नगर निगम क्या है

74वें संविधान संशोधन द्वारा शहरी स्थानीय निकाय (Urban Local Bodies) को एक संविधानिक दर्जा दिया गया है जिसे नगरपालिका (THE MUNICIPALITIES) के रूप में भी जाना जाता है | शहरी स्थानीय प्रशासन को तीन स्तर पर विभाजित किया गया जिसमे नगर पंचायत, नगरपालिका परिषद और नगर निगम के नाम से जाना जाता है | आज इस लेख के माध्यम से नगर निगम क्या है, इसका गठन व चुनाव प्रक्रिया क्या है और साथ इसके कार्य व नगर के मुखिया के बारे में बात करेंगे|

संविधान की 9वीं सूची में इसे जोड़ा गया है और नगर निगम को शहरी क्षेत्र के रूपमें परिभाषित किया जाता है, इसका गठन भी प्रत्यक्ष रूप से किया जाता है जिसके सदस्यों का चयन निर्वाचन क्षेत्र के सदस्य द्वारा किया जाता है |

नगर पंचायत क्या होती है

नगर निगम (Municipal Corporation) किसे कहते है

नगरपालिका के सबसे ऊपर स्तर के शासन को नगर निगम कहा जाता है | यह शहरी स्थानीय शासन का एक कानूनी नाम है | यदि किसी शहरी क्षेत्रो में जनसंख्या या आबादी 10 लाख अथवा 1 मिलियन से ज्यादा है तो उसे नगर निगम घोषित कर दिया जाता है | इसी प्रकार इससे छोटे स्तर के शहर को नगरपालिका परिषद कहा जाता है और उससे भी छोटे क्षेत्र जहाँ जनसँख्या बहुत ही कम है और वह ग्राम से शहर के रूप में विकसित हो रहा है, उसे नगर पंचायत (Municipal Corporation) कहते है | सभी महानगर या मेट्रो सिटी नगर निगम ही है क्योंकि यहाँ जनसँख्या 10 लाख से ज्यादा है |

पंचायती राज क्या है

नगर निगम के कार्य

नगर निगम प्रशासन के रूप में अपने क्षेत्र के नागरिकों को बेहतर और प्रभावी नागरिक सुविधाएँ उपलब्ध कराती है | नगर निगम के विकास के रूप में विभिन्न प्रकार की सेवाए देता है और नागरिको को इसके सालन शुल्क भी जमा करना होता है जैसे हाउस टैक्स, वाटर टैक्स, सफाई कर आदि और बर्थ सर्टिफिकेट, डेथ सर्टिफिकेट की भी सेवाए मुहैया कराता है | आइए नगर निगम के कार्य के बारे में जानते है:-

ग्राम सभा और ग्राम पंचायत किसे कहते है

नगरपालिका नागरिक अधिकार पत्र (म्‍यूनिसिपल सिटीजन चार्टर)

1सार्वजनिक सड़कों और नालियों की सफाई |            
2सार्वजनिक शौचालयों मूत्रालयों की सफाई एवं रख रखाव |
3कूड़ा का एकत्रीकरण एवं परिवहन, और निस्तारण |
4मृत पशुओं के शवों का निस्तारण|
5नगर स्वच्छ रखने के अन्य उपाय।
6गन्‍दे जल कानिस्तारण का कार्य ।
7जन्म- मृत्यु पंजीकरण |
8शवों के निस्तारण हेतु निर्धारित स्थानों का विनियमन |
9संक्रमण रोगों की रोकथाम के उपाय |
10स्वास्थ्य के लिये हानिकारण व्यवसायों पर नियंत्रण |
11आवारा पशुओं को पकड़ना |
12पालतू कुत्तों की लाइसेंसिंग |
13उपविधियों के अधीन अथवा अन्य लाइसेन्स घरेलू कार्यो हेतु स्वच्छ, पेयजल की आपूर्ति |
14गैर घरेलू कार्यों हेतु जलापूर्ति |
15वाणिज्यिक एवं औद्योगिक कार्यो हेतु जलापूर्ति |
16जलकल का संचालन, एवं रख रखाव |
17जलकल संबंधी राजस्व संग्रह |
18नया जल संयोजन |
19अवैध जल संयोजन का विच्छेदन अथवा नियमितीकरण |
20सड़कों का निर्माण तथा उनकी मरम्मत |
21जल भराव अथवा अन्य कारणो से बने गड्ढों की मरम्मत तथा पैच रिपेयर |
22विद्यमान सड़कों का सुधार एवं चौड़ीकरण |
23निजी सड़को के निर्माण की स्वीकृति |
24फुटपाथ का निर्माण, रख रखाव एवं मरम्मत |
25सार्वजनिक मार्गो पर होने वाले अवरोधों का हटाना |
26नाले नालियों का निर्माण और मरम्मत |
27नालों की सफाई (डिशिल्टिंग) |
28जल निकासी में आने वाले अवरोधो को हटाना |
29जल निकासी हेतु पम्प की स्थापना और संचालन |
30जल भवराव  से बचाव के लिए कार्ययोजना बनाना |
31सार्वजनिक मार्गो , सड़को, गलियों, नाले नालियों पर से अतिक्रमण हटाया जाना |
32निकाय की सम्पत्तियों एवं भूमि आदि पर से अतिक्रमण हटाया जाना |
33अविकसित उद्यानों का विकसित किया जाना।
34विकसित उद्यान का रख रखाव |
35पर्यावरण संरक्षण |
36नगरपालिका द्वारा अपने कर्मचारियों के माध्यम से पार्किगं स्थलों का विनियमन किया जाना |
37पार्किग स्थलों का निविदा आधारित ठेका दे कर पार्किंग का विनियमन और नियंत्रण करना।

ग्राम प्रधान (GRAM PRADHAN) कैसे बने?

नगर निगम का गठन व चुनाव प्रक्रिया

  • नगरपालिका व्यवस्था में नगर निगम का चुनाव प्रत्यक्ष रूप से कराया जाता है |
  • नगरपालिका क्षेत्र वार्डो में विभाजित है और प्रत्येक वार्ड से एक प्रतिनिधि प्रत्यक्ष चुनाव से चयनित किया जाता है |
  • वार्डो से चयनित प्रतिनिधि को सभासद या पार्षद कहते है|
  • नगरपालिका के सभी वार्डो के सभासद अपने में सर्वसम्मति से महापौर या मेयर का चुनाव करते है |
  • महापौर का चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से किया जाता है |
  • नगरपालिका समिति में सभी सभासद और अध्यक्ष होते है |

नगर निगम चुनाव लड़ने के लिए योग्यता

  • इच्छुक व्यक्ति भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • उसकी उम्र 21 साल की हो चुकी हो।
  • उसका नाम वार्ड की निर्वाचक नामावली में होना चाहिए |
  • चुनाव के लिए पहले कभी भी अयोग्य घोषित नहीं किया गया हो।
  • वह किसी भी नगर निगम का कर्मचारी नहीं होना चाहिए।

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना क्या है

उम्मीद है कि आपको नगर निगम के बारे में काफी कुछ जानकारी सही दिशा में प्राप्त हुई होगी, लेख अच्छा लगे तो आगे जरूर शेयर करे |

ई ग्राम पंचायत पोर्टल क्या है

Leave a Comment