कर्क रेखा और मकर रेखा क्या है

धरती पर किसी स्थान की स्थिति की जानकारी हमे अक्षांश तथा देशान्तर रेखाओ के माध्यम से मिलती है यह दोनों रेखाएं काल्पनिक है | धरती को बेहतर माध्यम से समझने के लिए कुछ काल्पनिक रेखाओ में विभाजित किया गया है, जिस प्रकार एक ग्राफ पेपर में दो समन्वय के माध्यम से किसी स्थान की स्थिति की जानकारी करते है | उसी प्रकार से धरती को अक्षांश तथा देशान्तर रेखाओ में विभाजित किया गया है | कर्क रेखा एवं मकर रेखा के मध्य के सभी अक्षांशों पर सूर्य वर्ष में कम से कम एक बार दोपहर के समय सिर के सीधे ऊपर होता है। सूर्य की रोशनी सर्वाधिक पूरी दुनिया में इसी भाग को प्राप्त होती है, अतः इसी कारणवश इसे उष्ण जोन कहा गया है |

इन दोनों रेखाओं के बीच के स्थान को छोड़कर कहीं भी दोपहर के समय सूर्य सर के ऊपर नहीं चमकता है, इसलिए उत्तरी गोलार्द्ध में अटलांटिक रेखा एवं कर्क रेखा  तथा दक्षिणी गोलार्द्ध में अंटार्कटिक रेखा एवं मकर रेखा वाले क्षेत्रों में तापमान ज्यादातर समय समान ही रहता है। इस वजह से इन क्षेत्रों को तापमान जोन भी कहा जाता है। कर्क तथा मकर दोनों काल्पनिक रेखाएं है,इनके बीच में भूमध्य रेखा स्थित होती है| यहाँ आपको “कर्क रेखा और मकर रेखा क्या है, Tropic of Cancer and Capricorn Meaning in Hindi” इसके विषय में जानकारी उपलब्ध कराई गयी है|

विश्व के विकसित और विकासशील देशों की सूची

कर्क रेखा क्या है? (What is Cancer Line)

कर्क रेखा को अंग्रेजी में Cancer Line (कैंसर लाइन) कहते है,कर्क रेखा उत्तरी गोलार्ध में भूमध्य रेखा‎ के समानान्तर 23°26′22″N 0°0′0 ″W निर्देशांक: 23°26′22″N 0°0′0″ W पर, ग्लोब पर पश्चिम से पूर्व की ओर खींची गई कल्पनिक रेखा हैं | कर्क रेखा पृथ्वी पर उन पांच प्रमुख अक्षांश रेखाओं में से एक हैं, जो पृथ्वी के मानचित्र पर परिलक्षित होती हैं। कर्क रेखा पृथ्वी की उत्तर में स्थित अक्षांश रेखा को भी कहते हैं, जिस पर सूर्य दोपहर के समय लम्बवत चमकता हैं। यह घटना जून क्रांति के समय होती है, जब उत्तरी गोलार्ध सूर्य के समकक्ष अत्यंत झुक जाता है।

इस रेखा की स्थिति पूर्णरूप से स्थायी नहीं होती हैं, तथा इसमें समय के अनुसार हेर-फेर दिखाई देता रहता है। जब सूर्य इस रेखा के पूर्णरूप से ऊपर होता है, तब उत्तरी गोलार्ध में वह दिन सबसे लंबा व रात सबसे छोटी होती है। 21 जून का दिन वर्ष का सर्वाधिक लम्बा दिन होता है, यहां इस दिन सबसे अधिक गर्मी होती है, क्योंकि सूर्य की किरणें यहां बिलकुल  लंबवत पड़ती हैं। कर्क रेखा के अतिरिक्त उत्तरी गोलार्ध के अन्य उत्तर के क्षेत्रों में भी किरणें अधिकतम लंबवत होती हैं। कर्क रेखा भारत के मध्य भाग से होकर गुजरती है |

WORLD BANK (विश्व बैंक) क्या है

कर्क रेखा से होकर गुजरने वाले भारत के राज्य (States of India passing through Cancer Line)

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखण्ड, राजस्थान, गुजरात, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा तथा मिजोरम राज्यों से होकर कर्क रेखा गुजरती है |

LIST OF OPEN UNIVERSITY IN INDIA

मकर रेखा क्या है? (What is Capricorn Line?)

मकर रेखा को अंग्रेजी में “Capricorn” (कैप्रीकॉर्न लाइन)” कहते है | मकर रेखा वह काल्पनिक रेखा है, जो  पृथ्वी के दक्षिणी गोलार्ध में भूमध्य रेखा ‎के समानान्तर 23 डिग्री26′ 22″ दक्षिण अक्षांश पर, ग्लोब पर पश्चिम से पूर्व की ओर खींची गई हैं। 22 दिसम्बर को सूर्य मकर रेखा पर लम्बवत होता है। मकर रेखा या दक्षिणी गोलार्ध पाँच प्रमुख अक्षांश रेखाओं में से एक हैं, जो पृथ्वी के मानचित्र पर परिलक्षित होती हैं। मकर रेखा पृथ्वी की दक्षिणतम अक्षांश रेखा हैं, जिस पर सूर्य दोपहर के समय लम्बवत चमकता हैं। इसे मकर संक्रांति कहते है, यह दक्षिण गोलार्ध  का सबसे बड़ा दिन होता है |

जब दक्षिणी गोलार्ध सूर्य की समानता में अत्यधिक झुक जाता है। उत्तरी गोलार्ध में जिस प्रकार कर्क रेखा है, उसी प्रकार दक्षिणी गोलार्ध में मकर रेखा स्थित है| मकर रेखा के दक्षिण में स्थित अक्षांश, दक्षिण शीतोष्ण क्षेत्र मे आते हैं तथा मकर रेखा के उत्तर तथा कर्क रेखा के दक्षिण मे स्थित क्षेत्र उष्ण कटिबन्ध कहे जाते है |

भारतीय पासपोर्ट का स्टेटस ऑनलाइन कैसे चेक करे

मकर रेखा किन देशो से होकर गुजरती है (Countries passing through Capricorn Line )

मकर रेखा आस्ट्रेलिया, दक्षिण अमेरिका तथा अफ्रीका महाद्वीप से होकर गुजरती है तथा यह रेखा भारत के किसी भी राज्य से होकर नही गुजरती है |

नागरिकता संशोधन बिल (CITIZENSHIP AMENDMENT BILL) क्या है

कर्क रेखा तथा मकर रेखा में अंतर  (Difference Between Cancer and Capricorn Line)

कर्क रेखा उत्‍तरी गोलार्ध में भूमध्‍य रेखा के समानान्‍तर  ग्‍लोब पर पश्चिम से पूर्व दिशा की ओर खींची गई रेखा हैं। मकर रेखा पृथ्‍वी के दक्षिणी गोलार्द्ध में भूमध्‍य रेखा के समानान्‍तर 23 डिग्री 26’22” दक्षिण अक्षांश ग्‍लोब पर पश्चिम से पूर्व दिशा की ओर खींची गई रेखा है |

सूचना का अधिकार अधिनियम (RTI)

यहाँ आपको कर्क रेखा और मकर रेखा के विषय में जानकारी दी गई है, अब उम्मीद है कि आप इस जानकारी से संतुष्ट होंगे, यदि आप इससे संबंधित अन्य किसी जानकारी को प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करके अपना सुझाव दे, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही उत्तर देने का प्रयास किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

केंद्र शासित प्रदेश का मतलब क्या होता है?

Leave a Comment