Mission Shakti (मिशन शक्ति) क्या है

Mission Shakti Campaign In Hindi- देश के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले राज्य उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों की अपेक्षा यहाँ महिलाओं और लड़कियों के साथ उत्पीड़न के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे है | सबसे बड़ा प्रदेश और अधिक घनत्व होने के कारण छोटे-छोटे प्रदेश में आज भी रोज कहीं न कहीं महिलाओं पर अत्याचार होता रहता है | अभी कुछ समय पूर्व हुए हाथरस केस, बलरामपुर की घटनाओं नें यह सिद्ध कर दिया है, कि उत्तर प्रदेश में महिलाएं और बालिकाएं  सुरक्षित नहीं है |

Mission Shakti 3.0 Updates

21 अगस्त ठीक रक्षाबंधन से एक दिन पहले उत्तर प्रदेश सरकार मिशन शक्ति का तीसरा चरण यानी मिशन शक्ति 3.0 की शुरुआत करने जा रही है जिसके तहत मुख्यमंत्री योगी निराश्रित महिला पेंशन योजना के तहत 29.68 लाख महिलाओं के खातों में 451 करोड़ रुपये व 1.55 लाख बेटियों के खातों में ट्रांसफर होंगे 30.12 करोड़ रुपये की भारी राशि जारी करेगे |

इस प्रकार की बढ़ती हुई घटनाओं पर अंकुश लगानें के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार नें एक बड़ा कदम उठाते हुए मिशन शक्ति अभियान की शुरुआत की है | तो आईये जानते है, कि आखिर मिशन शक्ति अभियान, इसका उद्देश्य और इस अभियान के बारें में पूरी जानकारी |        

जुवेनाइल एक्ट (Juvenile Act) क्या होता है

मिशन शक्ति अभियान क्या है (What  Is Mission Shakti Abhiyan)

उत्तर प्रदेश में महिला की सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवालों को बीच यूपी सरकार नें मिशन शक्ति अभियान की शुरूआत की है | यह अभियान शारदीय नवरात्रि के पहले दिन से शुरू किया गया है और यह अभियान बासंतिक नवरात्र अर्थात अप्रैल 2021 तक चलाया जाएगा | इस अभियान के अंतर्गत महिलाओं, बालिकाओं और बच्चों को जागरूक किया जायेगा, इसके साथ ही इस अभियान को हर महीने अलग अलग थीम के साथ आयोजित किया जायेगा, ताकि लोगों में जागरूकता बढ़े और लोग इस अभियान में बढ़ चढ़ कर भाग ले |

मुख्यमंत्री योगी जी नें अभियान का शुभारंभ करते हुए कहा, कि नारी ‘शक्ति’ की प्रतीक है और हमारी सनातन परंपरा में नारी पूजनीय है, वंदनीय है। इसके साथ ही योगी जी नें कहा कि इस अभियान के अंतर्गत प्रदेश भर में मनचलों, शोहदों तथा महिलाओं के साथ अत्याचार करनें वाले लोगों को चिह्नित कर उनकी धरपकड़ की जाएगी, इसके साथ ही महिलाओं और लड़कियों के साथ अपराध करनें वाले दोषियों की तस्वीर चौराहों पर लगाई जाएगी | उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध के दोषियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर शीघ्र ही कठोर सजा दिलाई जाएगी |

ई लोक अदालत क्या है

मिशन शक्ति अभियान का उद्देश्य (Objective Of Mission Shakti Abhiyan)

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाये गये मिशन शक्ति अभियान का उद्देश्य महिलाओं तथा बालिकाओं में जन जागरूकता पैदा करना, स्वावलंबी बनाना, उनके प्रति हिंसा करने वाले लोगों की पहचान उजागर करना, उनमें सुरक्षित परिवेश की अनुभूति कराना है| मिशन के अंतर्गत महिलाओं और बच्चों से संबंधित मुद्दों पर जागरूक करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है | महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा सम्मान एवं स्वावलंबन के लिए शासन द्वारा इस अभियान के अंतर्गत कई प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा |

Official Secrets Act in Hindi

मिशन शक्ति अभियान के चरण (Stages Of Mission Shakti Abhiyan)

मिशन शक्ति अभियान तीन चरणों में 6 माह अर्थात 180 दिन तक चलेगा | हालाँकि शुरुआत में यह अभियान 17 से 25 अक्टूबर तक चलाया जा चुका है, इसके बाद अप्रैल तक हर महीने एक सप्ताह तक यह अभियान चलेगा | इस दौरान अनेक प्रकार के विशिष्ट कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा | इसमें सामाजिक संगठन, महिला संगठनों, मीडिया और जागरूक समाज सेवियों की समिति बनाकर रोल मॉडल का चयन किया जाएगा। हर जिले से 100 रोल माडल का चयन होगा |

बन्दी प्रत्यक्षीकरण क्या है

मिशन शक्ति अभियान की विशेषताएं (Features Of Mission Shakti Abhiyan)

  • इस अभियान के तहत महिलाओं और बालिकाओं से सम्बंधित जो भी केस न्यायालय में जायेंगे, उन्हें फ़ास्ट ट्रैक के तहत उनकी सुनवाई अतिशीघ्रता से की जाएगी |
  • अभियान के तहत रेप केस को सबसे पहले प्राथमिकता दी जाएगी और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी | सरकार नें यह भी स्पष्ट किया है, कि बलात्कार के दोषियों को किसी भी स्थिति में नहीं छोड़ा जायेगा और ना ही उनके साथ किसी तरह से सहानुभूति दिखाई जाएगी |    
  • मिशन शक्ति अभियान से कई विभागों को भी जोड़ा जायेगा, जिसमें अभी 24 विभाग चुने गए है, जो सरकारी या स्थानीय या अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर सामाजिक संघटन होंगें |
  • महिलाओं के साथ अपराध करनें वाले व्यक्ति का अपराध सिद्ध हो जानें पर उसकी तस्वीर सभी चौराहों पर लगायी जाएगी, ताकि अपराधी कौन है, इसके बारें में सभी को जानकरी हो सके |
  • अभियान के तहत पुलिस जगह-जगह मनचलों और शोहदों की धरपकड़ कर उन्हें कड़ी से कड़ी सजा देगी |
  • यूपी के सभी पुलिस थानों में महिलाओं के लिए एक अलग से कमरे में हेल्पडेस्क होगा, जहाँ महिलाओं से पूछताछ के लिए अधिकारी और सिपाही भी महिला होगी |

संवैधानिक पीठ क्या होता है

मिशन शक्ति अभियान कार्य कैसे करेगा (How will Mission Shakti Campaign Work)

  • अभियान के तहत पुलिस अपनें क्षेत्र में मिशन शक्ति की जीप या दोपहिया वाहन से महिला पुलिस अधिकारी स्वयं जाकर स्थिति का जायजा लेने के साथ ही मनचलों, शोहदों की धर पकड़ करेंगी |
  • मिशन शक्ति अभियान की शुरुवात के समय पुलिस अधिकारीयों ने एक वाहन को मिशन शक्ति अभियान के जागरूक रथ के रूप में तैयार किया है, जो जगह जगह जाकर लोगों में अभियान के बारे जानकारी देकर उनमे जागरूकता फैलानें का कार्य करेगा |
  • इस अभियान के तहत कुछ महिला पुलिस कर्मी पिंक कलर की स्कूटी में अपनें क्षेत्रों में जगह-जगह जाकर लोगो को जागरूक करनें का कार्य करेंगी |

पुनर्विचार याचिका या क्यूरेटिव पेटिशन क्या है

यहाँ आपको Mission Shakti (मिशन शक्ति) के विषय में जानकारी दी गई है | अब उम्मीद करता हूँ आपको जानकारी जरूर पसंद आयी होगी | यदि आप इससे रिलेटेड अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करके पूंछ सकते है | आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही जवाब देने का प्रयास किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

भारतीय संविधान क्या है?

Leave a Comment