UPI Autopay क्या है ?

आज की भागदौड़ की लाइफ में हमारे कई जरूरी कार्य जैसे- बिजली के बिल, ईएमआई की पेमेंट, इंश्योरेंस प्रीमियम आदि का भुगतान समय से करना आवश्यक होता है | लेकिन किन्ही कारणों से कोई न कोई काम आखिर छूट ही जाता है | हालाँकि इस प्रकार के भुगतान के लिए आप यूपीआई के माध्यम से कर सकते है | लोगो की सहूलियत के अनुसार, भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (National Payments Corporation of India) द्वारा यूपीआई ऑटो पे (UPI Autopay) फीचर लॉन्च किया हैं |

इस फीचर की सहायता से आप अपने विभिन्न प्रकार के मंथली पेमेंट्स को एक निर्धारित तिथि और समय पर सेट कर स्वतः भुगतान कर सकते है अर्थात ऑटो पे के माध्यम से आपके द्वारा फिक्स किया गया अमाउंट ऑटोमेटिक कट जाएगा। UPI Autopay क्या है? इसके बारें में जानकारी देने के साथ ही यहाँ आपको UPI Autopay Payment कैसे करे और UPI Autopay Limit कितना है, इसके बारें में जानकारी प्रदान की जा रही है |

यूपीआई (UPI) क्या है

यूपीआई ऑटो पे क्या है (What is UPI Auto Pay)

यूपीआई ऑटो पे एनसीपीआई द्वारा शुरू की गयी एक ऐसी सर्विस है, जिसके माध्यम से आप उन सभी आवश्यक कार्यों के लिए भुगतान कर सकते है, जिसके लिए आपको बार- बार पेमेंट करना पड़ता है | नेशनल पेमेंट द्वारा इस सुविधा को यूपीआई 2.0 के अंतर्गत शुरू किया गया है, जिसकी सहयता से यूपीआई कस्टमर प्रतिमाह अपने बिल का भुगतान बगैर भूले कर सकेंगे |  हालाँकि इस सुविधा के अंतर्गत कोई भी ग्राहक सिर्फ 5000 रुपये तक का पेमेंट बगैर यूपीआई पिन के कर सकते है | यदि भुगतान की राशि 2 हजार से अधिक है, तो उन्हें इसके लिए यूपीआई पिन दर्ज करना होगा |

एनपीसीआई (NPCI) के अनुसार, इस फीचर का उपयोग करनें के लिए उपभोक्ताओं को सिर्फ एक बार ई-मैंडेट (E-mandate) सेट करना होगा | इस आप्शन को एक्टिव करनें के पश्चात आप किसी भी आवर्ती जमा (Recurring Payment) की स्वीकृति दे सकते है | यदि आप किसी पेमेंट को ड्राप करना चाहते है, तो आप आप्शन पर जाकर रिकरिंग पेमेंट को ड्राप कर सकते है | इसके अलावा आप पेमेंट अमाउंट बढ़ने या घटने पर आप इसमें बदलाव कर सकते है | 

रेकरिंग पेमेंट क्या है (What is Recurring Payment)

रेकरिंग पेमेंट को हिंदी में आवर्ती भुगतान कहते है | हमारे दैनिक जीवन में कई ऐसे महत्वपूर्ण कार्य होते है, जो हमें एक निर्धारित तिथि पर करना आवश्यक होता है | इस प्रकार की कोई ऐसी सर्विस या प्रोडक्ट जिसे हम अपने इस्तेमाल के लिए बार- बार खरीदतें हैं और उसके लिए बार- बार भुगतान करना पड़ता है, रेकरिंग पेमेंट या आवर्ती भुगतान कहलाता है |

यूपीआई ऑटो पे इस रेकरिंग पेमेंट को स्वचालित अर्थात ऑटोमेटिक पे करनें का विकल्प प्रदान करता है, जिससे हमें पेमेंट करनें की लास्ट डेट याद रखनें की आवश्यकता नही पड़ती है | हालाँकि दो हजार रुपये से कम के भुगतान के लिए उपभोक्ता को अपने बैंक अकाउंट को सिर्फ एक बार अपने यूपीआई पिन से ऑथेंटिकेट करना होगा | इसके पश्चात प्रतिमाह 5 हजार से कम के पेमेंट्स स्वतः हो जायेंगे | 

Jio Payment Bank क्या है ?

यूपीआई ऑटो पे लिमिट (UPI Autopay Limit)

यदि आप प्रतिमाह कुछ निर्धारित खर्चों के लिए ऑटो डेबिट सुविधा का उपयोग कर रहे है, तो आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि अब यह सुविधा समाप्त हो गयी है और अब आवर्ती भुगतान (Recurring Payment) के लिए आपके बैंक खाते से डायरेक्ट पैसे कटनें के बजाय बैंक को आपसे इस सम्बन्ध में परमिशन लेनी होती है | आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि आरबीआई द्वारा ऑटो डेबिट पर यह नया नियम 1 अक्टूबर से लागू कर दिया है | 

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया नें इसके लिए एडिशनल फैक्टर ऑफ़ ऑथेंटिकेशन (AFA) लागू कर दिया है | दरअसल आरबीआई द्वारा यह नियम ग्राहकों को अतिरिक्त सुरक्षा प्रदान करनें के उद्देश्य से लागू किया गया है | वर्तमान में आपके बैंक खाते से पैसे कटने से पहले बैंक को आपसे अनुमति लेनी होगी | इसके लिए बैंक द्वारा आपको एक मैसेज भेजा जायेगा, जिसे आपके द्वारा अप्रूवल देने के बाद पेमेंट कर दिया जायेगा |

यदि हम यूपीआई ऑटो पे लिमिट की बात करे, तो नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, अब कोई उपभोक्ता यूपीआई  के माध्यम से पांच हजार (Five Thousands) रुपये तक के आवर्ती भुगतान को ई- मैंडेट दे सकता है। साधारण शब्दों में पांच हजार रुपये तक के भुगतान यूपीआई ऑटो पे के माध्यम से कर सकते है | यदि यह अमाउंट 5 हजार से अधिक होनें पर आपको प्रत्येक ट्रांजैक्शन के लिए यूपीआई पिन के जरिए अप्रूव करना होगा | 

यूपीआई ऑटो पे से लाभ (Benefit from UPI Auto Pay)

  • यूपीआई ऑटो-पे सुविधा से आप किसी भी यूपीआई ऐप की सहायता से अपना आवर्ती भुगतान कर सकते है |
  • यूपीआई ऑटो-पे के माध्यम से आप समय पर भुगतान कर विलंभ शुल्क देने से बच सकते है |
  • एक निर्धारित समय और तिथि पर भुगतान करनें पर आपका क्रेडिट स्कोर में इम्प्रूवमेंट होता है |
  • किस भी प्रकार के भुगतान के लिए आपको सिर्फ एक बार पेमेंट का ऑटोमेटिक मोड सेट करनें के पश्चात इसे आपको याद रखनें की आवश्यकता नही पड़ती है | 

Google Pay से पैसे कैसे ट्रांसफर करें

यूपीआई ऑटो पे पेमेंट कैसे करे (How to Make UPI Auto pay Payment)

यूपीआई ऑटो पे भुगतान करनें के लिए आप अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी यूपीआई एप्लिकेशन जैसे भीम यूपीआई ऐप का इस्तेमाल कर सकते है | प्रत्येक यूपीआई एप्लिकेशन में एक ‘Mandate’ सेक्शन उपलब्ध होता है, जिसके माध्यम से आप डेली, वीकली , मंथली, , आदि के लिए सेट कर सकते है | सबसे खास बात यह है, कि आप इसे तत्काल रूप से जनरेट कर सकते है और आप एक नियत तिथि पर भुगतान कर सकते है | यूपीआई ऑटो पे सिस्टम सेट करने के लिए स्टेप इस प्रकार है –

  • सबसे पहले आपको अपनें फ़ोन में एक यूपीआई ऑटो पे एप डाउनलोड करना होगा | यह एप आप अपनी इच्छानुसार कोई भी डाउनलोड कर सकते है | जैसे कि हम आपको यहाँ भीम यूपीआई एप से पेमेंट करनें के बारें में जानकारी दे रहे है |
  • भीम यूपीआई एप को ओपन कर लॉग इन करें |
  • अब आपको ऑटो डेबिट के आप्शन पर क्लिक करना होगा |
  • इसके पश्चात आपको Mandate के आप्शन पत क्लिक करना होगा |
  • अब आपको मैंडेट को मैनेज करना होगा, आप चाहे तो नया क्रिएट करें या पिछले मैंडेट देखें |
  • पेमेंट का टाइम मंथली, वीकली या एनुअल को सेलेक्ट करे |    
  • मर्चेंट का नाम एड करे और ऑटो डेबिट डेट सेलेक्ट करे |
  • सबसे लास्ट में आपको Proceed पर क्लिक करना होगा |

e RUPI क्या है

Leave a Comment