संक्रमण (Infection) क्या है

देश में कोरोना वायरस के इस नये वैरियंट नें मानव जीवन को पूरी तरह से अस्त-व्यस्त कर दिया है | इसके संक्रमण से प्रतिदिन लाखों लोगो की जीवनलीला समाप्त हो रही है | ऐसे में सरकार से लेकर डॉक्टर तक सभी को मास्क, बार-बार अपनें हाथों को सैनिटाइज तथा दो गज की दूरी बनाये रखनें की सलाह दे रहे है | दरअसल कोविड एक संक्रामक बीमारी है, जिसके कारण यह जरा सी असावधानी होनें पर यह एक संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर दूसरे व्यक्ति को भी संक्रमित कर देती है |

ऐसे में बहुत से लोगो के मन में यह प्रश्न उठता है, कि आखिर यह संक्रमण क्या होता है? संक्रमण (Infection) क्या है, संक्रमण से कैसे बचाव करे ? इसके बारें में आपको यहाँ विस्तार से जानकारी दे रहे है |

कोरोना वायरस (Coronavirus) क्या है

संक्रमण क्या होता है

अधिकांशतः बीमारियों के फैलनें के मुख्य कारण संक्रमण ही होता है | संक्रमण एक ऐसी स्थिति में होता है, जब कोई अवांछित जीव किसी व्यक्ति के शरीर में प्रवेश करता है | यह जीव मूल रूप से परजीवी होते है और इन्हें जीवित रहनें अर्थात बसनें के लिए एक शरीर की आवश्यकता होती है | जिस नये शरीर में यह प्रवेश करते है, प्रजनन कर दौरान यह उनका निवास स्थान बन जाता है | इसके साथ ही यह बहुत ही तेजी से अपनी संख्या बढ़ानें के साथ ही फैलाते है | इन प्रकार के संक्रामक जीवों को रोगजनक के नाम से जाना जाता है | सबसे खास बात यह है, कि यह माहौल के अनुसार स्वयं को अनुकूलित कर लेते है | 

एक तरफ कुछ जीवो का संक्रमण क्षमता काफी कम होती है वहीँ दूसरी तरफ कुछ बहुत ही खतरनाक और जानलेवा होते है, जिन पर दवाईयों का कोई प्रभाव नहीं होता है | इनका संक्रमण होनें पर यदि उचित ईलाज न किये जानें पर व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती है | आपको बता दें, कि संक्रमण फैलनें के अनेक माध्यम है, जैसे कि संक्रमित व्यक्ति द्वारा छुई गयी वस्तु को छूने से भी संक्रमण फ़ैलता है | दरअसल संक्रमण कैसे फैलता है, यह संक्रमण करने वाले रोगजनक के प्रकार पर निर्भर करता है |

Corona Kavach App डाउनलोड कैसे करे

संक्रमण के प्रकार  (Types of Infections)

आमतौर पर इन्फेक्शन या संक्रमण चार प्रकार के होते है, जो मानव जीवन को बहुत अधिक प्रभावित करते है | इनमें से वायरस के माध्यम से होनें वाला संक्रमण सबसे खतरनाक होता है, क्योंकि यह कब और कैसे फ़ैल जाता है इसकी जानकारी मरीज को नहीं होती है | यूनीसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार, संक्रमण के माध्यम से फैलने वाले वायरस की संख्या  50 हजार से अधिक है | संक्रमण फ़ैलाने वाले अनेक प्रकार के रोगजनक जीव (Pathogenic Organisms) इस प्रकार है-

  • बैक्टीरियल इन्फेक्शन (Bacterial Infection)
  • वायरल इन्फेक्शन (Viral Infection)
  • फंगल इन्फेक्शन (Fungal Infection)
  • प्रोटोजोआ (Protozoa)
  • पैरासाइट (Parasites)
  • प्रायन (Prions)

CoWIN Covid-19 Vaccine Registration Online

1.बैक्टीरियल इन्फेक्शन (Bacterial Infection)

बैक्टीरिया के माध्यम से संक्रमण फ़ैलाने वाले यह सूक्ष्म जीव एक कोशिकीय होते है, इन जीवो को प्रोकैर्योट (Prokaryotes) कहते है | इस प्रकार के बैक्टीरिया की सबसे बड़ी खासियत होती है, कि यह किसी भी प्रकार के वातावरण में जैसे बहुत अधिक गर्मी या अत्यधिक सर्दी आदि में रहनें में सक्षम होते है | यहाँ तक कि कुछ बैक्टीरिया ऐसे होते है, जो रेडियोएक्टिव वेस्ट (Radioactive waste) पर भी जीवित रहनें में सक्षम होते हैं।

महामारी अधिनियम (एपिडेमिक एक्टक्या है

बैक्टीरियल इन्फेक्शन से होनें वाली बीमारियाँ (Diseases Caused By Bacterial Infection)

  • फूड पाइज़निंग (Food Poisioning)
  • आंख के संक्रमण (Eyes Infection)
  • निमोनिया (Pneumonia)
  • ओटाइटिस मीडिया -मध्य कान में संक्रमण (Otitis media)
  • ऊपरी श्वसन तंत्र संक्रमण (Upper Respiratory Tract Infection)
  • साइनस (Sinus)
  • यूरिन इन्फेक्शन (Urine Infection)

आरोग्य सेतु ऐप क्या है

2.वायरल इन्फेक्शन (Viral Infection)

वायरल इन्फेक्शन फैलनें का मुख्य कारण वायरस होते है अर्थात इसे फैलानें में वायरस की भूमिका होती है | दरअसल जब यह शरीर में प्रवेश करते है, तो कुछ समय तक निष्क्रिय रहते है, जिससे हमें यह अहसास होता है की हम पूर्ण रूप से स्वस्थ है | परन्तु जैसे ही सर्किय होते है, मनुष्य बीमार हो जाता है |

आयुष्मान भारत योजना क्या है

वायरल इन्फेक्शन से होनें वाली बीमारियाँ(Diseases Caused By Viral  Infection)

  • गैस्ट्रोएन्टराइटिस (Gastroenteritis)
  • एचआईवी (HIV)
  • स्वाइन फ्लू (Swine Flu)
  • इबोला (Ebola)
  • हेपेटाइटिस सी (Hepatitis C)
  • इन्फ्लुएंजा (Influenza)

सांइटिज़ेर क्या होता है

संक्रमण कैसे फैलता है (How does Infection spread)

संक्रमण विभिन्न तरीकों से फ़ैल सकता है, जो इस प्रकार है-

प्रत्यक्ष तौर पर (Direct Contact)

प्रत्यक्ष रूप से संक्रमण फैलनें का मतलब है, कि आप किसी ऐसे व्यक्ति या जानवर के संपर्क में आ जाते है जो पहले से संक्रमित है | ऐसे में आप भी संक्रमित हो जाते है, इसके कई कारण हो सकते है-     

  • पालतू जानवर से व्यक्ति में
  • एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में
  • प्रेगनेंसी के दौरान माँ से बच्चे में

बीसीजी (BCG) का टीका क्या होता है

अप्रत्यक्ष तौर पर (Indirect Contact)

संक्रमण फैलाने वाले कीटाणु अप्रत्यक्ष रूप (Indirectly)तरीके से फ़ैल सकते हैं, इसके अनेक कारण हो सकते है-

  • कीड़ों के काटने से
  • खराब या बासी भोजन करनें से
  • संक्रमित व्यक्ति द्वारा छुई गयी वस्तुएं छूने से

रेमडेसिवीर (Remdesivir) क्या है

संक्रमण से बचाव कैसे करे (Prevention of Infections)

  • बाजार से खरीदी गयी सब्जियों और फलों को धोनें के बाद ही उपयोग में लायें |
  • घर के कार्यों को करते समय खासकर सफाई करते समय हाथो में दस्ताने तथा मास्क का प्रयोग करे |
  • जानवरों के संपर्क में आने से बचे |
  • यदि आपको लगता है, कि आप बीमार हैं तो घर से बाहर निकलनें में परहेज करे |
  • दूध को सदेव पकानें के बाद ही प्रयोग में लायें |
  • एड्स और हेपेटाइटिस बी जैसे यौन संचारित रोगों के लिए अपनी जांच कराएं और कंडोम का उपयोग करे |
  • यदि आपको दस्त, बुखार या उल्टी आ रही हैं, तो ऐसी स्थिति में ऑफिस जानें से बचे |
  • यदि आपको लगता है, कि सामनें वाला व्यक्ति बीमार है तो उनके संपर्क में आने से बचे |
  • कंघी, बर्तन, मेकअप का सामान, साबुन, तेल और टूथब्रश शेयर करनें से बचे |
  • अपनें हाथों को बार-बार लगभग 20 सेकेंड तक अच्छी तरह से धोएं या हैंड सैनिटाइज़ करे |

प्लाज्मा चिकित्सा क्या है

यहां आपको संक्रमण (Infection) के बारे में जानकारी दी गई है | यदि इस जानकारी से रिलेटेड आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न या विचार आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ड्राई रन क्या होता है

Leave a Comment