ई-कॉमर्स क्या होता है

आज के समय में इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन व्यवसाय करना तथा ख़रीदारी करना बहुत पसंद किया जा रहा है, अब हमे मोबाइल, फर्नीचर, कपडे एवं इलेक्ट्रानिक का सामान आदि खरीदने के लिए बाजार नहीं जाना पड़ता है घर बैठे ही इंटरनेट ऑनलाइन शॉपिंग के द्वारा एक क्लिक से आप घर पर ही सामान मंगवा सकते है | ऑनलाइन शॉपिंग का व्यवसाय आज के समय में बहुत लोकप्रिय बन चुका है |

इंटरनेट के माध्यम से खरीदारी को ही ई-कॉमर्स कहते है Amazon, Flip-kart, shopcluse  आदि वेबसाइट ई-कॉमर्स की ही साइट है | इन वेबसाइट  के द्वारा ऑनलाइन व्यवसाय किया जा रहा है बहुत से लोग ऑनलाइन शॉपिंग करते  है लेकिन उन्हें ई-कॉमर्स क्या है, इसका क्या मतलब होता है यह कितने प्रकार का है इस सम्बन्ध में पूरी जानकारी नहीं होती है, इसलिए इस पेज पर आपको “ई-कॉमर्स क्या होता है? लाभ और विशेषताओं” के विषय में सम्पूर्ण जानकारी दी जा रही है |

JIO GLASS क्या है

ई-कॉमर्स (E-COMMERCE) क्या है?

ई-कॉमर्स को इंटरनेट या इलेक्ट्रानिक कॉमर्स भी कहते है, इंटरनेट के माध्यम से अपने व्यवसाय को संचालित करने को ई-कॉमर्स कहा जाता है | सामान और सेवाएं  खरीदने, बेचने तथा ग्राहकों के साथ व्यवसाय करना एवं भागीदारी देना भी शामिल है साथ ही पैसो के स्थानांतरण तथा डाटा के साँझा करने की भी प्रक्रिया है, जिसमे इलेक्ट्रानिक रूप में दो या दो से अधिक सहयोगियों के बीच डाटा अथवा धन  स्थानांतरित होता रहता है | 

ई-कॉमर्स के द्वारा व्यापार करने में समय और दूरी रूकावट नहीं बनते है, ई-कॉमर्स को आप ऑनलाइन शॉपिंग भी कह सकते है | टीवी रिचार्ज, नेट बैंकिंग, पेटीएम आदि मोबाइल एप्लीकेशन के द्वारा भी इलेक्ट्रानिक व्यवसाय किया जा रहा है | मिंत्रा, स्नेपडील, शॉपक्लूज, बिगबास्केट,अमेजन, फ्लिपकार्ट, अलिबाबा आदि ई-कॉमर्स व्यापारियों की वेबसाइट है |

इन कामर्शियल वेबसाइटों ने ऑनलाइन शॉपिंग के द्वारा ई-कॉमर्स के व्यवसाय को व्यापक स्तर तक पहुँचा दिया है तथा अपने ग्राहकों के साथ एक अच्छा सम्बन्ध स्थापित कर लिया है इसलिए ग्राहकों के बीच इसकी लोकप्रियता में भी वृद्धि हुयी है | सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स, व्हाट्सप्प  ऑनलाइन चैटिंग, वीडियो या सामान्य कॉलिंग आदि अन्य Apps के माध्यमों से भी ई-व्यवसाय किया जा रहा है |  ई-कॉमर्स का शुभारम्भ 1960 में हुआ था | 

पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है

ई-कॉमर्स के लाभ

  • ई -कॉमर्स ग्राहक का बेहतर सुविधाएं प्रदान करने में सहायता करता है |
  • ई-कॉमर्स ने कागज पर काम कम कर दिया है | 
  • ई-कॉमर्स ने लेंन-देंन तथा उत्पादों की लागत को कम कर दिया है जिससे कम संपन्न लोग भी इन उत्पादों को खरीद सकते है |
  • ई-कॉमर्स ने संगठन के ब्रांड प्रतिबिम्ब को बेहतर बना दिया है |    
  • ई-कॉमर्स न्यूनतम पूंजी में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर व्यवसाय को बढ़ाता है | 
  • ऑनलाइन शॉपिंग परंपरागत खरीदारी की तुलना में बेहतर होती है तथा समय की भी बचत होती है | 
  • ई-कॉमर्स ग्राहकों को अच्छे और सस्ते उत्पादों को देखने का अवसर प्रदान करता है | 
  • ई-कॉमर्स  व्यापार की प्रक्रियाओं में वृद्धि, सरलता और कुशलता देता है |  
  • ई-कॉमर्स  व्यवसाय को  ग्लोबल बाजार तक पहुंचने में सक्षम बनाता है |
  • ई-कॉमर्स का उपयोग आप दिन के 24 घंटे किसी भी समय कर सकते है |

पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है

ई-कॉमर्स की विशेषताएं

1. ऑनलाइन खरीदारी में आपको उत्पाद के विषय में सम्पूर्ण जानकारी दी जाती है तथा मोल-भाव भी नहीं होता जिससे आपसे अधिक पैसे सामान के लिए नहीं लिए जा सकते, जबकि परंपरागत ख़रीदारी में ये सुविधा नहीं होती है |   

2. विक्रेता और ग्राहक के बीच में सीधा संपर्क होता है तथा बीच में कोई मध्यस्त नहीं होता है | 

3. इलेक्ट्रानिक व्यवसाय करने के लिए विक्रेता को अपने उत्पादों को बेचने के लिए दुकान की आवश्यकता नहीं होती है |

4. किसी भी ग्राहक को खरीदारी करने के लिए किसी दुकान या स्थान पर नहीं जाना पड़ता है, ई-कॉमर्स की सहायता से किसी भी जगह से ऑनलाइन शॉपिंग कर सकता है | 

5. ई-कॉमर्स के द्वारा खरीदारी में परिवहन खर्च में बचत तथा समय की भी बचत होती है, फ़ोन या लैपटॉप के माध्यम से ऑनलाइन शॉपिंग कर के सामान का आर्डर कर देते है और सामान घर पर पंहुचा दिया जाता है |    

6. इंटरनेट का  प्रयोग पूरे विश्व में हो रहा है, इसलिए इंटरनेट सेवाओं का लाभ कही पर भी लिया जा सकता है |   

TIKTOK MITRON & CHINGARI APP 

ई-कॉमर्स के प्रकार 

1.व्यवसाय से व्यवसाय (Business to Business E-commerce)

दो व्यवसायिक कंपनियों के बीच आपसी लेंन-देंन  से सम्बंधित है जिसमे कोई कंपनी अपना  खुद का उत्पाद ना बना कर दूसरी कंपनी से खरीद कर बेचता है उसे व्यवसाय से व्यवसाय ई-कॉमर्स या Business to Business E-commerce भी कहते है | 

2.व्यापार से उपभोक्ता (Business to Consumer E-commerce)

कंपनी अपने बनाये उत्पाद एवं सेवाएं सीधे उपभोक्ता को वेबसाइट के माध्यम से बेचता है, जिसमे उपभोक्ता उत्पाद के विषय में जानकारी लेकर उत्पाद का आर्डर करके घर में सामान प्राप्त करता है इस इलेक्ट्रानिक लेंन-देंन को  व्यापार से उपभोक्ता ई-कॉमर्स या Business to Consumer E-commerce भी कहते है, जैसे Flipkart, Amazon आदि | 

3.उपभोक्ता से उपभोक्ता (Consumer to Consumer E-commerce )

दो उपभोक्ताओं के बीच सेवाओं और सुविधाएं का इलेक्ट्रानिक लेंन-देंन किसी तीसरे पक्ष के माध्यम से किया जाता है, जिसमे एक उपभोक्ता सामान बेचता है और दूसरा खरीदता है जैसे olx ,Quicker, eBay आदि, इसे  उपभोक्ता से उपभोक्ता ई-कॉमर्स  या Consumer to Consumer E-commerce  भी कहते है |

4. उपभोक्ता से व्यवसाय (Consumer to Business E-commerce)

यह इलेक्ट्रानिक लेन-देन व्यापार से उपभोक्ता ( B2C) का विपरीत है,  इसमे उपभोक्ता और व्यवसाय के बीच आपसी  लेन-देन होता है, जब एक उपभोक्ता को  वेबसाइट बनाने के लिए ऑनलाइन आवश्यकता होती है तथा दूसरी कंपनी उपभोक्ता के लिए वेबसाइट बनाकर देती है इसे उपभोक्ता से व्यवसाय या Consumer to Business E-commerce कहते है |

5. व्यवसाय से प्रशासन (Business To Government E-commerce)  

कंपनियों तथा प्रशासन के बीच सभी ऑनलाइन लेंन-देंन शामिल होते है इस ई-कॉमर्स में विभिन्न प्रकार की सेवाएं जैसे सामाजिक सुरक्षा,  वित्तीय, रोजगार, कानूनी दस्तावेज और रजिस्ट्रार आदि अधिक मात्रा में शामिल हैं,  इस प्रकार के लेंन-देंन को व्यवसाय से प्रशासन या Business To Government E-commerce  कहते है |

6. उपभोक्ता-से-प्रशासन (Consumer To Government E-commerce) 

इस ई-कॉमर्स के अंतर्गत उपभोक्ता और प्रशासन के बीच किए गए सभी इलेक्ट्रॉनिक लेन-देन सम्मिलित होते हैं, जैसे कर का भुगतान, स्वास्थ्य सेवाओं का भुगतान तथा दूरस्थ शिक्षा प्राप्त करना आदि , इस प्रकार के लेंन-देंन को उपभोक्ता से प्रशासन  या Consumer To Government E-Commerce  कहते है |

आरोग्य सेतु ऐप क्या है

यहाँ आपको ई-कॉमर्स (E-commerce) के विषय में जानकारी से अवगत कराया गया है |  अब आशा है कि आप इस जानकारी से संतुष्ट होंगे, यदि आप इससे संबंधित अन्य किसी जानकारी को प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करके अपना सुझाव दे, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही उत्तर देने का प्रयास किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

भारत के सबसे अमीर व्यक्तियों की सूची

Leave a Comment