e RUPI क्या है



भारत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने देश में डिजिटल करेंसी को बढ़ाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक वाउचर बेस्ड डिजिटल पेमेंट सिस्टम e-RUPI को लॉच किया है | डिजिटल पेमेंट के इस प्लेटफार्म को NPCI (National Payment Corporation of India), DOFS (Department of Financial Services), MOHFW (Ministry of Health and Family Welfare) तथा (National Health Authority) जैसी दिग्गज कंपनियों द्वारा जारी किया गया है | यह एक तरह की व्यक्ति विशेष (Person-Specific) तथा उद्देश्य-विशिष्ट भुगतान (Purpose-Specific Payments) प्रणाली होगी |

img-1


यह पूरी तरह से नगदी रहित (Cashless) और संपर्क रहित (Contactless) डिजिटल पेमेंट सिस्टम होगा | इस e – RUPI की खास बात यह होगी इसमें आपको पेमेंट करने के लिए किसी तरह के एप को डाउनलोड नहीं करना होगा, और न ही आपको किसी स्मार्ट फ़ोन की आवश्यकता होगी, इसका मतलब यह होगा की आप इंटरनेट का इस्तेमाल किये बिना भी अकाउंट में पैसे भेज सकेंगे | यह व्यक्ति के फ़ोन में SMS-स्ट्रिंग या QR कोड के तौर पर कार्य करेगा | यदि आप ई-रूपी से जुड़ी और जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो इस पोस्ट में आपको e RUPI क्या है, e-RUPI कैसे काम करता है, ई-रूपी से डिजिटल पेमेंट कैसे करे इसके बारे में विस्तार से बताया जा रहा है|

PayTM IPO 2021

e-RUPI क्या है

इ-रूपी पेमेंट के बारे में मिली जानकारी के अनुसार यह पता चला है कि इ-रूपी एक कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस डिजिटल भुगतान के रूप में कार्य करेगा | जिसका इस्तेमाल कर व्यक्ति SMS के जरिये पैसो का भुगतान कर सकेगा | इस e-RUPI प्रणाली में जब एक प्रेषक किसी प्राप्तकर्ता को मैसेज के रूप में वाउचर भेजेगा तो प्राप्तकर्ता बिना किसी इंटरनेट और स्मार्टफोन का इस्तेमाल कर उस वाउचर को अपने बैंक खाते में ट्रांसफर कर सकेगा |



इसे एक तरह का ऑनलाइन चेक कहा जा रहा है, जिसमे एक व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को वाउचर के रूप में पैसो का भुगतान करता है | जिसे प्राप्तकर्ता व्यक्ति अपने बैंक खाते में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर प्राप्त कर पेमेंट को प्राप्त कर सकेगा |

PRAGYATA क्या है

रूपी कैसे काम करता है (How e-RUPI Works)

e-RUPI प्रणाली में कार्य करने के लिए नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) द्वारा UPI प्लेटफॉर्म को संचालित किया जायेगा | इसमें निजी तथा सरकारी दोनों ही प्रकार की बैंको को वाउचर भेजने के लिए शामिल किया गया है | इस सिस्टम में यह जरूरी नहीं होगा कि जिस बैंक द्वारा इस e-RUPI वाउचर को जारी किया गया है, वही इसे स्वीकारे आप किसी भी बैंक द्वारा इ-रूपी वाउचर को भेज तथा प्राप्त कर सकेंगे |

इसमें आप जिस प्राप्तकर्ता को यह इ-रूपी वाउचर भेजना चाहते है,उसकी जानकारी को मोबाइल नंबर के साथ बैंक को प्रदान करनी होगी | जिसके बाद बैंक द्वारा मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क किया जायेगा और आपकी पहचान को स्पष्ट कर आपके मोबाइल नंबर पर e-RUPI वाउचर को भेज दिया जायेगा |

डिजिटल इंडिया योजना क्या है

रूपी के फायदे (Advantages of e-RUPI)

  • यह किसी तरह के भुगतान को करने के लिए एक कैशलेस और संपर्क रहित माध्यम होगा |
  • इ-रूपी द्वारा किसी चीज का भुगतान करने के लिए आपको डेबिट-क्रेडिट कार्ड, यूपीआई जैसी किसी थर्ड पार्टी प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल नहीं करना होगा |
  • यह इ-रूपी प्रणाली फिजिकल इंटरफेस के जरिये डिजिटल तरीके का इस्तेमाल कर लाभार्थियों और सेवा प्रदाताओं के बीच सम्बन्ध स्थापित करता है |
  • इस e-RUPI प्लेटफार्म का इस्तेमाल सरकारी सब्सिडी और योजनाओ का लाभ उठाने के लिए भी किया जा सकेगा |
  • यह एक प्रीपेड सेवा होगी जिसमे भुगतान को सीधे प्राप्तकर्ता के बैंक खाते में भेजा जा सकेगा |
  • इस प्रणाली को कल्याणकारी सेवाओं की लीक-प्रूफ डिलीवरी सुनिश्चित करने की दिशा में एक क्रन्तिकारी पहल मानी जा रही है |
  • इस प्लेटफार्म का प्रयोग कर मातृ एवं बाल कल्याण योजनाओं के तहत दवा व न्यूट्रीशनल सपोर्ट उपलब्ध कराने वाली योजनाओ और अन्य तरह कि सब्सिडी योजनाओ में भी सेवाएं देने के लिए इस्तेमाल किया जा सकेगा |
  • इसके साथ ही इस प्लेटफार्म का इस्तेमाल निजी क्षेत्रों में भी किया जा सकेगा |

यूपीआई (UPI) क्या है

ई-रूपी का उपयोग किन-किन बैंकों में होगा

इ-रूपी के भुगतान के लिए निजी एवं सरकारी दोनों तरह की बैंको को शामिल किया गया है | वर्तमान समय में ई-रूपी को सपोर्ट करने के लिए 11 बैंको को शामिल किया गया है | जिसमे स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), बैक ऑफ बड़ौदा (BOB), आईसीआईसीआई (ICICI), एचडीएफसी (HDFC), पीएनबी (PNB) आदि ऐसी बैंक जो इस e-RUPI के वाउचर को जारी और स्वीकार करने का कार्य करेंगी | इसके अतिरिक्त कैनरा बैंक, इंड्सइंड बैंक, इंडियन बैंक, कोटक महिंद्रा और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया बैंक इस वाउचर को जारी करने का कार्य करेंगी |

डिजिलॉकर क्या है

ई-रूपी से डिजिटल पेमेंट कैसे करे (How to Make Digital Payment Through e-RUPI)

इ-रूपी का सबसे बड़ा फायदा या होगा की इसमें आपको भुगतान करने के लिए किसी तरह के एप को डाउनलोड नहीं करना होगा और न ही इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता होगी | प्रेषक जो इस प्रणाली का इस्तेमाल कर भुगतान करना चाहते है, उन्हें SMS स्ट्रिंग या QR Code के रूप में वाउचर प्राप्त होता है, जिसका उपयोग कर वह पैसो का अदान-प्रदान कर सकते है |

इसमें उपयोगकर्ता को इंटरनेट बैंकिंग,डेबिट,क्रेडिट कार्ड या फिर किसी डिजिटल भुगतान एप की आवश्यकता नहीं होती है | यह इ-रूपी एक इ-वाउचर की तरह कार्य करता है | यह एक प्रीपेड सेवा है, जिसमे व्यक्ति किसी विशेष उद्देश्य पर खर्च करने के लिए पैसो का अदान-प्रदान कर सकता है |

एनईएफटी और आरटीजीएस क्या है

Leave a Comment