए दरवाजे और खिड़कियां खोलें • शराब, चाय, कॉफी और कार्बोनेटेड शीतल पेय या बड़ी मात्रा में चीनी वाले पेय से बचें – क्योंकि ये वास्तव में, अधिक शरीर के तरल पदार्थ की हानि का कारण बनते हैं या पेट में ऐंठन का कारण बन सकते हैं

हीट स्ट्रोक से ठीक होने में कितना समय लगता है?

अस्पताल में शुरुआती रिकवरी में लगभग 1-2 दिन लगते हैं।

संक्रमण (Infection) क्या है

Leave a Comment