विलफुल डिफॉल्टर का क्या मतलब है

दुनिया में ऐसे बहुत से बिजनेस मैन, नेता, बड़े-बड़े अधिकारी मौजूद हैं, जो सरकार की तरफ प्रदान की जाने वाली सुविधाओं को प्राप्त करने के बावजूद भी लोन की किश्त की भारपाई नहीं करते है | ऐसे ही लोगों के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने देश के 30 सबसे बड़े विलफुल डिफॉल्टर्स की लिस्ट जारी कर दी  है क्योंकि,  आरटीआई आवेदन द वायर ने मई 2019 में यह लिस्ट जारी करने के लिए दाखिल दायर की थी , जिसके बाद अब आरटीआई के जवाब में आरबीआई ने यह लिस्ट जारी कर दी | विलफुल डिफॉल्टर्स एक ऐसी लिस्ट है, जिसमें घोटाला करने वाले लोगों के नाम बड़े अक्षरों में लिखे जाते है | इसलिए यदि आप भी विलफुल डिफॉल्टर (Willful Defaulter) के विषय में जानना चाहते है, तो यहाँ पर आपको विलफुल डिफॉल्टर (Willful Defaulter) का क्या मतलब है ?विलफुल डिफाल्टर की सूची | इसकी पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

एफपीआई (FPI) क्या है

(WILLFUL DEFAULTER) में मेहुल चौकसी की कंपनी टॉप पर

आरबीआई द्वारा जारी की गई टॉप-30 विलफुल डिफॉल्ट के नाम पर 50 हजार करोड़ रुपए से अधिक की राशि फंसी पड़ी है। इस लिस्ट में भगौड़े हीरा कारोबारी की कंपनी गीतांजलि जेम्स का नाम सबसे ऊपर दर्ज किया गया है क्योंकि,  गीतांजलि जेम्स ऐसी कंपनी है, जिसके ऊपर 5044 करोड़ रुपए का विलफुल डिफॉल्ट है। जारी की गई इस लिस्ट में मेहुल चौकसी की गीतांजलि जेम्स के साथ – साथ दो और  कंपनियों के नाम भी शामिल हैं।  देश की नामी पेन कंपनी रोटोमैक भी आरबीआई का नाम भी इसमें दर्ज है | इस तरह के मामले को लेकर आरबीआई ने कहा है कि, “डिफॉल्ट रकम में बैंकों की ओर से रिट ऑफ (Writt Off) की गई रकम भी शामिल है। इस लिस्ट को केंद्रीय बैंकिंग डेटाबेस सेंट्रल रिपॉजिटरी ऑफ इनफोर्मेशन ऑन लार्ज क्रेडिट्स से प्राप्त आंकड़ों के आधार पर तैयार किया है।”

विलफुल डिफॉल्टर (WILLFUL DEFAULTER) किसे कहते है 

विलफुल डिफाल्टर (WILLFUL DEFAULTER) ऐसे व्यक्ति होते हैं,  जो जानबूझकर कर्ज नहीं चुकाता है। यानि कि, ऐसे व्यक्ति या फर्म जो पैसा होने के बावजूद भी लोन तो ले लेते हैं, लेकिन किसी लोन की किश्त का भुगतान नहीं करते हैं, वे विलफुल डिफॉल्टर (WILLFUL DEFAULTER) कहे जाते है |

एफआईआई (FII) क्या है

विलफुल डिफाल्टर (WILLFUL DEFAULTER) की सूची

क्र.स. कंपनी का नाम   बकाया राशि
1. गीतांजलि जेम्स लिमिटेड पर 5044 करोड़ रुपए
2.  आरईआई एग्रो लिमिटेड पर  4197 करोड़ रुपए
3. विनसम डायमंड्स एंड ज्वैलरी लिमिटेड पर  3386 करोड़ रुपए
4.  रुचि सोया इंडस्ट्रीज लिमिटेड पर 3225 करोड़ रुपए
5. रोटोमैक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड पर 2844 करोड़ रुपए
6.  किंगफिशर एयरलाइंस लिमिटेड पर  2488 करोड़ रुपए
7. कुडोस कैमि लिमिडेट पर  2326 करोड़ रुपए
8. जूम डवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड पर 2024 करोड़ रुपए
9. डेक्कन क्रोनिकल होल्डिंग्स लिमिटेड पर  1951 करोड़ रुपए
10. एबीजी शिपयार्ड लिमिटेड पर 1875 करोड़ रुपए
11. फॉरएवर प्रीसियस ज्वैलरी एंड डायमंडस प्राइवेट लिमिटेड पर 1718 करोड़ रुपए
12. सूर्या विनायक इंडस्ट्रीज लिमिटेड पर 1628 करोड़ रुपए
13. एस कुमार्स नेशनवाइड लिमिटेड पर 1581 करोड़ रुपए
14. गिली इंडिया लिमिटेड पर  1447 करोड़ रुपए
15. सिद्दी विनायक लॉजिस्टिक लिमिटेड पर 1349 करोड़ रुपए
16. वीएमसी सिस्टम्स लिमिटेड पर  1314 करोड़ रुपए
17. गुप्ता कोल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड पर  1349 करोड़ रुपए
18.  नक्षत्र ब्रांड्स लिमिटेड पर  1314 करोड़ रुपए
19. इंडियन टेक्नोमैक कंपनी लिमिटेड पर 1091 करोड़ रुपए
20. श्री गणेश ज्वैलरी हाउस लिमिटेड पर  1085 करोड़ रुपए
21. जैन इंफ्राप्रोजेक्ट्स लिमिटेड पर 1076 करोड़ रुपए
22. सूर्या फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड पर  1065 करोड़ रुपए
23.  नाकोडा लिमिटेड पर  1028 करोड़ रुपए
24.  केएस ऑयल्स लिमिटेड पर  1026 करोड़ रुपए
25.  कोस्टल प्रोजेक्ट्स लिमिटेड पर  984 करोड़ रुपए
26. हानूग टॉयस एंड टैक्सटाइल्स लिमिटेड पर 949 करोड़ रुपए
27. फर्स्ट लीजिंग कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड पर  929 करोड़ रुपए
28. कॉनकास्ट स्टील एंड पावर लिमिटेड पर  888 करोड़ रुपए
29. एक्शन इस्पात एंड पावर प्राइवेट लिमिटेड पर 888 करोड़ रुपए
30. डायमंड पावर इंफ्रास्ट्रक्चर पर  869 करोड़ रुपए

मुद्रा विनिमय (CURRENCY SWAP) क्या होता है

यहाँ पर हमने आपको विलफुल डिफॉल्टर (Willful Defaulter) का क्या मतलब है ? इसके विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि इस जानकारी से रिलेटेड आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न या विचार आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है | अधिक जानकारी के लिए हमारे पोर्टल Hindiraj.com पर विजिट करते रहे |

5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का अर्थ